Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाजजिम के लिए पैसे ऐंठे, धर्मांतरण कर 'ज़ोया खान' बनाने के भी आरोप: नगरपालिका...

जिम के लिए पैसे ऐंठे, धर्मांतरण कर ‘ज़ोया खान’ बनाने के भी आरोप: नगरपालिका कर्मचारी नंदिनी तोमर की मिली थी लाश, पड़ोसी तौफीक गिरफ्तार

37 वर्षीय मृतका नंदिनी तोमर की बड़ी बहन की शिकायत पर पुलिस ने इस मामले की FIR दर्ज की। वो शासकीय क्वार्टर में रहती थी। 2013 में अनुकंपा के तहत पिता की नौकरी नंदिनी को मिली थी।

एक और हिन्दू महिला को ‘लव जिहाद’ के कारण अपनी जान गँवानी पड़ी। ताज़ा मामला मध्य प्रदेश के भिंड का है। 2 महीने पहले नंदिनी तोमर नामक युवती की आत्महत्या की खबर आई थी। वो नगरपालिका में कर्मचारी थीं। तौफीक खान ने प्यार का नाटक कर के जिम के लिए उससे रुपए ऐंठे। आरोप है कि यहाँ तक कि वोटर आईडी कार्ड में उसका नाम बदलवा कर ज़ोया खान करवा दिया। लेकिन, जब युवती ने शादी की बात की तो तौफीक खान मुकर गया।

आरोप तो ये भी है कि नाम बदलने का कारण ये था कि आरोपित ने युवती का धर्म-परिवर्तन करा कर उसे मुस्लिम बना दिया, फिर छोड़ दिया। हालाँकि, पुलिस ने वोटर आईडी कार्ड को फेक बताया है। 5 जून, 2022 को नंदिनी तोमर की लाश संदिग्ध अवस्था में मिली। तभी उनकी बहन ने तौफीक खान पर आरोप लगाए थे। वो उनके घर के सामने ही रहता था। उससे रुपए ऐंठ कर तौफीक खान ने जिम खोला। पीड़ित परिवार का कहना है कि जब नंदिनी तोमर ने अपने रुपए वापस माँगे, तब तौफीक ने उसे प्रताड़ित करना शुरू कर दिया।

37 वर्षीय नंदिनी तोमर की बड़ी बहन की शिकायत पर पुलिस ने इस मामले की FIR दर्ज की। वो शासकीय क्वार्टर में रहती थी। 2013 में अनुकंपा के तहत पिता की नौकरी नंदिनी को मिली थी। पुलिस का कहना है कि परिजनों ने बताया कि रुपए न मिलने पर परेशान होकर फाँसी लगा कर नंदिनी तोमर ने आत्महत्या की। नंदिनी तोमर के गले में दुपट्टा पड़ा हुआ था। पड़ोसियों की सूचना के बाद छत से घर में जाकर परिजनों ने पुलिस के साथ दरवाजा तोड़ा, तब उसकी लाश जमीन पर पड़ी दिखी।

हिन्दू संगठनों ने तौफीक खान के जिम ‘द फिटनेस सेंटर’ के बाहर भी विरोध प्रदर्शन किया। भिंड के लहार चौराहे पर करणी सेना के नेतृत्व में सैकड़ों लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया। हाइवे पर चक्का जाम भी किया गया, जिसके बाद पुलिस की तैनाती बढ़ा दी गई। पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच धक्कामुक्की भी हुई। ‘बजरंग दल’ के कार्यकर्ता भी विरोध प्रदर्शन का हिस्सा रहे। अब आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है। हालाँकि, मध्य प्रदेश पुलिस ने इसे ‘लव जिहाद’ का मामला मानने से इनकार किया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कहीं खुशी कहीं गम: बजट 2024-25 का इन सामानों पर पड़ा सीधा असर, जानिए क्या हुआ सस्ता और क्या हुआ महँगा

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा पेश किए गए वित्त वर्ष 2024-25 के बजट में क्या महँगा हुआ और कहा सस्ता हुआ, जानिए।

नेचुरल फार्मिंग क्या है, बजट में क्यों इसे 1 करोड़ किसानों से जोड़ने का ऐलान: गोबर-गोमूत्र के इस्तेमाल से बढ़ेगी किसानों की आय

प्राकृतिक खेती एक रसायनमुक्त व्यवस्था है जिसमें प्राकृतिक संसाधनों का इस्तेमाल किया जाता है, जो फसलों, पेड़ों और पशुधन को एकीकृत करती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -