Wednesday, July 24, 2024
Homeदेश-समाजबिहार में ब्लास्ट के बाद गिरी ईंट भट्ठे की चिमनी, मालिक इरशाद समेत 9...

बिहार में ब्लास्ट के बाद गिरी ईंट भट्ठे की चिमनी, मालिक इरशाद समेत 9 की मौत, 16 घायल: PM मोदी ने जताया दुख, ₹2 लाख मुआवजे की घोषणा

ईंट भट्ठे की चिमनी करीब 100 फीट ऊँचा था, जिसमें से आधा टूट कर 50 फीट दूर तक जा गिरा है। लोगों का कहना है कि चिमनी में विस्फोट हुआ और वह भरभरा कर गिर गया। ईंट फैक्ट्री शुक्रवार (23 दिसंबर 2022) से ही शुरू की गयी थी। लोगों का कहना है कि ईंट पकाने की शुरुआत करने से पहले चिमनी की जाँच नहीं की गयी थी। धुएँ के प्रेशर के बाद इसमें धमाका हो गया।

बिहार के पूर्वी चंपारण में शुक्रवार (23 दिसंबर 2022) की शाम को ईंट भट्ठे की चिमनी गिरने से अब तक 9 लोगों के मरने की खबर सामने आई है। इस घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने दुख जताया है। उन्होंने राष्ट्रीय आपदा राहत कोष से मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपए देने की घोषणा की है।

मोतिहारी के रामगढ़वा इलाके में एक ईंट भट्ठे की चिमनी गिर गई। जिस वक्त यह दुर्घटना हुई, उस वक्त लोग वहाँ 50 से अधिक लोग थे। चिमनी गिरने से दर्जनों लोग उसमें दब गए। घटना की जानकारी मिलते ही जिला प्रशासन मौके पर पहुँचा और देर रात तक 8 शवों को मलबे से निकाला। रात में कोहरे और अंधेरा होने कारण बचाव कार्य रूक गया था। अगले दिन एक और व्यक्ति ने दम तोड़ दिया।

कहा जा रहा है कि इस हादसे में 2 दर्जन से अधिक लोगों के दबे होने की आशंका है। वहीं, गंभीर रूप से घायल 16 लोगों को इलाज के लिए रक्सौल के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। लोगों का कहना है कि विस्फोट की आवाज बहुत दूर तक सुनाई दी। आवाज सुनते ही इलाके में भगदड़ मच गई। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा, “मोतिहारी में एक ईंट भट्ठे में हुए हादसे में लोगों की मौत से व्यथित हूँ। शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना और घायलों के लिए प्रार्थना करता हूँ। PMNRF से 2 लाख रुपए अनुग्रह राशि के रूप में प्रत्येक मृतक के परिजनों को दिए जाएँगे। वहीं, घायलों को 50,000 रुपए दिए जाएँगे।”

बताया जाता है कि रामगढ़वा प्रखंड के नारीरगिर गाँव के सरेह में तीन साझेदार मिलकर चिमनी चलाते हैं। दोपहर के बाद से चिमनी के नीचे पकाने के लिए कच्चे ईंटों को लगाया जा रहा था। इस दौरान दर्जनों मजदूर काम कर रहे थे। इस दौरान चिमनी ब्लास्ट कर गिर गया। इकस दौरान दो पार्टनर मोहम्मद इरशाद और नुरुल हक वहाँ मौजूद थे। इसमें से इरशाद की भी मौत हो गई है।

ईंट भट्ठे की चिमनी करीब 100 फीट ऊँचा था, जिसमें से आधा टूट कर 50 फीट दूर तक जा गिरा है। लोगों का कहना है कि चिमनी में विस्फोट हुआ और वह भरभरा कर गिर गया। ईंट फैक्ट्री शुक्रवार (23 दिसंबर 2022) से ही शुरू की गयी थी। लोगों का कहना है कि ईंट पकाने की शुरुआत करने से पहले चिमनी की जाँच नहीं की गयी थी। धुएँ के प्रेशर के बाद इसमें धमाका हो गया।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

औरतें और बच्चियाँ सेक्स का खिलौना नहीं… कट्टर इस्लामी मानसिकता पर बैन लगाओ, OpIndia पर नहीं: हज पर यौन शोषण की खबरें 100% सच

हज पर मुस्लिम महिलाओं और बच्चियों का यौन शोषण होता है, यह खबर 100% सत्य है। BBC, Washington Post और अरब देश की मीडिया में भी यह छपा है।

‘मेरे बेटे को मार डाला’: आधुनिक पश्चिमी सभ्यता ने दुनिया के सबसे अमीर शख्स को भी दे दिया ऐसा दर्द, कहा – Woke वाले...

लिंग-परिवर्तन कराने वाले को उसके पुराने नाम से पुकारना 'Deadnaming' कहलाता है। उन्होंने कहा कि इसका अर्थ है कि उनका बेटा मर चुका है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -