मुजफ्फरपुर शेल्टर होम पीड़िता के साथ गैंगरेप, अगवा कर 4 ने बनाया हवस का शिकार

पीड़िता की हालत गंभीर बताई जा रही है। पुलिस मामले की जॉंच में जुटी है। फिलहाल सभी आरोपी गिरफ्त से बाहर हैं। आरोपितों में से दो सगे भाई हैं। दुष्कर्म के बाद पीड़िता को मुॅंह बंद रखने की धमकी भी दी गई।

मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड की एक पीड़ित लड़की का अपहरण कर गैंगरेप करने का मामला सामने आया है। पीड़िता ने गैंगरेप का आरोप दो सगे भाइयों समेत 4 पर लगाया है। घटना बेतिया के नगर थाना इलाके की है। पीड़िता का आरोप है कि आरोपितों ने उसे अगवा कर चलती गाड़ी में गैंगरेप किया। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस नगर थाना में प्राथमिकी दर्ज कर मामले की जाँच में जुट गई है।

खबर के मुताबिक, वह कोतवाली चौक स्थित अपनी भाभी के घर जा रही थी। इसी दौरान कार सवार चार दरिंदे आए और उसे गाड़ी में जबरन बैठा लिया। सभी आरोपितों ने अपने चेहरे ढँक रखे थे। लेकिन पीड़िता ने दो का नकाब उतार दिया और उनको पहचान लिया है। पीड़ि‍ता ने बताया कि उसके साथ चलती गाड़ी में भी रेप किया गया, फिर उनलोगों ने संतघाट नहर के पास दोबारा घिनौनी घटना को अंजाम दिया। इसके बाद दरिंदों ने उसे उसके मोहल्ले में लाकर छोड़ दिया।

दुष्कर्मियों ने गैंगरेप के बाद पीड़िता को धमकी भी दी थी। लेकिन पीड़िता ने हिम्मत दिखाते हुए पुलिस से शिकायत की। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जाँच शुरू कर दी है। फिलहाल, किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

वहीं गैंगरेप के बाद पीड़िता का गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज के आईसीयू वार्ड में इलाज चल रहा है। लड़की की स्थिति चिंताजनक बताई जा रही है। घटना की सूचना पर नगर थानाध्यक्ष शशिभूषण ठाकुर, महिला थानाध्यक्ष पूनम कुमारी अस्पताल में पहुँचकर मामले की जाँच में जुटे हैं।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

इमरान ख़ान, रवीश कुमार
रवीश ने कही, इमरान ने सुनी। रवीश की सलाह इमरान ने मानी। अब इमरान ख़ान न अख़बार पढ़ेंगे और न ही टीवी देखेंगे। उन्होंने न्यूज़ शो देखना बंद कर दिया है। रवीश लगातार अपने 'प्राइम टाइम' में कहते हैं कि टीवी न देखें और अख़बार न पढ़ें। उन्हीं अख़बारों की ख़बर वो शेयर भी करते हैं।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

143,993फैंसलाइक करें
36,108फॉलोवर्सफॉलो करें
164,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: