Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजतेलंगाना का ईसाई दंपती, बिहार के एक गाँव में करवा रहे थे प्रार्थना: ग्रामीणों...

तेलंगाना का ईसाई दंपती, बिहार के एक गाँव में करवा रहे थे प्रार्थना: ग्रामीणों ने बनाया बंधक, पासवान टोले में लालच दे धर्मांतरण का आरोप

तेलंगाना के दंपती ने बताया कि वे क्रिसमस पर समस्तीपुर चर्च में प्रार्थना के लिए आए थे। इसी दौरान स्थानीय लोगों ने उनसे अपने गाँव में आने का अनुरोध किया था। इनलोगों के पास से ईसाइयत से जुड़ा पर्चा और किताब भी बरामद होने की बात की जा रही है।

बिहार के समस्तीपुर जिले के एक गाँव में सोमवार (26 दिसंबर 2022) को ग्रामीणों ने तेलंगाना के एक दंपती को बंधक बना लिया। ग्रामीणों और हिंदू संगठनों ने इन पर लालच देकर लोगों को धर्मांतरित करने की कोशिश का आरोप लगाया है। हालाँकि इस संबंध में पुलिस से किसी तरह की शिकायत किए जाने की सूचना नहीं है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक घटना वैनी ओपी की चकले वैनी पंचायत के वार्ड-11 स्थित पासवान टोले की है। यहाँ की एक स्थानीय महिला पर आरोप है कि उसने तेलंगाना के एक दंपती को बुलवाकर प्रार्थना सभा आयोजित करवाई। इसकी जानकारी जैसे ही हिंदू संगठनों को हुई वे बस्ती में पहुँच गए। कार्यक्रम का विरोध किया। कुछ समय बाद स्थानीय ग्रामीण भी विरोध में जुट गए। करीब 10 लोगों को ग्रामीणों ने घेर लिया।

जिस दंपती को बंधक बनाया गया था उन्होंने अपनी पहचान तेलंगाना के जागा लक्ष्मण राव और ललिता के तौर पर बताई। मुख्य आरोपित आंध्र प्रदेश का 55 वर्षीय एसुबा बताया जा रहा है। एक रिपोर्ट के मुताबिक घर के अंदर चल रही प्रार्थना सभा में पानवा देवी, जयनारायण आदि भी मौजूद थे। इस घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में एक कोट-पैंट पहने व्यक्ति को कुछ लोगों ने घेर रखा है।

मिली जानकारी के मुताबिक हंगामे की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुँची। पुलिस ने भीड़ से कुल 10 लोगों को बाहर निकाला। इनमें 3 महिलाएँ, 2 पुरुष और अन्य बच्चे थे। तेलंगाना के दंपती ने बताया कि वे क्रिसमस पर समस्तीपुर चर्च में प्रार्थना के लिए आए थे। इसी दौरान स्थानीय लोगों ने उनसे अपने गाँव में आने का अनुरोध किया था। इनलोगों के पास से ईसाइयत से जुड़ा पर्चा और किताब भी बरामद होने की बात की जा रही है। बताया जा रहा है कि पुलिस को अभी तक मामले में कोई शिकायत नहीं मिली है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘वनवासी महिलाओं से कर रहे निकाह, 123% बढ़ी मुस्लिम आबादी’: भाजपा सांसद ने झारखंड में NRC के लिए उठाई माँग, बोले – खाली हो...

लोकसभा में बोलते हुए सांसद निशिकांत दुबे ने कहा, विपक्ष हमेशा यही बोलता रहता है संविधान खतरे में है पर सच तो ये है संविधान नहीं, इनकी राजनीति खतरे में है।

देशद्रोही, पंजाब का सबसे भ्रष्ट आदमी, MeToo का केस… खालिस्तानी अमृतपाल का समर्थन करने वाले चन्नी की रवनीत बिट्टू ने उड़ाई धज्जियाँ, गिरिराज बोले...

रवनीत सिंह बिट्टू ने कहा कि एक पूर्व मुख्यमंत्री देशद्रोही की तरह व्यवहार कर रहा है, देश को गुमराह कर रहा है। गिरिराज सिंह बोले - ये देश की संप्रभुता पर हमला।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -