Thursday, July 29, 2021
Homeदेश-समाजआदिल और शादाब ने माथे पर लगाया टीका, फिर हनुमान मंदिर में की तोड़-फोड़:...

आदिल और शादाब ने माथे पर लगाया टीका, फिर हनुमान मंदिर में की तोड़-फोड़: इलाके में तनाव

"दोनों युवक स्कूली छात्राओं के साथ रोज मंदिर आते थे और माथे पर टीका लगाकर हिन्दू लड़कियों को अपने प्रेम जाल में फँसाते थे। कुछ दिनों पहले मंदिर में माँस भी फ़ेका गया था, जिसके लिए इन दोनों युवकों को ही..."

उत्तर प्रदेश के बिजनौर ज़िले में पंचमुखी हनुमान मंदिर में मुस्लिम समुदाय के आदिल और शादाब नाम के दो युवकों द्वारा तोड़-फोड़ की ख़बर सामने आई है। इस दौरान उन दोनों को लोगों ने पकड़ लिया। मामले की सूचना मिलने पर एसपी कई थानों की पुलिस के साथ मंदिर पहुँचे, जिसके बाद आदिल और शादाब को हिरासत में ले लिया गया। इलाक़े में तनाव की स्थिति से निपटने के लिए भारी मात्रा में पुलिस बल तैनात किया गया है। फ़िलहाल, हल्दौर पुलिस में दोनों युवकों से पूछताछ जारी है।

बिजनौर के राम चौराहे पर स्थित पंचमुखी हनुमान मंदिर की कमिटी ने बुधवार (31 जुलाई 2019) को सुबह मुस्लिम समुदाय के दो युवकों को उस समय रंगे हाथों पकड़ लिया, जब दोनों माथे पर टीका लगा मंदिर में घुस गए और वहाँ की मूर्तियों को तोड़ने लगे। इस दौरान मूर्तियों के टूटने की आवाज़ें बाहर आ रही थीं। तभी लोगों ने मौक़े पर पहुँचकर दोनों युवकों को रंगे हाथों पकड़ लिया। लोगों का कहना है कि मुस्लिम समुदाय के दोनों युवकों ने माथे पर टीका लगा रखा था, जिससे उन पर कोई शक़ न करे कि वो हिन्दू नहीं हैं।

मंदिर कमिटी की शिक़ायत पर घटना स्थल पर पहुँची पुलिस ने दोनों आरोपितों को हिरासत में ले लिया। इस घटना से मंदिर के आसपास लोगों की काफ़ी तादाद में भीड़ इकट्ठी हो गई। लोगों का कहना है कि कुछ दिनों पहले मंदिर में माँस भी फ़ेका गया था, जिसके लिए इन दोनों युवकों को ही दोषी ठहराया गया था। लेकिन, किसी तरह का तनाव उत्पन्न न हो इसलिए मंदिर कमिटी ने इस बात को दबा दिया था। लेकिन, अब यह मामला मंदिर में घुसकर मूर्तियों को खंडित करने का है, जिसे किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जा सकता।

ख़बर में इस बात का भी उल्लेख है कि दोनों युवक ईंट और पत्थर से भवानी माँ की मूर्ति को खंडित कर रहे थे। इस घटना से इलाक़े में भारी तनाव हो गया है, हिन्दू धर्म के लोग काफ़ी आहत हैं।

घटना की सूचना जब सदर एसडीएम सदर को मिली तो उन्होंने भी मौक़े पर पहुँचकर मुआयना किया। सदर एसडीएम और पुलिस क्षेत्राधिकारी ने मुआयने के बाद खंडित मूर्तियों का निरीक्षण कर दोनों युवकों को पुलिस हिरासत में भेज दिया।

ख़बर के अनुसार, एसपी बिजनौर संजीव त्यागी ने बताया कि मंदिर कमिटी ने मूर्ति खंडित करने के अलावा हिन्दू लड़कियों को प्रेमजाल में फँसाने का भी आरोप लगाया है। उन्होंने पुलिस को बताया कि दोनों युवक स्कूली छात्राओं के साथ रोज मंदिर आते थे और माथे पर टीका लगाकर हिन्दू लड़कियों को अपने प्रेम जाल में फँसाते थे।

पुलिस की जाँच में पता चला है कि दोनों युवकों ने हिन्दू नाम से मंदिर में प्रवेश किया था और इस दौरान दोनों के साथ दो छात्राएँ भी थीं। मंदिर कमिटी पदाधिकारी अखिल कुमार अग्रवाल ने दोनों युवकों के ख़िलाफ़ मूर्ति खंडित करने की जानकारी दी। शहर कोतवाल आरसी शर्मा के अनुसार, आरोपित शहर के मोहल्ला मिर्दगान निवासी आदिल पुत्र राशिद और मोहल्ला कस्साबान निवासी शादाब पुत्र यासीन के ख़िलाफ़ तहरीर मिली है। फ़िलहाल, पुलिस मामले की जाँच में जुटी हुई है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

झारखंड: दिनदहाड़े खुली सड़क पर जज की हत्या, पोस्‍टमॉर्टम र‍िपोर्ट में हथौड़े से मारने के म‍िले न‍िशान, देखें Video

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में जज के सिर पर हथौड़े से मारने वाले निशान पाए गए हैं। इसके अलावा जिस ऑटो ने उन्हें टक्कर मारी वह भी चोरी का था।

रंजनगाँव का गणपति मंदिर: गणेश जी ने अपने पिता को दिया था युद्ध में विजय का आशीर्वाद, अष्टविनायकों में से एक

पुणे के इस स्थान पर भगवान गणेश ने अपनी पिता की उपासना से प्रसन्न होकर उन्हें दर्शन दिया था। इसके बाद भगवान शिव ने...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,723FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe