Tuesday, July 16, 2024
Homeदेश-समाज'गुंडे भेज तेरी माँ-बहन को उठवा लूँगी, रेप करवाऊँगी': 'लिबरल वुमन' ने 'क्लब हाउस'...

‘गुंडे भेज तेरी माँ-बहन को उठवा लूँगी, रेप करवाऊँगी’: ‘लिबरल वुमन’ ने ‘क्लब हाउस’ पर दी गालियाँ, शिवसेना सांसद से बोले यूजर- कब होगी कार्रवाई

बीते कुछ समय से सुल्ली डील और बुल्ली बाई ऐप के बाद क्लब हाउस ऐप काफी चर्चा हो रही है। इसको लेकर खूब राजनीति भी हो रही है। मुस्लिम महिलाओं पर टिप्पणी करने वाले आरोपियों को पकड़ने के लिए कई राज्यों में पुलिस ओवरटाइम कर रही है। वहीं, सोशल मीडिया पर कई ऐसे प्लेटफॉर्म हैं

विवादित क्लब हाउस ऐप (Club House App) की एक और वॉयस चैट वायरल हुई है। इसमें खुद को लिबरल करने वाली एक महिला किसी आदमी को भद्दी-भद्दी गालियाँ देते हुए रेप और अपहरण की धमकी दे रही है। खुद को लिबरल वुमन कहने वाली महिला कहती है, “साले तेरे घर पर गुंडे भेजवाकर तेरी माँ, तेरी बहन का रेप (Rape Threat) करवाकर उन्हें उठवा लूँगी। अब बोल।” इस पर सामने वाला व्यक्ति कहता है, “देखो तुम्हारी औकात मेरे सामने खड़े होने की नहीं है।” इस वॉयस चैट को एक ट्विटर यूजर ने शेयर किया है।

ट्विटर यूजर दीपिका नारायण भारद्वाज ने शिवसेना की राज्यसभा सांसद प्रियंका चतुर्वेदी को भी टैग किया और पूछा कि क्या कोई रेप की धमकी देने वाली महिला को गिरफ्तार करने के लिए जा रहा है? यूजर ने सांसद से ये भी कहा कि कार्रवाई सेलेक्टिव नहीं होनी चाहिए।

दरअसल, क्लब हाउस चैट में मुस्लिम महिलाओं पर कथित आपत्तिजनक टिप्पणी के मामले में मुंबई पुलिस ने हरियाणा से तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। शुक्रवार (21 जनवरी 2021) को मुंबई पुलिस के अधिकारियों ने इसको लेकर जानकारी दी। रिपोर्ट के मुताबिक, साइबर क्राइम ब्रांच के अधिकारियों ने इन लोगों को गुरुवार की रात को ही गिरफ्तार किया था। पुलिस अधिकारी के अनुसार, इसके खिलाफ मुंबई के ही एक संगठन ने पुलिस में शिकायत की थी।

इस गिरफ्तारी पर शिवसेना की राज्यसभा सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने मुंबई पुलिस की पीठ थपथपाते हुए शाबाशी दी। उन्होंने ट्वीट किया, “मुंबई पुलिस को मुबारकबाद। उन्होंने क्लब हाउस चैट के खिलाफ भी कार्रवाई की और कुछ गिरफ्तारियाँ भी की गई हैं। नफरत को ना कहें।’’ इससे पहले दिल्ली पुलिस ने क्लब हाउस ऐप और गूगल को पत्र लिखकर इसको लेकर जानकारी माँगी थी।

गौरतलब है कि बीते कुछ समय से सुल्ली डील और बुल्ली बाई ऐप के बाद क्लब हाउस ऐप काफी चर्चा हो रही है। इसको लेकर खूब राजनीति भी हो रही है। मुस्लिम महिलाओं पर टिप्पणी करने वाले आरोपियों को पकड़ने के लिए कई राज्यों में पुलिस ओवरटाइम कर रही है। वहीं, सोशल मीडिया पर कई ऐसे प्लेटफॉर्म हैं, जहाँ हिंदू महिलाओं को अभी भी टारगेट किया जा रहा है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: दौलत के 5 साल...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -