Monday, July 26, 2021
Homeदेश-समाजकोरोना वायरस का बढ़ता कहर: दिल्ली, मुंबई नहीं... इन 10 शहरों में नाइट कर्फ्यू,...

कोरोना वायरस का बढ़ता कहर: दिल्ली, मुंबई नहीं… इन 10 शहरों में नाइट कर्फ्यू, जानिए चेन्नई और पंजाब में कैसी पाबंदी

वीकेंड यानी शनिवार और रविवार को लॉकडाउन रहेगा। मनोरंजन से जुड़े सभी नाटक घर, थिएटर, मल्टीप्लेक्स, नाट्यगृह, वीडियो पार्लर, क्लब, स्विमिंग पूल, सभागृह, वाटर पार्क बंद रहेंगे।

देश में कोरोना वायरस की तेज रफ्तार थमने का नाम नहीं ले रही है। बीते 24 घंटे के भीतर आर्थिक राजधानी मुंबई में 10 हजार से ज्यादा कोरोना मामले सामने आए हैं। महामारी से 31 लोगों ने जान गँवाई। इसी के साथ मुंबई में कुल कोरोना मामलों की संख्या 4,72,332 हो गई है। वहीं राजधानी दिल्ली में भी 24 घंटे के भीतर नए मामलों की संख्या 5 हजार के पार पहुँच गई है। 2340 लोगों की रिकवरी हुई है और 17 की मौत हुई। राजधानी में कोरोना के कुल मामलों की संख्या अब 6,85,062 हो चुकी है।

इस बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने 11 सर्वाधिक प्रभावित राज्यों के साथ बैठक की है। इन 11 राज्यों में महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, झारखंड, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, पंजाब और राजस्थान हैं। इन राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हुई बैठक में हर्षवर्धन ने कहा है कि देश का कोरोना रिकवरी रेट 92.38% है। साथ ही उन्होंने कहा कि तेजी से नए मामलों में बढ़ोतरी के बावजूद मृत्यु दर 1.30 प्रतिशत है।

मुंबई में उठाए गए हैं सख्त कदम

मुंबई में कोरोना को रोकने के लिए राज्य सरकार की तरफ से सख्त कदम उठाए जा रहे हैं। टेस्टिंग की स्पीड बढ़ाने के साथ ही लोगों को कोरोना संबंधी नियमों के सख्त पालन की हिदायत दी गई है। सीएम उद्धव ठाकरे कह चुके हैं कि अगर यही हालत रही तो महाराष्ट्र में लॉकडाउन लगाया जा सकता है।

दिल्ली में नाइट कर्फ्यू रात 10 बजे से लेकर सुबह के पाँच बजे तक है तो वहीं मुंबई में रात के आठ बजे से लेकर सुबह के सात बजे तक है। प्रशासन के आदेश के मुताबिक कर्फ्यू के दौरान अगर कोई भी प्रतिष्ठान खुले रहते हैं तो आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

मुंबई और पुणे में नाइट कर्फ्यू

मुंबई और पुणे में नाइट कर्फ्यू तो लगा है लेकिन इमरजेंसी सेवाओं को इससे छूट दी गई है। मुंबई में पाँच से ज्यादा लोग अगर एक साथ दिखाई देते हैं तो कार्रवाई होगी। हालाँकि यह नियम मेडिकल और आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों पर लागू नहीं होगा। वित्तीय सेवाओं से जुड़े कार्यालयों को छोड़ सभी प्राइवेट ऑफिस बंद रहेंगे। प्राइवेट दफ्तरों को वर्क फ्रॉम होम कर दिया गया है। बैंक, स्टॉक मार्केट, बीमा, दवाई, मेडिक्लेयम, दूरसंचार, बिजली और पानी से जुड़े दफ्तर को खोले जाएँगे। सरकारी दफ्तरों में केवल 50 फीसदी कर्मचारी ही जा सकेंगे।

वीकेंड पर लॉकडाउन

वीकेंड यानी शनिवार और रविवार को लॉकडाउन रहेगा। मनोरंजन से जुड़े सभी नाटक घर, थिएटर, मल्टीप्लेक्स, नाट्यगृह, वीडियो पार्लर, क्लब, स्विमिंग पूल, सभागृह, वाटर पार्क बंद रहेंगे।

केजरीवाल सरकार ने आज रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू कर दिया 

दिल्ली की अगर बात करें तो रात में ई-पास रहने पर ही लोगों को घरों से निकलने की छूट होगी। मीडिया को भी ई-पास के जरिए ही मूवमेंट की इजाजत होगी। आईडी कार्ड दिखाने पर प्राइवेट डॉक्टर नर्स और पैरामेडिकल स्टाफ को छूट मिलेगी। दिल्ली सरकार के मुताबिक वैध टिकट दिखाने पर एयरपोर्ट रेलवे स्टेशन और बस अड्डे आने जाने वाले यात्रियों को छूट दी जाएगी। 

गर्भवती महिलाओं और इलाज के लिए जाने वाले मरीजों को इस कर्फ्यू में छूट मिलेगी। पब्लिक ट्रांसपोर्ट जैसे बस, दिल्ली मेट्रो, ऑटो, टैक्सी आदि को तय समय के दौरान उन्हीं लोगों को लाने ले जाने की इजाजत होगी, जिनको नाइट कर्फ्यू के दौरान छूट दी गई है। नाइट कर्फ्यू को लेकर दिल्ली सरकार ने अपने आदेश में कहा है कि यह कर्फ्यू लोगों के मूवमेंट को लेकर है न कि जरूरी सामान और जरूरी सेवाओं को लेकर।

चेन्नई को लेकर गाइडलाइन

वही तमिलनाडु सरकार ने कोविड-19 के कारण लगाए गए लॉकडाउन को मौजूदा रियायतों और पाबंदियों के साथ 30 अप्रैल तक के लिए बढ़ा दिया है। मुख्य सचिव राजीव रंजन की ओर से जारी एक आदेश में इस बात की जानकारी दी गई है। आदेश के मुताबिक, वायरस के प्रसार को काबू करने के लिए जाँच करने, संक्रमितों का पता लगाने और इलाज करने के प्रोटोकॉल को प्रभावी तरीके से लागू किया जाएगा। रंजन ने कहा कि जिला प्रशासन को कोविड-19 संबंधी गाइडलाइन को बढ़ावा देने के लिए सभी जरूरी उपाय करने चाहिए। लोगों को मास्क लगाने, हाथों की स्वच्छता और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का सख्ती से पालन कराएँ।

मध्य प्रदेश के चार जिलों में लॉकडाउन 

मध्य प्रदेश सरकार ने राज्य के चार जिलों में लॉकडाउन लगा दिया है। बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य सरकार ने बेतूल जिले में शुक्रवार रात दस से तो खरगोन के शहरी क्षेत्रों में रात बजे से सोमवार सुबह पांच बजे तक लॉकडाउन रहेगा। रतलाम शहर और छिंदवाड़ा जिले में बृहस्पतिवार रात दस बजे से लेकर सोमवार सुबह 6 बजे जरूरी सेवाओं को छोड़कर अन्य सभी गतिविधियों पर पाबंदी रहेगी।  

जोधपुर में नाइट कर्फ्यू

कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के मद्देनजर जोधपुर जिला प्रशासन ने रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक 30 अप्रैल तक कर्फ्यू लगा दिया है। जिला मजिस्ट्रेट ने कहा, “रात में 8 बजे से सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू लागू किया गया है। कोरोना की दूसरी लहर बहुत खतरनाक है। कुछ राज्यों में, स्थिति भयावह है।”

चंडीगढ़ में नाइट कर्फ्यू

चंडीगढ़ प्रशासन ने मंगलवार को केंद्रशासित प्रदेश में बढ़ते मामलों पर अंकुश लगाने के लिए नाइट कर्फ्यू लगाने का फैसला किया। आधिकारिक निर्देश के अनुसार, कर्फ्यू 10 बजे से 5 बजे के बीच हैं, इस दौरान केवल आवश्यक सेवाओं को कार्य करने की अनुमति होगी।

पंजाब में पाबंदी

पंजाब में कोरोना से हालात बिगड़ते जा रहे हैं। इसको देखते हुए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राज्य में पाबंदी 10 अप्रैल तक बढ़ा दी है। पंजाब में पहले 31 मार्च तक सख्ती लागू थी। अब यही सख्ती 10 अप्रैल तक लागू रहेगी। उसके बाद दोबारा रिव्यू किया जाएगा और सख्ती बढ़ाने या कम करने पर फैसला लिया जाएगा। मंगलवार को राज्य के अधिकारियों के साथ बैठक में मुख्यमंत्री ने कोरोना को काबू करने के लिए कई अहम आदेश दिए हैं। उनका सबसे ज्यादा फोकस टेस्टिंग और वैक्सीनेशन बढ़ाने पर रहा।

गौरतलब है कि देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ रही है क्योंकि वैश्विक महामारी की दूसरी लहर चालू हो गई है। देश के 5 राज्यों में चुनाव हो रहे हैं। देश के सबसे ज्यादा जनसंख्या वाले उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव होने हैं। रेलवे और विमान सेवाएँ चालू हैं। ऐसे में देश के कुछ सक्रिय कोरोना संक्रमितों में से 68.94% उन 5 राज्यों में हैं, जहाँ कॉन्ग्रेस की सरकार है या पार्टी सरकार में साझीदार है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

यूपी के बेस्ट सीएम उम्मीदवार हैं योगी आदित्यनाथ, प्रियंका गाँधी सबसे फिसड्डी, 62% ने कहा ब्राह्मण भाजपा के साथ: सर्वे

इस सर्वे में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्री बताया गया है, जबकि कॉन्ग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गाँधी सबसे निचले पायदान पर रहीं।

असम को पसंद आया विकास का रास्ता, आंदोलन, आतंकवाद और हथियार को छोड़ आगे बढ़ा राज्य: गृहमंत्री अमित शाह

असम में दूसरी बार भाजपा की सरकार बनने का मतलब है कि असम ने आंदोलन, आतंकवाद और हथियार तीनों को हमेशा के लिए छोड़कर विकास के रास्ते पर जाना तय किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,226FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe