Saturday, July 24, 2021
Homeदेश-समाजरेल यात्रा, नमाज, 2 शादी फंक्शन, फिर हॉस्पिटल से भागा: एक मरीज के कारण...

रेल यात्रा, नमाज, 2 शादी फंक्शन, फिर हॉस्पिटल से भागा: एक मरीज के कारण मेरठ व नागपुर में मच सकती है तबाही

इन मरीजों को तभी छोड़ा जाएगा, जब 24 घंटे के भीतर 2 बार उनकी जाँच होगी और दोनों बार रिपोर्ट नेगेटिव आए। एहतियातन हर मरीज की तीन बार जाँच की जाएगी। उन्हें पौष्टिक भोजन दिया जा रहा है। अब तक 3533 घरों की पड़ताल की जा चुकी है। कुल 20,751 लोगों को कवर किया जा चुका है।

कोरोना वायरस ने उत्तर प्रदेश में अपने रंग दिखाने शुरू कर दिए हैं। अकेले रविवार (मार्च 29, 2020) को मेरठ शहर में कोरोना के 8 मरीज मिले, जिससे वहाँ हड़कंप मच गया है। पहले माना जा रहा था कि सिर्फ़ 3 कालोनियों तक ही संक्रमण सिमटा हुआ है लेकिन अब पूरे शहर में ये ख़तरा फ़ैल गया है। 24 स्वास्थ्य केंद्रों को काम पर लगा दिया गया है, ताकि वो अपने-अपने इलाक़ों में कोरोना वायरस के मरीजों का पता लगा सकें। साथ ही पुलिस और नगर निगम की भी मदद ली जा रही है। पुलिस का कहना है कि खुर्जा निवासी और मुंबई से लौटे एक शख्स ने पूरे शहर में कोरोना को फैलाने का काम किया है।

अभी तक शहर में कुल 13 लोग हैं, जो कोरोना के संक्रमण से पीड़ित हैं। अंदेशा जताया गया है कि एक दर्जन और मरीज सामने आ सकते हैं, जिनका पता लगाया जा रहा है। ये मरीज शहर के विभिन्न क्षेत्रों में घुमते रहे हैं। एक मरीज तो 20-21 मार्च को हापुड़, मोतीमहल और चुंगी में हुई दो शादियों में पहुँचा था। इसके बाद उसने तहसील कॉलनी और जाकिर कॉलनी जाकर वहाँ नमाज पढ़ा। वहाँ के मौलवी की भी जाँच की गई है, जो सामान्य मिला है। पूरे शहर को सर्विलांस पर लेकर काम किया जा रहा है। मरीजों से पूछताछ की जा रही है कि वो कहाँ-कहाँ घूमे।

उक्त मरीज जब मेरठ आ रहा था, तो रास्ते में ही उसकी तबियत बिगड़ गई थी और उसे बुखार होने लगा था। बुखार से काँपते हुए उसने नागपुर में 5 घंटे रुक कर ट्रेन बदली थी। महाराष्ट्र सरकार को पत्र लिख कर उसकी यात्रा के बारे में सूचित कर दिया गया है। छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस से सफर करने वाले उस यात्री के बारे में कहा जा रहा है कि उसने नागपुर में भी कई लोगों में संक्रमण फैलाया होगा। रविवार को वो हॉस्पिटल से भाग निकला, जिसके बाद उसे घर से उठा कर लाया गया। इलाज के बाद उस पर एफआईआर भी दर्ज की जाएगी। उसने अपने परिवार के लोगों को भी संक्रमित कर दिया है। फ़िलहाल अन्य संक्रमित मरीजों को हॉस्पिटल में रखा गया है और उनकी स्थिति सामान्य है।

इन मरीजों को तभी छोड़ा जाएगा, जब 24 घंटे के भीतर 2 बार उनकी जाँच होगी और दोनों बार रिपोर्ट नेगेटिव आए। एहतियातन हर मरीज की तीन बार जाँच की जाएगी। उन्हें पौष्टिक भोजन दिया जा रहा है। अब तक 3533 घरों की पड़ताल की जा चुकी है। कुल 20,751 लोगों को कवर किया जा चुका है। विभाग कोरोना के लक्षणों के बारे में हर छोटी जानकारी ले रहा है। वह वार्ड से क्यों भागा, इस सम्बन्ध में उसने कुछ नहीं बताया है।

इससे पहले हमने मेरठ जिलाधिकारी के हवाले से बताया था कि संक्रमित व्यक्ति का मेरठ में ससुराल है। वह अपनी पत्नी के साथ महाराष्ट्र से मेरठ आया था। शुक्रवार को मेरठ मेडिकल अस्पताल में उसके कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि हुई थी। इसके बाद संपर्क में रह रही पत्नी और 3 सालों को भी शुक्रवार को भर्ती कराया गया। अब उसकी पत्नी और तीन सालों के भी कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है। 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हंगामा 2 देखिए, राज की वजह से नुकसान न हो: फैन्स से शिल्पा शेट्टी की गुजारिश, घर पहुँच मुंबई पुलिस ने दर्ज किया बयान

राज कुंद्रा की गिरफ्तारी के केस में मुंबई पुलिस के समक्ष आज बयान दर्ज करवाने के बीच शिल्पा शेट्टी ने अपनी फिल्म हंगामा 2 के लिए अपील की।

‘CM अमरिंदर सिंह ने किसानों को संभाला, दिल्ली भेजा’: जाखड़ के बयान से उठे सवाल, सिद्धू से पहले थे पंजाब कॉन्ग्रेस के कैप्टन

जाखड़ की टिप्पणी के बाद यह आशय निकाला जा रहा है कि कॉन्ग्रेस ने मान लिया है कि उसी ने किसानों को विरोध के लिए दिल्ली की सीमाओं पर भेजा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
110,931FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe