Friday, April 12, 2024
Homeदेश-समाजईद में नंगा नाच: 42 सदस्यीय डांस ग्रुप की लड़कियों को नंगा नचाया, 800...

ईद में नंगा नाच: 42 सदस्यीय डांस ग्रुप की लड़कियों को नंगा नचाया, 800 की भीड़ ने खंजर-कुल्हाड़ी से धमकाया

ईद के मौके पर असम में शर्मसार कर देने वाली इस घटना में पुलिस ने कुद्दुस अली, सैय्यद खान, अतीकुल असलम, समाजुद्दीन, जहरुल असलम और अब्बास अली को...

असम में शर्मसार कर देने वाली घटना में ईद के जश्न में नृत्य प्रस्तुत करने के लिए बुलाई गईं लड़कियों को गुंडों द्वारा नग्न होकर नाचने के लिए मजबूर करने का वाकया सामने आ रहा है। हालाँकि, लड़कियाँ वहाँ से भागने में सफल रहीं और उन्होंने पुलिस में एफआईआर भी दर्ज करवा दी है, जिसके बाद पुलिस ने दो आरोपितों को गिरफ्तार भी कर लिया है।

700-800 की भीड़ ने घेरा, कपड़े नोंचे, खंजर से धमकाया

डांस ग्रुप के डायरेक्टर अरूप डी राभा की एफआईआर के मुताबिक बोको, असम के ‘रेनबो डांस ग्रुप’ को कामरूप जिले के चायगाँव इलाके में असोलपोरा गाँव में ईद के जश्न में नाचने के लिए बुलाया गया था। बताया गया था कि यह एक ‘सांस्कृतिक कार्यक्रम’ है। सह-आयोजक कुद्दुस अली ने ग्रुप को ₹37,000 देने का वादा किया था और इसके भुगतान के लिए 7 जून की तारीख तय की थी।

तय दिन-तारीख-समय पर जब 42-सदस्यीय ग्रुप वहाँ पहुँचा तो वहाँ सांस्कृतिक कार्यक्रम जैसा कोई माहौल नहीं था। जब उन्होंने कुद्दुस अली से इस बारे में बात की तो वह उन्हें एक संदेहास्पद स्थान पर ले गया जो हर तरफ से लोहे की चादरों से घिरा हुआ था। जब डांस ग्रुप ने अपना पारंपरिक नृत्य शुरू किया तो वहाँ जमा 700-800 लड़कों की भीड़ ने उत्पात शुरू कर दिया, और लड़कियों के कपड़े खींचने लगे। आयोजकों ने भी लड़कियों को बचाने की बजाय उनका साथ देना शुरू कर दिया। उन्होंने लड़कियों से कहा कि सभी कपड़े उतार कर अश्लील गानों पर नाचें। इसके लिए उन्हें खंजर दिखाकर धमकाया भी गया।

भीड़ की बातों से डांस ग्रुप को यह समझ में आया कि आयोजकों ने भीड़ से झूठ बोला था कि नग्न नृत्य करने वाली लड़कियों का ग्रुप कूच बिहार से मँगाया जाएगा, और इसके लिए उन्होंने भीड़ से मोटी रकम भी ऐंठी थी। एफआईआर के अनुसार भीड़ और आयोजकों ने लड़कियों को अभद्र तरीके से छू कर उनके कपड़े उतरवाने की कोशिश की थी। नग्न अवस्था में नाचने से इनकार करने पर उन्हें गन्दी गालियाँ भी दी गईं।

पुलिस और दोस्तों को किया फोन, एफआईआर दर्ज

ग्रुप के लोग किसी तरह वहाँ से निकल भागने में सफल रहे। भागते हुए उनके वाहन पर भी कुल्हाड़ियों और लोहे की सलाखों से हमला हुआ जिससे उनका वाहन गंभीर रूप से क्षतिग्रस्त हो गया। उन्होंने मदद के लिए अपने दोस्तों और बोको पुलिस स्टेशन को फोन किया। बाद में रात में, डांस ग्रुप पुलिस एस्कॉर्ट के साथ बोको पहुँचा। बोको पुलिस स्टेशन में दर्ज एफआईआर में ग्रुप के डायरेक्टर अरूप डी राहा ने कुद्दुस अली, सैय्यद खान, अतीकुल असलम, समाजुद्दीन, जहरुल असलम और अब्बास अली को नामजद किया गया है। उपरोक्त सभी व्यक्ति आयोजक समिति के सदस्य हैं। पुलिस की जाँच में अब तक सुभान खान और शाहरुख़ खान की गिरफ़्तारी हो पाई है।

एफआईआर की कॉपी; साभार: time8.in

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बबुआ, माफी मत माँगना चाहे सिर कट जाए’: माँ की ‘आखिरी सीख’ ने बनाया आज का राजनाथ, कॉन्ग्रेसी राज में अंतिम संस्कार तक में...

केंद्रीय रक्षा मंत्री की अपनी माँ से आखिरी मुलाकात तब हुई थी जब उन्हें जेल ले जाया जा रहा था। माँ ने उनसे कहा था वो किसी कीमत पर माफी न माँगे।

जहाँ से निर्दलीय लड़ रहे रवींद्र सिंह भाटी के सोशल मीडिया में चर्चे, वह जमीन ‘मोदी मोदी’ के नारों से गूँज उठा: बाड़मेर में...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजस्थान के सीमावर्ती क्षेत्र बाड़मेर में एक रैली की और कॉन्ग्रेस पर इस क्षेत्र को नजरअंदाज करने का आरोप लगाया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe