Saturday, July 13, 2024
Homeदेश-समाजपुलवामा अटैक पर फेक ऑडियो वायरल करने वाला Avi Dandiya गिरफ्तार: रिपोर्ट्स

पुलवामा अटैक पर फेक ऑडियो वायरल करने वाला Avi Dandiya गिरफ्तार: रिपोर्ट्स

इससे पहले भी अवि ने कई फेक वीडियो जारी किया था। लम्बे समय तक डांडिया प्रो आप कैम्पेन चलाता रहा। डांडिया पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के समर्थन करता हुआ भी नज़र आया था।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली पुलिस ने पुलवामा आतंकी हमले से संबंधित फेक ऑडियो क्लिप वायरल करने वाले आरोपित अवि डांडिया को गिरफ्तार कर लिया है।

बता दें कि एक मार्च को अवि डांडिया ने अपने फेसबुक पेज पर लाइव के दौरान एक ऑडियो क्लिप पोस्ट किया था। इसमें अवि ने कैप्शन लिखा था, “क्या सच है सुनिए, अगर विश्वास न हो और देश की आवाम में दम हो तो पूछे उनसे, जिनकी आवाज है, जो सेना के नहीं, वे आवाम के क्या होंगे?”

दरअसल अवि के फेक ऑडियो क्लिप के मुताबिक, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और गृह मंत्री राजनाथ सिंह एक महिला से बात कर रहे हैं। इस क्लिप को सुनकर ऐसा लग रहा है कि पुलवामा हमले की साजिश भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने रची है। बता दें कि अवि द्वारा पोस्ट की ऑडियो क्लिप की पड़ताल में सामने आया का यह फेक है। इस क्लिप को नेताओं के पुराने बयानों को जोड़-तोड़कर बनाया गया था।

पड़ताल में सामने आया कि अलग अलग चैनलों या अलग-अलग वक्त पर दिए गए बयानों में से शॉट्स लेकर ऑडियो क्लिप बनाई गई है। इस ऑडियो क्लिप में एक महिला के सवालों पर राजनाथ और अमित शाह के बयानों को ऐसे तोड़-मरोड़कर पेश किया गया था कि जैसे पुलवामा आतंकी हमले की साजिश रची जा रही हो। जिसका पाकिस्तान ने भी भारत के खिलाफ प्रोपेगेंडा चलाने के लिए इस्तेमाल किया था।

जिसमें दावा किया जा रहा था कि 2019 का लोकसभा चुनाव जीतने के लिए भाजपा ने ही कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हमला कराया था।

इससे पहले भी अवि ने कई फेक वीडिओ जारी किया था। लम्बे समय तक डांडिया प्रो आप कैम्पेन चलाता रहा। डांडिया पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के समर्थन करता हुआ भी नज़र आया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘आपातकाल तो उत्तर भारत का मुद्दा है, दक्षिण में तो इंदिरा गाँधी जीत गई थीं’: राजदीप सरदेसाई ने ‘संविधान की हत्या’ को ठहराया जायज

सरदेसाई ने कहा कि आपातकाल के काले दौर में पूरे देश पर अत्याचार करने के बाद भी कॉन्ग्रेस चुनावों में विजयी हुई, जिसका मतलब है कि लोग आगे बढ़ चुके हैं।

तिब्बत को संरक्षण देने के लिए अमेरिका ने बनाया कानून, चीन से दो टूक – दलाई लामा से बात करो: जानिए क्या है उस...

14वें दलाई लामा 1959 में तिब्बत से भागकर भारत आ गये, जहाँ उन्होंने हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में निर्वासित सरकार स्थापित की थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -