Sunday, July 14, 2024
Homeदेश-समाज15 साल के लड़के को ऑनलाइन धमकी: ध्रुव राठी के खिलाफ एक्शन में NCPCR,...

15 साल के लड़के को ऑनलाइन धमकी: ध्रुव राठी के खिलाफ एक्शन में NCPCR, ट्विटर को 7 दिन में कार्रवाई का आदेश

NCPCR ने ट्विटर को 7 दिनों के भीतर ध्रुव राठी के खिलाफ कार्रवाई करने का निर्देश दिया। यह मामला 15 साल के लड़के का आईपी लोकेशन गैरकानूनी तरीके से हासिल करने और उसे धमकी देने से जुड़ा है।

नेशनल कमीशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट्स (NCPCR) ने आम आदमी पार्टी (AAP) के व्लॉगर ध्रुव राठी के खिलाफ जाँच शुरू की है। बता दें कि ध्रुव राठी ने 15 साल के लड़के का आईपी लोकेशन गैरकानूनी तरीके से हासिल कर लिया और फिर उसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर धमकी दी। जिसके बाद NCPCR ने संज्ञान लेते हुए जाँच शुरू किया

सूत्रों के मुताबिक ट्विटर को संबोधित एक पत्र में एनसीपीसीआर ने कहा कि आयोग को शिकायत मिली कि ध्रुव राठी द्वारा 15 वर्षीय लड़के को परेशान किया जा रहा है और उसे धमकी दी जा रही है।

आयोग ने आगे कहा कि लड़के ने इस बात को उजागर किया था कि राठी ने उसे इंस्टाग्राम पर मैसेज किया और उसे नुकसान पहुँचाने की धमकी दी। लड़के ने ट्विटर पर डिटेल्स पोस्ट किया। बच्चे ने आगे आरोप लगाया कि राठी ने उसे कानूनी परिणामों के भुगतने की धमकी दी और दावा किया कि उसने आईपी लोकेशन प्राप्त कर लिया है। राठी ने बच्चे का नाम फर्जी मामलों में घसीटने का भी दावा किया।

आयोग ने सीपीसीआर अधिनियम, 2005 की धारा 13 (1) (d) (j) और (k) के तहत मामले का संज्ञान लिया और ध्रुव राठी के खिलाफ जाँच शुरू की। आगे कहा गया कि नाबालिग का आईपी एड्रेस प्राप्त करना और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर उसे धमकी देना गंभीर अपराध है।

ट्विटर को 7 दिनों के भीतर राठी के खिलाफ कार्रवाई शुरू करनी होगी

आयोग ने ट्विटर को पत्र जारी करने के सात दिनों के भीतर ध्रुव राठी के खिलाफ उचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। NCPCR ने ट्विटर को बिना किसी देरी के शिकायत के बारे में संबंधित जानकारी प्रदान करने के लिए कहा। आयोग के आदेशों का पालन करने में विफल रहने पर NRCPC, कानून के अनुसार ट्विटर के खिलाफ उचित कार्रवाई करेगा।

ध्रुव राठी ने 15 वर्षीय लड़के को धमकी दी

एक ट्विटर यूजर ने कुछ स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए दावा किया कि ध्रुव राठी ने उसे यूट्यूब चैनल ‘द स्ट्रिंग्स’ का समर्थन करने के लिए इंस्टाग्राम के माध्यम से डीएम (डायरेक्ट मैसेज) में धमकी दी थी। नाबालिग लड़का इस बात से सहमत था कि उसने भी गलती की थी, लेकिन राठी द्वारा डराने और धमकाने की प्रवृत्ति गंभीर थी।

नाबालिग लड़के के ट्विटर से किए गए ट्वीट का स्क्रीनशॉट (साभार: Twitter)

नाबालिग द्वारा साझा किए गए स्क्रीनशॉट में देखा जा सकता है कि राठी ने उसे धमकी दी और कहा कि अगर लड़का स्ट्रिंग्स का समर्थन करता रहेगा, तो वह केस में उसका नाम घसीटेगा और उसका जीवन बर्बाद कर देगा।

Screenshots of messages sent by Dhruv Rathee to the minor boy. (Source: Twitter)

जब लड़के ने उसे बताया कि वह 15 साल का है, तो राठी ने कथित तौर पर कहा कि उसकी उम्र उसके लिए कोई मायने नहीं रखती। लड़के ने तब से अपना ट्विटर अकाउंट डिलीट/डिएक्टिवेट कर लिया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -