Thursday, June 13, 2024
Homeदेश-समाजकपिल शर्मा, हुमा कुरैशी और हिना खान को ED ने बुलाया, सट्टेबाजी ऐप से...

कपिल शर्मा, हुमा कुरैशी और हिना खान को ED ने बुलाया, सट्टेबाजी ऐप से ₹5000 करोड़ की मनी लॉन्ड्रिंग का मामला: जानिए क्यों रडार पर बॉलीवुड सितारे

महादेव ऐप में क्रिकेट, टेनिस, बैडमिंटन, पोकर, कार्ड गेम्स समेत कई तरह लाइव गेम्स खिलाकर सट्टेबाजी कराई जा रही थी। ऐप के जरिए सट्टेबाजी के कई प्लेटफॉर्म्स को एक साथ जोड़ा गया था। कुल मिला कर 5000 करोड़ रुपए के मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप है।

ऑनलाइन सट्टेबाजी प्लेटफॉर्म महादेव बेटिंग ऐप से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) का शिकंजा कसता जा रहा है। ईडी ने अब कॉमेडियन कपिल शर्मा, एक्ट्रेस हुमा कुरैशी और हिना खान को नोटिस भेज तलब किया है। इससे पहले ईडी ने रणबीर कपूर और श्रद्धा कपूर को समन भेज 6 अक्टूबर को पेश होने के कहा था।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, महादेव बेटिंग ऐप के जरिए करीब 5000 करोड़ रुपए की मनी लॉन्ड्रिंग हुई है। ऐसे में ईडी इस ऐप को प्रमोट करने और इससे जुड़े कार्यक्रमों में शामिल होने वाले लोगों से पूछताछ कर रही है। इसी कड़ी में अब कपिल, हुमा औए हिना को नोटिस भेजा गया है।

वहीं खबर है कि रणबीर कपूर ने ED से पूछताछ में पेश होने के लिए 2 हफ्ते की मोहलत माँगी है। श्रद्धा कपूर पूछताछ में शामिल होंगी या नहीं इसकी पुष्टि फिलहाल नहीं हो पाई है। ईडी ने रणबीर कपूर को छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में स्थित कार्यालय में पेश होने के लिए कहा था।

मीडिया रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा है कि रणबीर कपूर ने कथित तौर पर महादेव ऐप का प्रचार भी किया था। इसलिए ईडी के अधिकारी यह जानने की कोशिश कर रहे हैं कि रणबीर ने ऐप का प्रचार करना कब शुरू किया था और इसके लिए उन्हें कैसे और कितने पैसे मिले थे।

बता दें कि यह पूरा मामला महादेव ऐप से जुड़ा है। इस ऐप के जरिए ऑनलाइन सट्टेबाजी कराई जा रही थी। सौरभ चंद्राकर और रवि उप्पल इसके प्रमुख प्रमोटर बताए जाते हैं। ये दोनों दुबई बेस्ड कंपनी के जरिए यह ऐप चला रहे थे। महादेव ऐप में क्रिकेट, टेनिस, बैडमिंटन, पोकर, कार्ड गेम्स समेत कई तरह लाइव गेम्स खिलाकर उसमें सट्टेबाजी कराई जा रही थी। यह भी आरोप है कि इस ऐप में पैसे लगाने वालों यानी सट्टा खेलने वालों को लगातार नुकसान ही होता था।

इसके अलावा इस ऐप के जरिए यूजर्स जोड़े जा रहे थे और बेनामी बैंक खातों के जरिए यूजर आईडी बना कर मनी लॉन्ड्रिंग की जा रही थी। सट्टेबाजी से होने वाली कमाई को कई बैंक खातों में भेजा गया। भारत में इसके विज्ञापन और फ्रेंचाइजी आमंत्रित करने के लिए भी बड़ी मात्रा में पैसे खर्च किए गए। इस ऐप के जरिए सट्टेबाजी के कई प्लेटफॉर्म्स को एक साथ जोड़ा गया था। कुल मिला कर 5000 करोड़ रुपए के मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप है। इस ऐप को 30 सेंटरों के जरिए संचालित किया जा रहा था।

क्यों बॉलीवुड तक पहुँची महादेव ऐप की जाँच की आँच

महादेव बेटिंग ऐप के प्रमोटर सौरभ चंद्राकर ने इसी साल फरवरी में शादी की थी। इस शादी में सनी लियोनी, नेहा कक्कड़, आतिफ असलम, राहत फ़तेह अली खान, अली असगर, विशाल डडलानी, एली अवराम, भारती सिंह, भाग्यश्री, कीर्ति खरबंदा, नुसरत भरुचा, कृष्णा अभिषेक और सुखविंदर सिंह शामिल हुए थे। इस शादी पर 200 करोड़ रुपए से अधिक खर्च होने की बात सामने आई थी।

ED ने जो डिजिटल सबूत जुटाए हैं, उससे पता चला है कि हवाला के जरिए एक इवेंट मैनेजमेंट कंपनी को 112 करोड़ रुपए दिए गए थे, वहीं होटल बुकिंग के लिए 42 करोड़ रुपए कैश का इस्तेमाल किया गया था। इस शादी कार्यक्रम का वीडियो भी सामने आया है, जिसमें बॉलीवुड की हस्तियों को देखा जा सकता है। ये भी पता चला है कि इस एप की एक सक्सेस पार्टी भी हुई थी। सौरभ चंद्राकर और एप के दूसरे प्रमोटर रवि उप्पल ने मिल कर सितंबर 2022 में इस पार्टी का आयोजन किया था।

इसमें भी बॉलीवुड के कई एक्टर और गायक पहुँचे थे। मीडिया रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि बॉलीवुड के कई बड़े नामों को हवाला के जरिए पैसों का भुगतान किया गया। एक बड़े अभिनेता को करोड़ों दिए जाने की बात कही जा रही है। इस बेटिंग एप से जुड़ी 417 करोड़ की संपत्ति जब्त की गई है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कश्मीर समस्या का इजरायल जैसा समाधान’ वाले आनंद रंगनाथन का JNU में पुतला दहन प्लान: कश्मीरी हिंदू संगठन ने JNUSU को भेजा कानूनी नोटिस

जेएनयू के प्रोफेसर और राजनीतिक विश्लेषक आनंद रंगनाथन ने कश्मीर समस्या को सुलझाने के लिए 'इजरायल जैसे समाधान' की बात कही थी, जिसके बाद से वो लगातार इस्लामिक कट्टरपंथियों के निशाने पर हैं।

शादीशुदा महिला ने ‘यादव’ बता गैर-मर्द से 5 साल तक बनाए शारीरिक संबंध, फिर SC/ST एक्ट और रेप का किया केस: हाई कोर्ट ने...

इलाहाबाद हाई कोर्ट में जस्टिस राहुल चतुर्वेदी और जस्टिस नंद प्रभा शुक्ला की बेंच ने इस मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि सबूत पेश करने की जिम्मेदारी सिर्फ आरोपित का ही नहीं है, बल्कि शिकायतकर्ता का भी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -