Saturday, June 15, 2024
Homeदेश-समाजवीडियो बनाने वाला निकला बच्चे का चचेरा भाई, अब्बा ने कहा - 'मैंने ही...

वीडियो बनाने वाला निकला बच्चे का चचेरा भाई, अब्बा ने कहा – ‘मैंने ही शिक्षिका से कहा था कि मेरे बच्चे को टाइट करो, इसमें कोई सांप्रदायिक एंगल नहीं’

वीडियो बनाने वाले पीड़ित छात्र के चचेरे भाई का भी बयान सामने आया है। पीड़ित के चचेरे भाई ने बताया कि आरोपित टीचर ने कहा, "ये जो मुस्लिम महिलाएँ हैं ये अपने मायके चली जाती हैं और बच्चे पढ़ाई पर ध्यान नहीं देते।" उसने कहा कि वीडियो को बढ़ा-चढ़ा कर पेश की जा रही है।

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले में स्थित नेहा पब्लिक स्कूल के वीडियो को प्रशासन ने वायरल नहीं करने के निर्देश दिए हैं। इस वीडियो में टीचर के निर्देश पर एक बच्चे को क्लास के अन्य छात्र पीटते दिखाई दे रहे हैं। इस घटना के बाद पीड़ित छात्र के अब्बा ने मामले को साम्प्रदायिक रंग न देने की अपील की है। वीडियो बनाने वाले छात्र के चचेरे भाई ने भी अपने वीडियो को गलत तरीके से वायरल किए जाने का आरोप लगाया है। पुलिस ने आरोपित टीचर पर केस दर्ज कर लिया है। वहीं, स्कूल की मान्यता की जाँच स्थानीय प्रशासन द्वारा करवाई जा रही है।

ताजा घटनाक्रम में पीड़ित छात्र के अब्बा मीडिया के सामने आए हैं। उन्होंने बताया कि उनका 7 वर्षीय बेटा क्लास 1 का छात्र है। घटना गुरुवार (24 अगस्त 2023) की है। छात्र के पिता ने अपने बेटे को महिला टीचर द्वारा बाकी छात्रों से पिटवाने के आरोपों की तस्दीक की है। घटना का वीडियो पीड़ित छात्र के चचेरे भाई ने बनाया है, जो उस दिन किसी काम से स्कूल गया था। छात्र के पिता ने बताया कि घटना से 3 दिन पहले उन्होंने टीचर से अपने बच्चे को टाइट रखने के लिए कहा था। हालाँकि, उन्होंने यह भी कहा कि बच्चे पर हाथ केवल मैडम या कोई सीनियर छात्र ही उठा सकता था।

पीड़ित छात्र के अब्बा ने आरोप लगाया है कि उनके बच्चे को 1 से 2 घंटे टॉर्चर किया गया। फिलहाल बच्चे की तबियत ठीक है, लेकिन वो डरा हुआ है। इस दौरान उन्होंने असदुद्दीन ओवैसी द्वारा फोन कर बेटे को हैदराबाद में पढ़ाई का ऑफर देने की जानकारी दी। हालाँकि, इस ऑफर को छात्र के अब्बा ने ठुकरा दिया और कहा कि इतनी कम उम्र में उतना दूर भेजने से मना कर दिया। वीडियो के अंत में पीड़ित के अब्बा ने इस मामले में हिन्दू-मुस्लिम का कोई मैटर होने से इंकार कर दिया। साथ ही उन्होंने माहौल ठीक होने और भाईचारा बरकरार रहने की जानकारी दी।

छात्र के अब्बा ने यह भी बताया कि जब वो शिकायत लेकर टीचर के पास गए तो उन्हें स्कूल में ऐसे ही नियम होने की जानकारी दी गई। वहीं, वीडियो बनाने वाले पीड़ित छात्र के चचेरे भाई का भी बयान सामने आया है। पीड़ित के चचेरे भाई ने बताया कि आरोपित टीचर ने कहा, “ये जो मुस्लिम महिलाएँ हैं ये अपने मायके चली जाती हैं और बच्चे पढ़ाई पर ध्यान नहीं देते।” उसने कहा कि वीडियो को बढ़ा-चढ़ा कर पेश की जा रही है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कहीं दर्जनों परिवारों को करना पड़ा पलायन, कहीं सिर मर मार दी गोली… बंगाल में राजनीतिक हिंसा की जाँच के लिए BJP ने बनाई...

लोकसभा चुनाव के नतीजे घोषित होने के एक दिन बाद 5 जून को पश्चिम बंगाल के विभिन्न हिस्सों से चुनाव-पश्चात हिंसा की कई घटनाएँ सामने आईं।

‘हिन्दुओं गाड़ियों से रौंदो, बम से उड़ाओ, चाकू से उनके पेट चीरो’: ISIS की पत्रिका में हिंसक जिहाद का एलान, PM मोदी और राम...

आतंकी संगठन ISIS समर्थित वॉयस ऑफ़ खुरासान पत्रिका ने दुनिया भर के मुस्लिमों को भारत में हिन्दुओं के नरसंहार के लिए उकसाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -