Wednesday, February 1, 2023
Homeदेश-समाजकॉन्ग्रेस MLA और पूर्व कॉर्पोरेटर पर FIR: ऑन ड्यूटी बदतमीजी और धमकी के बाद...

कॉन्ग्रेस MLA और पूर्व कॉर्पोरेटर पर FIR: ऑन ड्यूटी बदतमीजी और धमकी के बाद डॉक्टर ने दे दिया था इस्तीफा

"आज हमारे डॉक्टरों के साथ जैसा बर्ताव किया गया, वह शर्मनाक है और किसी को भी डॉक्टरों के साथ बदतमीजी करने का कोई अधिकार नहीं है।”

मध्य प्रदेश में कॉन्ग्रेस के एक विधायक और एक पूर्व कॉर्पोरेटर के खिलाफ FIR दर्ज की गई है। दोनों पर एक डॉक्टर के साथ बदतमीजी का आरोप है। भोपाल (दक्षिण-पश्चिम) से विधायक व पूर्व मंत्री पीसी शर्मा और पूर्व कॉर्पोरेटर गुड्डू चौहान के खिलाफ मध्य प्रदेश पुलिस ने FIR दर्ज कर ली है। इन दोनों ने अस्पताल के परिसर में ही ऑन-ड्यूटी डॉक्टर के साथ दुर्व्यवहार किया था। उक्त डॉक्टर हबीबगंज के जेपी हॉस्पिटल में कार्यरत थे।

ये मामला एक मरीज की मौत से जुड़ा है। पीड़ित डॉक्टर योगेंद्र श्रीवास्तव ने कहा कि उन्होंने उसे बचाने की पूरी कोशिश की, लेकिन ये संभव नहीं हो सका। डॉक्टर ने कहा कि उन्हें ये अपमान बर्दाश्त नहीं हुआ, इसीलिए उन्होंने इस्तीफा देने का निर्णय लिया है। उनके लिखित शिकायत के बाद सोमवार (अप्रैल 12, 2021) को मामला दर्ज हुआ। सबूत के रूप में CCTV फुटेज और प्रत्यक्षदर्शियों के बयान मौजूद हैं।

पुलिस ने इस मामले में IPC की धरा 353 (लोक सेवक को अपने कर्तव्य के निर्वहन से भयोपरत करने के लिए हमला या आपराधिक बल का प्रयोग) और धारा 189 (सरकारी कर्मचारी को क्षति पहुँचाने की धमकी) के तहत मामला दर्ज किया है। ये घटना शनिवार को दोपहर 12 बजे की है। कोलर कॉलोनी के 35 वर्षीय मरीज तख्त सिंह सख्या को ऑक्सीजन लेवल कम होने के कारण जेपी अस्पताल में लाया गया था।

दोपहर के 2:54 बजे अस्पताल के इमरजेंसी रूम में ही उनकी मौत हो गई। परिजनों ने अस्पताल और डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए इसे मौत का कारण बताया। इस मामले में परिजन पीसी शर्मा को बुला कर ले आए। फिर शर्मा और चौहान ने डॉक्टर को उनका कॉल न उठाने के लिए धमकी दी और बदतमीजी की। डॉक्टर को जम कर डाँटा गया और साथ ही बहस की गई।

इस पूरी घटना पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट करके खेद जताते हुए कहा था, “आज हमारे डॉक्टरों के साथ जैसा बर्ताव किया गया, वह शर्मनाक है और किसी को भी डॉक्टरों के साथ बदतमीजी करने का कोई अधिकार नहीं है।” उन्होंने यह भी कहा कि हमें राजनीति से ऊपर उठ कर एक साथ मिलकर कोरोना वॉरियर्स की सहायता करनी चाहिए। वो अपनी जान को जोखिम में डाल हमारी सेवा करते हैं।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

शिक्षा और स्वास्थ्य सेक्टर को मोदी सरकार के कई बड़े तोहफे: नर्सिंग से लेकर वित्तीय साक्षरता तक को बढ़ावा, फार्मा सेक्टर में नवाचार को...

केंद्र की मोदी सरकार में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस बार के बजट में शिक्षा और स्वास्थ्य को लेकर कई विशेष प्रावधान किए हैं।

मोदी यूँ ही नहीं हैं अजेय, एकलव्य स्कूलों से लेकर गोवर्धन तक ‘सबका साथ-सबका विकास’ को विस्तार: खेत से लेकर जंगल तक बजट से...

केंद्र की मोदी सरकार ने किसानों और जनजातीय समुदाय के लोगों को आगे बढ़ाने के लिए उनके लिए कई योजनाओं की शुरुआत की है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
243,534FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe