Tuesday, September 28, 2021
Homeदेश-समाजAltNews वाले मोहम्मद जुबैर ने दी जान से मार डालने की धमकी: यूपी में...

AltNews वाले मोहम्मद जुबैर ने दी जान से मार डालने की धमकी: यूपी में FIR दर्ज, इजरायल वाली खबर का मामला

"यूपी पुलिस ने 'फर्जी फैक्टचेकर' मोहम्मद जुबैर पर बड़ी कार्रवाई की है। उन्होंने अफवाह फैलाई थी।"

उत्तर प्रदेश में मोहम्मद जुबैर के खिलाफ एक और FIR दर्ज की गई है। मोहम्मद जुबैर प्रोपेगंडा फैक्ट-चेक पोर्टल AltNews के सह-संस्थापक हैं। यूपी के मुजफ्फरनगर जिले में एक व्यक्ति की शिकायत के आधार पर चरथावल थाने में ये FIR दर्ज की गई। शिकायतकर्ता ने खुद को सोशल मीडिया व न्यूज़ चैनल्स यूजर बताया है। आरोप है कि उन्होंने गलत खबर दिखाई और उसके बाद गाली-गलौज व धमकीबाजी भी की।

शिकायत कर्ता ने कहा है कि वो अक्सर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म और समाचार चैनलों का यूज करता रहता है। इसी क्रम में 13 मई, 2021 को ‘सुदर्शन न्यूज़’ नाम के चैनल पर इजरायल और फिलिस्तीन के बीच चल रहे युद्ध को लेकर एक खबर दिखाई गई थी। प्रार्थी ने आरोप लगाया है कि AltNews के सह-संस्थापक मोहम्मद ने इसे गलत खबर बताते हुए इसकी जगह पर खुद गलत खबर दिखा दी।

मोहम्मद ज़ुबैर पर मुजफ्फरनगर में FIR दर्ज

शिकायर्कता के अनुसार, इसके बाद उसने फोन कॉल कर के मोहम्मद जुबैर से इसका कारण पूछा। साथ ही उनकी गलती की तरफ ध्यान दिलाया। FIR में वादी ने लिखा है, “जब मैंने फोन पर मोहम्मद जुबैर से बात की तो उन्होंने मुझे इस मामले में न पड़ने के लिए धमकाया। साथ ही मुझे जान से मार डालने की भी धमकी दी। पुलिस से निवेदन है कि इस मामले में रिपोर्ट दर्ज कर के कानूनी कार्रवाई की जाए।”

‘सुदर्शन न्यूज़ टीवी’ के एंकर प्रोड्यूसर शुभम त्रिपाठी ने इस मामले पर टिप्पणी करते हुए कहा कि यूपी पुलिस ने ‘फर्जी फैक्टचेकर’ मोहम्मद जुबैर पर बड़ी कार्रवाई की है। उन्होंने बताया कि इजरायल-फिलिस्तीन युद्ध पर चैनल के प्रोमो पर ज़ुबैर ने ट्वीट किए थे। शुभम त्रिपाठी के अनुसार, मोहम्मद जुबैर ने ‘सुदर्शन न्यूज़’ के खिलाफ अफवाह फैलाई थी, जबकि ‘सुदर्शन’ ने साक्ष्यों के साथ प्रोमो का सच बता दिया था।

FIR में मोहम्मद जुबैर के खिलाफ ‘भारतीय दंड संहिता (IPC)’ की धारा-192 (गलत राय बनाने की मंशा से किसी पुस्तक या अभिलेख या इलेक्ट्रॉनिक कंटेंट में झूठ लिखना), धारा-504 (शांति भंग करने के इरादे से जानबूझकर अपमान करना) और धारा-506 (आपराधिक धमकी देना) के तहत मामला दर्ज किया गया है। इससे पहले राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR) के आदेश पर ‘ऑल्टन्यूज़’ के सह-संस्थापक मोहम्मद जुबैर के खिलाफ एफआईआर (FIR) दर्ज की गई थी

वहीं पिछले महीने गाजियाबाद के लोनी थाने में दो समुदायों के बीच वैमनस्य पैदा करने और फेक न्यूज़ फैलाने के आरोप में पत्रकार सबा नकवी और AltNews के मोहम्मद ज़ुबैर के खिलाफ FIR दर्ज की गई थी। ये दोनों उत्तर प्रदेश के लोनी थाने में हाजिरी देने भी पहुँचे थे। ताबीज को लेकर आपसी विवाद को इन लोगों ने ‘जबरन जय श्री राम बुलवाने’ वाला आरोप लगा कर सम्प्रदायिक रंग दे दिया था।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरि के मौत के दिन बंद थे कमरे के सामने लगे 15 CCTV कैमरे, सुबूत मिटाने की आशंका: रिपोर्ट्स

पूरा मठ सीसीटीवी की निगरानी में है। यहाँ 43 कैमरे लगाए गए हैं। इनमें से 15 सीसीटीवी कैमरे पहली मंजिल पर महंत नरेंद्र गिरि के कमरे के सामने लगाए गए हैं।

अवैध कब्जे हटाने के लिए नैतिक बल जुटाना सरकारों और उनके नेतृत्व के लिए चुनौती: CM योगी और हिमंता ने पेश की मिसाल

तुष्टिकरण का परिणाम यह है कि देश के बहुत बड़े हिस्से पर अवैध कब्जा हो गया है और उसे हटाना केवल सरकारों के लिए कानून व्यवस्था की चुनौती नहीं बल्कि राष्ट्रीय सभ्यता के लिए भी चुनौती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,823FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe