Thursday, May 23, 2024
Homeदेश-समाजघर की छत पर टारगेट को ढेर करने की प्रैक्टिस करता था मुर्तजा: सामने...

घर की छत पर टारगेट को ढेर करने की प्रैक्टिस करता था मुर्तजा: सामने आई पहली बीवी भी, कहा- उसकी अम्मी मुझे करती थी टॉर्चर

मुर्तजा के घर की छानबीन के दौरान एटीएस को एयरगन मिली है। बताया जा रहा है कि वह पिछले कुछ समय से एयरगन से निशाने लगाने का अभ्यास कर रहा था।

गोरखपुर के गोरखनाथ मंदिर पर हमला (Gorakhnath Temple Attack) करने वाले अहमद मुर्तजा अब्बासी को लेकर लगातार चौंकाने वाले तथ्य सामने आ रहे हैं। रिपोर्टों के अनुसार वह एयरगन से अपने घर की छत पर ही टारगेट को ढेर करने का अभ्यास कर रहा था। यह भी पता चला है कि घरेलू हिंसा की वजह से उसका अपनी पहली बीवी से तलाक हुआ था।

मुर्तजा का निकाह 2019 में जौनपुर की सलमा उर्फ शादमा के साथ हुआ था, लेकिन कुछ ही महीनों में तलाक हो गया। सलमा के पिता मुजफ्फरुल हक का कहना है कि उनकी बेटी को उसकी सास प्रताड़ित करती थी। उन्होंने यह भी बताया है कि मुर्तजा केमिकल इंजानियर है और निकाह के वक्त पूरी तरह ठीक था। मंदिर पर हमले को लेकर टिप्पणी करने से इनकार करते हुए उन्होंने बताया कि तलाक के बाद उससे उनलोगों का संपर्क नहीं है।

मुर्तजा को उसके पिता मानसिक रूप से अस्थिर बता रहे हैं। हालाँकि उसका इलाज करने वाले डॉक्टर ने भी इस दावे को नकार दिया है। पूर्व बीवी सलमा का भी कहना है कि मुर्तजा के साथ कोई मानसिक समस्या नहीं थी। रिपोर्ट के अनुसार सलमा ने बताया है कि निकाह के बाद दोनों कुछ महीने ही साथ रहे थे। इस दौरान मुर्तजा कम ही बोलता था। वह अपना लैपटॉप और मोबाइल उसे नहीं छूने देता था। सलमा का कहना है कि मुर्तजा की वैवाहिक जीवन में रूचि नहीं थी और उसकी अम्मी उसे काफी प्रताड़ना दिया करती थी।

उल्लेखनीय है कि मुर्तजा के आतंकी संगठन ISIS से लिंक मिले हैं। वह कट्टरपंथी जाकिर नाइक के वीडियो देखता था। उसके लैपटॉप से जिहादी सामग्री भी बरामद की गई है।

इस बीच आज तक की रिपोर्ट में बताया गया है कि मुर्तजा के घर की छानबीन के दौरान एटीएस को एयरगन मिली है। बताया जा रहा है कि वह पिछले कुछ समय से एयरगन से निशाने लगाने का अभ्यास कर रहा था। यह अभ्यास वह अपने घर की छत या खाली जगह पर करता था। एटीएस की टीम उसकी पूर्व बीवी के घर जौनपुर भी गई थी।

गौरतलब है कि मुर्तजा ने रविवार (3 अप्रैल 2022) को गोरखनाथ मंदिर पर हमला किया था। वह गमछे में धारदार हथियार छिपाकर लाया था। रोके जाने पर उसने पीएसी जवानों को घायल कर दिया था। वह अल्लाहु अकबर के नारे लगा रहा था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बाबरी का पक्षकार राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह में आ गया, लेकिन कॉन्ग्रेस ने बहिष्कार किया’: बोले PM मोदी – इन्होंने भारतीयों पर मढ़ा...

प्रधानमंत्री ने स्पष्ट ऐलान किया कि अब यह देश न आँख झुकाकर बात करेगा और न ही आँख उठाकर बात करेगा, यह देश अब आँख मिलाकर बात करेगा।

कॉन्ग्रेस नेता को ED से राहत, खालिस्तानियों को जमानत… जानिए कौन हैं हिन्दुओं पर हमले के 18 इस्लामी आरोपितों को छोड़ने वाले HC जज...

नवंबर 2023 में जब राजस्थान में विधानसभा चुनाव को लेकर सरगर्मी चरम पर थी, जब जस्टिस फरजंद अली ने कॉन्ग्रेस उम्मीदवार मेवाराम जैन को ED से राहत दी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -