Friday, July 12, 2024
Homeदेश-समाजडंपर-थार की टक्कर के बाद जमा भीड़ को जगुआर ने रौंदा, 2 पुलिसकर्मी सहित...

डंपर-थार की टक्कर के बाद जमा भीड़ को जगुआर ने रौंदा, 2 पुलिसकर्मी सहित 9 की मौत: अहमदाबाद के इस्कॉन ब्रिज की घटना

अहमदाबाद के इस्कॉन ब्रिज पर एक एसयूवी थार को डंपर ने ट्रक मार दी। इसके बाद मौके पर लोगों की भीड़ जुट गई। ट्रैफिक पुलिस वाले वाहन को साइड कराने की कोशिश कर रहे थे। तभी 160 की स्पीड से जगुआर ने भीड़ को रौंद दिया।

गुजरात के अहमदाबाद के इस्कॉन ब्रिज पर एक जगुआर कार ने करीब दो दर्जन लोगों को रौंद दिया। इस घटना में 9 लोगों की मौत हो गई और 13 घायल हैं। मृतकों में दो पुलिस के कॉन्स्टेबल भी हैं। ये लोग एक डंपर और एसयूवी थार की टक्कर के बाद ब्रिज पर जमा हुए थे।

हादसे के समय जगुआर की स्पीड 160 किलोमीटर प्रति घंटे होने की बात कही जा रही है। कार का ड्राइवर भी हादसे में घायल हो गया। उसका इलाज चल रहा है। क्षतिग्रस्त हो चुकी जगुआर को पुलिस ने कब्ज़े में ले लिया है। राज्य सरकार ने मृतकों और घायलों के परिजनों को आर्थिक सहायता का ऐलान किया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक घटना सरखेज-गांधीनगर राजमार्ग के इस्कॉन पुल की है। गुरुवार (20 जुलाई 2023) तड़के एक डंपर ने थार एसयूवी वाहन को टक्कर मार दी। घटना के बाद ट्रक ड्राइवर मौके से फरार हो गया। इसके बाद ब्रिज पर लोगों की भीड़ जमा हो गई थी। कुछ ही देर में इस पुल से एक जगुआर कार लगभग 160 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड से गुजरी। उसने पुल पर खड़े लोगों को रौंद दिया। बताया जा रहा है कि मृतकों के शव कार में लगभग 200 मीटर तक घिसटते चले गए थे। उन्हें क्षत-विक्षत हालत में बाहर निकाला गया।

इस हादसे में कुल 9 लोगों की मौत हो गई। मृतकों में पुलिस के ट्रैफिक विभाग के 2 स्टाफ भी शामिल हैं जो घटनास्थल से वाहनों को हटवाने का प्रयास कर रहे थे। जिस जगुआर ने लोगों को कुचला, उसे तथ्य पटेल नाम का युवक चला रहा था। हादसे में वह भी घायल हुआ है। तथ्य पटेल को अन्य घायलों के साथ अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। तथ्य के पिता भी गैंगरेप के एक केस में आरोपित हैं और अभी जमानत पर बाहर हैं।

गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने प्रत्येक मृतक के परिजनों को 4 लाख रुपए देने का एलान किया है। वहीं हादसे में घायल व्यक्तियों को 50 हजार रुपए की आर्थिक सहायता दी जाएगी। अहमदाबाद पुलिस की DCP ट्रैफिक नीता देसाई ने बताया कि आरोपित ड्राइवर तथ्य पटेल का इलाज पुलिस कस्टडी में हो रहा है। इलाज के बाद ड्राइवर तथ्य पटेल को गिरफ्तार किया जाएगा।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेपाल में गिरी चीन समर्थक प्रचंड सरकार, विश्वास मत हासिल नहीं कर पाए माओवादी: सहयोगी ओली ने हाथ खींचकर दिया तगड़ा झटका

नेपाल संसद के निचले सदन प्रतिनिधि सभा में अविश्वास प्रस्ताव पर हुए मतदान में प्रचंड मात्र 63 वोट जुटा पाए। जिसके बाद सरकार गिर गई।

उधर कॉन्ग्रेसी बक रहे गाली पर गाली, इधर राहुल गाँधी कह रहे – स्मृति ईरानी अभद्र पोस्ट मत करो: नेटीजन्स बोले – 98 चूहे...

सवाल हो रहा है कि अगर वाकई राहुल गाँधी को नैतिकता का इतना ज्ञान है तो फिर उन्होंने अपने समर्थकों के खिलाफ कभी कार्रवाई क्यों नहीं की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -