Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाज'तेरे खून के प्यासे बैठे हैं': नूपुर शर्मा की तस्वीर अपलोड करने पर गुजरात...

‘तेरे खून के प्यासे बैठे हैं’: नूपुर शर्मा की तस्वीर अपलोड करने पर गुजरात के कारोबारी को हत्या की धमकी, महिला समेत 3 गिरफ्तार

इन सब के अलावा धमकी देने वालों में मुना मलिक, शहजाद कटपीसवाला, फैजान और एक अन्य है। इन सभी ने बिजनेसमैन की पोस्ट पर धमकी देते हुए कहा था...

पैगंबर मुहम्मद पर भाजपा से निलंबित नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) के कथित बयान को लेकर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस्लामिक कट्टरपंथी हर उन व्यक्तियों को लगातार धमकियाँ दे रहे हैं, जो भी उनके बयान का समर्थन कर रहे हैं या उनकी तस्वीरों को सोशल मीडिया पर पोस्ट कर रहे हैं। ताजा मामला गुजरात के सूरत शहर का है, जहाँ इंस्टाग्राम पर नूपुर शर्मा की तस्वीर शेयर करने पर एक युवा बिजनेसमैन को हत्या की धमकियाँ देने का मामला प्रकाश में आया है। इस मामले में उमरा थाने में प्राथमिकी दर्ज कर पुलिस ने मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

पीड़ित व्यापारी शहर में एक मनोरंजन पार्क का संचालन करता है। उसने पार्क के आधिकारिक इंस्टाग्राम पेज पर नूपुर शर्मा की तस्वीर को अपलोड किया था। इसके बाद इस्लामिक कट्टरपंथी मानसिकता वाले सात लोगों ने उन्हें हत्या की धमकियाँ दी। पहले तो उन्होंने इन धमकियों को अनदेखा कर दिया, लेकिन जब ये एक सिलसिला बन गया तो बिजनेसमैन ने पुलिस में शिकायत की। केस दर्ज कर तीन को गिरफ्तार भी कर लिया गया है।

गिरफ्तार किए गए आरोपितों में मोहम्मद अयान अताशबाजीवाला, राशिद भूरा और आलिया मोहम्मद नाम की महिला भी शामिल है। ये सभी सूरत के ही रहने वाले हैं। इन सभी के खिलाफ इंडियन पीनल कोड की धारा 504 (शांति भंग करने के इरादे से अपमान), 506 और 507 के तहत केस दर्ज किया गया है।

इन सब के अलावा धमकी देने वालों में मुना मलिक, शहजाद कटपीसवाला, फैजान और एक अन्य है। इन सभी ने बिजनेसमैन की पोस्ट पर धमकी देते हुए कहा था, “सूरत में रहना है या जाना है, फिलहाल क्लोज कर के निकल, तेरे खून के प्यासे बैठे हैं, कहीं वहाँ न आ जाएँ।”

शर्मा का समर्थन करने वालों को धमकियाँ

ये कोई पहली बार नहीं है जब नूपुर शर्मा का समर्थन करने वालों को हत्या की धमकियाँ दी गई हैं। इससे पहले हाल ही में अहमदाबाद के एक वकील ने केवल 3 मिनट के लिए अपने व्हाट्सएप स्टेटस पर नूपुर शर्मा की तस्वीर लगाई थी। जिसके बाद उन्हें लगातार सिर तन से जुदा वाली धमकियाँ दी जाने लगी। बाद में उन्होंने पुलिस केस किया।

इसी तरह से राजस्थान में बाड़मेर से बीजेपी की आईटी सेल के संयोजक भूर सिंह राजपुरोहित को परिवार समेत खत्म करने की धमकियाँ दी गई थीं। उन्होंने जिहादी शब्द का इस्तेमाल किया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

वकील चलाता था वेश्यालय, पुलिस ने की कार्रवाई तो पहुँचा हाई कोर्ट: जज ने कहा- इसके कागज चेक करो, लगाया ₹10000 का जुर्माना

मद्रास हाई कोर्ट में एक वकील ने अपने वेश्यालय पर कार्रवाई के खिलाफ याचिका दायर की। कोर्ट ने याचिका खारिज करके ₹10,000 का जुर्माना लगा दिया।

माजिद फ्रीमैन पर आतंक का आरोप: ‘कश्मीर टाइप हिंदू कुत्तों का सफाया’ वाले पोस्ट और लेस्टर में भड़की हिंसा, इस्लामी आतंकी संगठन हमास का...

ब्रिटेन के लेस्टर में हिन्दुओं के विरुद्ध हिंसा भड़काने वाले माजिद फ्रीमैन पर सुरक्षा एजेंसियों ने आतंक को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -