Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाजBJP नेता के परिवार को उड़ाने की धमकी, कन्हैया लाल की हत्या पर कहा...

BJP नेता के परिवार को उड़ाने की धमकी, कन्हैया लाल की हत्या पर कहा था- जिहादियों का बहिष्कार करो: नूपुर शर्मा का फोटो लगाने वाले वकील टारगेट पर

बीजेपी नेता ने बताया कि कन्हैया लाल की हत्या के बाद एक फेसबुक पोस्ट में उन्होंने जिहादियों का बहिष्कार करने की बात कही थी। इसके बाद से ही धमकी आने का सिलसिला शुरू हो गया।

उदयपुर में कन्हैया लाल और अमरावती में उमेश कोल्हे की बर्बर हत्याओं के बाद से इस्लामवादियों द्वारा धमकी दिए जाने के मामले लगातार सामने आ रहे है। गुजरात के एक अहमदाबाद में वकील कृपाल रावल को हत्या की धमकी दी गई है। वहीं, राजस्थान के बाड़मेर में बीजेपी आईटी सेल संयोजक भूर सिंह राजपुरोहित को परिवार समेत बम से उड़ाने की धमकी दी गई है।

अहमदाबाद के रहने वाले वकील कृपाल रावल (32) ने पिछले महीने नूपुर शर्मा की तस्वीर अपने व्हाट्सएप स्टेटस में लगाई थी। ये इमेज केवल तीन मिनट के लिए अपलोड की गई थी। इसके बाद इसे उन्होंने हटा लिया था। लेकिन इसके बाद से उन्हें लगातार इस्लामवादी धमकियाँ दे रहे हैं। व्हाट्सएप स्टेटस हटाने के करीब दो घंटे बाद उन्हें व्हाट्सएप पर मैसेज आया। इसमें उन्हें गाली देते हुए नूपुर शर्मा को सपोर्ट करने का कारण पूछा गया।

इसके कुछ घंटों के बाद एक अज्ञात व्यक्ति ने उन्हें नूपुर शर्मा वाले मामले को लेकर हत्या की धमकी दी। इसके बाद रावल ने साबरमती पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने आईपीसी की धारा 507 के तहत केस दर्ज किया है। उल्लेखनीय है कि 13 जून को रावल ने नूपुर शर्मा के प्रति अपना समर्थन जताने के लिए उनकी इमेज को स्टेटस बनाया था।

इसी तरह से राजस्थान में बीजेपी नेता भूर सिंह राजपुरोहित को धमकी मिली है। उन्हें अज्ञात लोगों ने फोन पर 24 घंटे के अंदर मारने की धमकी दी। फोन करने वाले ने उनकी पूरी फैमिली को खत्म करने की बात भी कही। उसने कहा कि घर में घुसकर बम विस्फोट करूँगा।

घटना के बाद जिले के एसपी से मिलकर बीजेपी नेता ने सुरक्षा की गुहार लगाई। एसपी दीपक भार्गव के मुताबिक, फिलहाल बीजेपी नेता की सुरक्षा में एक गनमैन को लगा दिया गया है। भूर सिंह के मुताबिक, 4-5 दिनों से अलग-अलग नंबरों से दर्जनों फोन आ चुके हैं। उन्होंने बताया कि कन्हैया लाल की हत्या के बाद एक फेसबुक पोस्ट में उन्होंने जिहादियों का बहिष्कार करने की बात कही थी। इसमें असंवैधानिक या गैर कानूनी शब्दों का प्रयोग नहीं किया। केवल इतना लिखा कि जिहादियों का बहिष्कार करो। इसके बाद से ही धमकी आने का सिलसिला शुरू हो गया।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -