Monday, July 26, 2021
Homeदेश-समाजभारत में 80% कोरोना मरीज हो रहे हैं स्वस्थ, राज्यों को मोदी सरकार दे...

भारत में 80% कोरोना मरीज हो रहे हैं स्वस्थ, राज्यों को मोदी सरकार दे रही है 5 लाख रैपिड टेस्ट किट: स्वास्थ्य मंत्रालय

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव ने आज देश का हेल्थ बुलेटिन जारी करते हुए कहा कि अन्य बड़े देशों की तुलना में भारत में 80 प्रतिशत मरीज ठीक हो रहे हैं। साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 1,007 नये मामले सामने आए और 23 लोगों की मौत हुई है।

देश में भले ही लगातार कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ रही है, लेकिन इस बीच स्वास्थ्य मंत्रालय ने देशवासियों को राहत भरी खबर दी है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव ने कहा है कि अन्य बड़े देशों की तुलना में भारत में 80 प्रतिशत मरीज ठीक हो रहे हैं। मंत्रालय ने जानकारी देते हुए बताया कि पिछले 24 घंटे में देश में 1007 नए कोरोना के मामले सामने आए हैं और 24 घंटे में 23 लोगों की मौत हुई है, इसी के साथ देश में कोरोना से मौत का आँकड़ा बढ़कर 452 हो गया है।

भारत लगातार कोरोना के खिलाफ एक लंबी लड़ाई लड़ रहा है। इस दिशा में सफलता मिलती भी दिख रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव ने आज देश का हेल्थ बुलेटिन जारी करते हुए कहा कि अन्य बड़े देशों की तुलना में भारत में 80 प्रतिशत मरीज ठीक हो रहे हैं। साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 1,007 नये मामले सामने आए और 23 लोगों की मौत हुई है।

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने शुक्रवार मीडिया को जानकारी देते हुए कहा कि कोरोना से जंग लड़ने के लिए हमें हर मोर्चे तैयार रहना होगा। इसीलिए कोशिश की जा रही है कि इसकी वैक्सीन जल्द से जल्द अपने देश में तैयार हो सके। हम बीसीजी, प्लाज्मा थेरेपी, मोनोक्लोनल एंटीबॉडीज पर काम कर रहे हैं, क्योंकि हमारे लिए एक भी मौत बेहद चिंता का विषय है। उन्होंने आगे कहा कि कोरोना वायरस के मामलों में दूसरे देशों की तुलना में भारत की स्थिति बेहतर है।

अग्रवाल ने जानकारी देते हुए कहा कि कोरोना के केसों के ग्रोथ फैक्टर में 40 फीसदी की कमी आई है। इतना ही नहीं कोरोना के मामले दोगुने होने की दर में भी पिछले 7 दिनों के अंदर कमी आई है और कोरोना महामारी की चपेट में आए अब तक 13.06 फीसदी लोग रिकवर हुए हैं। वहीं स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि केंद्र की और से राज्यों को पाँच लाख रैपिट टेस्ट किट दिया जा रहा है, जिससे मात्र 30 मिनट में कोरोना की रिपोर्ट आ जाएगी।

वहीं गृह मंत्रालय ने जानकारी देते हुए बताया कि फसलों की कटाई के लिए लॉकडाउन में छूट मिलेगी। कोऑपरेटिव क्रेडिट सोसयटी और गैर बैंकिंग वित्तीय संस्थानों को न्यूनतम स्टाफ के साथ काम करने की अनुमति दी गई है। ग्रामीण क्षेत्रों में निर्माण गतिविधियों के लिए जलापूर्ति, बिजली, दूरसंचार से जुड़ी परियोजनाओं को छूट है। इसमें भारतीय डाक सेवा की महत्वपूर्ण भूमिका है। देश के विभिन्न हिस्सों में मोबाइल पोस्ट ऑफिस काम कर रहे हैं।

बात करें पूरे भारत की तो देश में अब तक कोरोना मरीजों की संख्या स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक 11616, इससे मरने वालों की संख्या 452 हो गई है। राहत की बात यह कि इनमें से 1766 मरीज ऐसे हैं जो कि अस्पतालों से ठीक होकर अपने घरों को लौट चुके हैं। वहीं देश में कोरोना वायरस से सबसे अधिक मौतें 194 लोगों की मौत महाराष्ट्र में हुई हैं। यहाँ अब इस महामारी से पीड़ितों की संख्या 3205 हो गई है। 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हम आपको नहीं सुनेंगे…’: बॉम्बे हाईकोर्ट से जावेद अख्तर को झटका, कंगना रनौत से जुड़े मामले में आवेदन पर हस्तक्षेप से इनकार

जस्टिस शिंदे ने कहा, "अगर हम इस तरह के आवेदनों को अनुमति देते हैं तो अदालतों में ऐसे मामलों की बाढ़ आ जाएगी।"

सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस रहे मदन लोकुर से पेगासस ‘इंक्वायरी’ करवाएँगी ममता बनर्जी, जिस NGO से हैं जुड़े उसे विदेशी फंडिंग

पेगासस मामले की जाँच के लिए गठित आयोग का नेतृत्व सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश मदन लोकुर करेंगे। उनकी नियुक्ति सीएम ममता बनर्जी ने की है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,294FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe