हैदराबाद एनकाउंटर के बाद पुलिस पर बरसाए फूल, महिलाओं ने बाँधी राखी… औवैसी ने कहा – ‘जाँच हो’

AIMIM के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी समेत कई लोगों ने एनकाउंटर पर सवाल भी उठाया है और कहा है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार हर मुठभेड़ की जाँच की जानी चाहिए।

हैदराबाद के शादनगर में पशु चिकित्सक ‘प्रीति रेड्डी’ (बदला हुआ नाम) की निर्मम हत्या के बाद से सवालों के घेरे में आई राज्य पुलिस को आज आरोपितों का मौक़ा-ए-वारदात पर एनकाउंटर करने के लिए चारों ओर से बधाई दी जा रही है। सोशल मीडिया से लेकर सड़कों तक पुलिस को आभार व्यक्त किया जा रहा है। इसी कड़ी में एक और खबर आई है। एनकाउंटर के बाद घटनास्थल पर पहुँचे हजारों लोगों ने पुलिस पर फूल बरसाए हैं और महिलाओं ने पुलिस की कार्रवाई पर अपनी खुशी प्रकट करते हुए उन्हें राखी बाँधी है। इसके अलावा राज्य में एसीपी और डीसीपी जिंदाबाद के नारे लगाए जाने के वीडियो भी सामने आए हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार एनकाउंटर की सूचना मिलने के बाद घटनास्थल पर हजारों लोगों की भीड़ इकट्ठी हो गई। भीड़ को संभालने के लिए वहाँ पुलिस टीम तैनात की गई है। यहाँ जुटी भीड़ पुलिस के प्रति आभार व्यक्त करने के लिए उन पर फूल बरसा रही है। वहीं, पीड़िता की पड़ोसी महिलाओं ने पुलिस अधिकारियों को राखी बाँधकर अपनी खुशी जाहिर की है।

गौरतलब है कि पीड़िता के पिता और बहन समेत देश भर की कई बड़ी हस्तियों और राजनेताओं ने इस एनकाउंटर का समर्थन किया है। एक टीवी चैनल से बातचीत करते हुए कानून मंत्री रेड्डी ने कहा कि आरोपितों को भगवान ने उनके किए की सजा दी है। जिससे हैदराबाद समेत पूरे देश में खुशी है। उन्होंने दावा भी किया कि वह चारों पुलिस के हथियार लेकर भागने की कोशिश कर रहे थे, तभी पुलिस ने उन पर फायरिंग की।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

इस एनकाउंटर के बाद बता दें AIMIM के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी समेत कई लोगों ने एनकाउंटर पर सवाल भी उठाया है और कहा है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार हर मुठभेड़ की जाँच की जानी चाहिए।

‘मेरी बेटी की आत्मा को अब शांति मिलेगी’ – ‘प्रीति रेड्डी’ के पिताजी ने कही ‘दिल की बात’
मारे गए सभी आरोपित: पुलिस ने वहीं किया एनकाउंटर, जहाँ ‘प्रीति रेड्डी’ के साथ किया था जघन्य अपराध
डॉ. प्रीति रेड्डी का आखिरी फोन कॉल… पहचान हुई उस लॉरी की जहाँ मौत के बाद भी दरिंदों ने उन्हें नोचा था
‘भगवान ने किया न्याय, हैदराबाद समेत पूरे देश में खुशी’ – इनकाउंटर में 4 की मौत के बाद तेलंगाना के कानून मंत्री
शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

शाहीन बाग़, शरजील इमाम
वे जितने ज्यादा जोर से 'इंकलाब ज़िंदाबाद' बोलेंगे, वामपंथी मीडिया उतना ही ज्यादा द्रवित होगा। कोई रवीश कुमार टीवी स्टूडियो में बैठ कर कहेगा- "क्या तिरंगा हाथ में लेकर राष्ट्रगान गाने वाले और संविधान का पाठ करने वाले देश के टुकड़े-टुकड़े गैंग के सदस्य हो सकते हैं? नहीं न।"

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

144,507फैंसलाइक करें
36,393फॉलोवर्सफॉलो करें
164,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: