डॉ. प्रीति रेड्डी का आखिरी फोन कॉल… पहचान हुई उस लॉरी की जहाँ मौत के बाद भी दरिंदों ने उन्हें नोचा था

लॉरी के मालिक रेड्डी ने ही पुलिस को बताया कि मोहम्मद अरिफ़ ड्राइवर था और उसके साथ जोलू श्रीनी, जोलू नवीन और चेन्ना केशवलु थे। उन्होंने अधिकारियों को यह भी बताया कि उनका मूल निवास नारायणपेट ज़िले में था।

हैदराबाद में महिला वेटनरी डॉक्टर को रेप के बाद जला देने के मामले में धीरे-धीरे साजिश की परतें खुल रही है। रिमांड रिपोर्ट से पता चला है कि डॉ. प्रीति रेड्डी (बदला हुआ नाम) की मौत के बाद भी आरोपितों ने एक लॉरी में उनके शव के साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया था। इस लॉरी तक पहुॅंचने में डॉ. रेड्डी का आखिरी फोन कॉल पुलिस के लिए मददगार साबित हुआ।

ख़बर के अनुसार, 26 वर्षीय डॉ. रेड्डी ने ने आखिरी कॉल मुख्य आरोपित मोहम्मद उर्फ आरिफ को की थी। आरिफ ने भरोसा जीतने के लिए उन्हें अपना मोबाइल नंबर दिया था। उनकी स्कूटी ठीक कराने गया आरिफ का साथी जब काफी देर तक नहीं लौटा तो उन्होंने इस नंबर पर कॉल किया। यह घटना बुधवार रात के करीब 9.20 की थी।

15 मिनट बाद डॉ. रेड्डी ने मोहम्मद आरिफ़ का कॉल किया। इसके बाद ही आरोपित उन्हें घसीटकर पास के खेत में ले गए जहॉं उनसे चारों ने बारी-बारी से दुष्कर्म किया। मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, आरिफ को कॉल करने से पहले डॉ. रेड्डी ने अपनी बहन को फोन कर स्कूटी पंक्चर होने की जानकारी दी थी। इस दौरान उन्होंने लॉरी का भी जिक्र किया था। घटनास्थल के पास के एक प्रतिष्ठान के सीसीटीवी फुटेज में लॉरी नजर आई। यह बुधवार रात टोल प्लाजा से 300 मीटर की दूरी पर पार्क की गई थी। लेकिन, अंधेरे की वजह से पुलिस को उसका नंबर पता नहीं चल पाया।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि फोन कॉल और अन्य सीसीटीवी फुटेज की मदद से पुलिस लॉरी की पहचान करने में कामयाब रही। फिर लॉरी के मालिक श्रीनिवास रेड्डी तक पहुॅंची। उसने आरिफ के बारे में जानकारी दी जो लॉरी का ड्राइवर था। आरिफ के गिरफ्त में आने के बाद पुलिस उसके साथियों जोलू श्रीनी, जोलू नवीन और चेन्ना केशवलु तक पहुॅंची। पुलिस ने बताया कि चारों आरोपितों ने अपना अपराध क़बूल कर लिया है।

बता दें कि डॉ. रेड्डी की जली हुई लाश गुरुवार (28 नवंबर) की सुबह हैदराबाद के बाहरी इलाके में मिली थी। इसके बाद से ही देशभर में इस घटना के ख़िलाफ़ भारी ग़ुस्सा है और देश के हर कोने में विरोध-प्रदर्शन किए जा रहे हैं। इस मामले में पहली सफलता शुक्रवार की सुबह मिली थी, जब एक स्थानीय पेट्रोल पंप पर कर्मचारी ने पुलिस को बुलाया। उसने बताया कि बुधवार रात करीब 12.30 बजे, एक लाल रंग की स्कूटी पर दो लोग पेट्रोल लेने के लिए पहुँचे थे।

दरअसल, डॉक्टर रेड्डी के साथ हुई दरिंदगी की ख़बर जैसे ही सार्वजनिक हुई और मीडिया में इसे दिखाया गया, पुलिस के 100 नंबर पर किसी ने एक कॉल किया। फोन कॉल करने वाले व्यक्ति का नाम लिंगाराम प्रवीण गौड़ था। लिंगाराम ने पुलिस को महत्वपूर्ण सूचना दी। उन्होंने पुलिस को बताया कि लाल रंग की स्कूटर पर आए दो लोगों ने पेट्रोल ख़रीदने की कोशिश की थी और प्लास्टिक की बोतल में डाल कर जाना चाह रहे थे। लिंगाराम उसी पेट्रोल पम्प पर कार्यरत हैं।

लिंगाराम ने बताया कि दोनों पहली नज़र में ही संदिग्ध प्रतीत हो रहे थे। उनकी गतिविधियाँ संदेहास्पद होने के कारण लिंगाराम ने उन्हें पेट्रोल बेचने से इनकार कर दिया। गवाह लिंगाराम ने पुलिस को यह भी बताया कि वो आरोपितों को सामने देखते ही पहचान सकते हैं।

बता दें कि डॉक्टर प्रीति रेड्डी रेप और हत्याकांड में पुलिस ने जो रिमांड कॉपी तैयार की है, उसकी एक कॉपी ऑपइंडिया ने भी एक्सेस की है। इस पूरी वारदात से लेकर उसकी जाँच और फिर आरोपितों की धर-पकड़ तक, इसमें पुलिस ने सभी जानकारियाँ एक जगह लिखी हैं। इसमें बताया गया है कि कैसे सूचना मिलने पर जब पुलिस अधिकारी मौके पर पहुँचे तो उन्होंने पीड़िता की झुलस चुकी लाश बरामद की। पुलिस ने बताया है कि डॉक्टरों को घटनास्थल पर ही बुला कर ‘स्पॉट ऑटोप्सी’ कराई गई।

पुलिस की रिपोर्ट में आरोपितों के नाम एवं उम्र इस प्रकार हैं- मोहम्मद आरिफ़ (26), जोल्लू शिवा (20), जोल्लू नवीन कुमार (20) और चिन्ताकुट्टा चेन्ना केशवुलु (21)। पहले ख़बरों में सम्भावना जताई जा रही थी कि एक आरोपित नाबालिग है लेकिन पुलिस की रिपोर्ट के अनुसार, चारों बालिग़ हैं। 

मोहम्मद आरिफ़ ने पीड़िता के मुँह और नाक को तब तक दबाए रखा, जब तक उसकी मृत्यु नहीं हो गई। बाद में उसे चादर में लपेट कर ले जाया गया और जला दिया गया। मोहम्मद आरिफ़ ने डेड बॉडी पर पेट्रोल डाला, नवीन ने डीजल डाला और शिवा ने आग लगाई। सिम कार्ड और हैंडबैग को भी आग में फेंक दिया गया। इसके बाद आरोपितों ने स्कूटी को कोथूर बस स्टॉप के पास पार्क कर दिया। इसके बाद चारों आरोपित वहाँ से भाग निकले।

यह भी पढ़ें: ‘जैसे ‘डॉ प्रीति’ को मारा, मेरे हैवान बेटे को भी जिंदा जला कर मार दो… लोग मुझसे नफरत करेंगे’

यह भी पढ़ें:…वो पेट्रोल पम्प वर्कर, जिसकी मदद से ‘प्रीति रेड्डी’ के बलात्कारी-हत्यारे तक पहुँच पाई पुलिस

यह भी पढ़ें: प्रीति रेड्डी मर गई फिर भी रेप करते रहे दरिंदे: आरिफ के प्लानिंग की पूरी डिटेल

यह भी पढ़ें: ‘प्रीति’ रेड्डी केस: खेत में घसीट कर बारी-बारी से किया रेप, ट्रक में लाश डाल खरीदा था पेट्रोल-डीजल

यह भी पढ़ें: ‘पूरी तरह जली या नहीं’ – स्कूटर से बॉडी को वापस देखने आए थे आरोपित: ‘प्रीति’ रेड्डी केस में नया खुलासा


शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

उद्धव ठाकरे-शरद पवार
कॉन्ग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गॉंधी के सावरकर को लेकर दिए गए बयान ने भी प्रदेश की सियासत को गरमा दिया है। इस मसले पर भाजपा और शिवसेना के सुर एक जैसे हैं। इससे दोनों के जल्द साथ आने की अटकलों को बल मिला है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

118,575फैंसलाइक करें
26,134फॉलोवर्सफॉलो करें
127,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: