Sunday, August 1, 2021
Homeदेश-समाजडॉ आमिर खान गिरफ्तार, ₹4000 का इंजेक्शन बेच रहा था ₹60000 में: कोरोना पीड़ितों...

डॉ आमिर खान गिरफ्तार, ₹4000 का इंजेक्शन बेच रहा था ₹60000 में: कोरोना पीड़ितों को ठगने में MR इमरान भी शामिल

डॉक्टर आमिर खान और MR इमरान खान ने कोरोना पीड़ित को दिए जाने वाले इंजेक्शन का न सिर्फ नकली बिल बनाया, बल्कि उसे 4000 की जगह 60,000 रुपए में बेचा।

इंदौर के एक अस्पताल में कोरोना वायरस संक्रमण का फायदा उठा कर मरीजों को लूटने वाले दो लोग गिरफ्तार किए गए हैं, जिनमें से एक डॉक्टर है तो एक मेडिकल रिप्रेजेन्टेटिव। जिन पर लोगों की जान बचाने की जिम्मेदारी है, उन्हें ही मरीजों की आपात स्थिति का फायदा उठा कर अपनी कमाई करते हुए दबोचा गया। अस्सिस्टेंट ड्यूटी डॉक्टर आमिर खान और MR इमरान खान के खिलाफ अंकिता यादव नामक महिला ने शिकायत की थी।

दोनों पर आरोप है कि उन्होंने कोरोना पीड़ित को दिए जाने वाले इंजेक्शन का न सिर्फ नकली बिल बनाया, बल्कि उसे 60,000 रुपए में बेचा। ये घटना मध्य प्रदेश के इंदौर स्थित मयूर अस्पताल की है। खजराना TI दिनेश वर्मा ने बताया कि अंकिता यादव की बहन प्रीति कोरोना पीड़ित हो गई थीं और उन्हें इसी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वहाँ डॉक्टर ने एक अर्जेन्ट इंजेक्शन लिखा और उसे खरीद कर लाने को कहा।

उसी अस्पताल में मौजूद डॉक्टर आमिर खान ने महिला से कहा कि वो इस इंजेक्शन को उपलब्ध करा सकता है। जब महिला ने बिल माँगा तो उसने इनकार कर दिया। फिर 60,000 रुपए का ऑनलाइन पेमेंट लेकर इंजेक्शन दे दिया। बाद में उसने महिला के मोबाइल नंबर पर बिल भेज दिया। पड़ताल में पता चला कि बिल पर छपा नंबर MR इमरान खान का था। बिल उसने ही छपवाए थे। वो लंबे समय से आमिर के साथ मिल कर ठगी के कारोबार में लगा था।

आमिर खान इससे पहले स्वर्णबाग कॉलोनी में हेल्थ प्लस नाम से क्लिनिक चलाता था। दोनों के खिलाफ जयदीप साधवानी नामक शख्स ने भी शिकायत की थी। उन्होंने कहा था कि वो लाइफ विजन नामक फर्म चलाते हैं, जो किसी व्यक्ति को सीधे दवाई नहीं देता। सिर्फ अस्पताल और मेडिकल स्टोर्स को ही दवाई सप्लाई की जाती है। अंकिता यादव बिल लेकर उनके पास ही पहुँची थीं और साइन करने को कहा था।

लेकिन, उन्होंने भाँप लिया कि वो एक फर्जी बिल था। उन्होंने नंबर पर कॉल किया तो इमरान ने बताया कि वो इन्फोबेल में कार्यरत है। अंसार खान का बेटा आमिर सिल्वर कॉलोनी का रहने वाला है, जबकि जबकि बाबू खान का बेटा इमरान शाहीबाग का निवासी है। जिस इम्युनोसीन अल्फा इंजेक्शन को वो 60,000 में बेचते थे, उसकी सामान्य कीमत 4000 रुपए है। मयूर अस्पताल इंदौर के रोतला रिंग रोड पर स्थित है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पाकिस्तानी मंत्री फवाद चौधरी चीन को भूले, Covid के लिए भारत को ठहराया जिम्मेदार, कहा- विश्व ‘इंडियन कोरोना’ से परेशान

पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी ने कहा कि दुनिया कोरोना महामारी पर जीत हासिल करने की कगार पर थी, लेकिन भारत ने दुनिया को संकट में डाल दिया।

ये नंगे, इनके हाथ अपराध में सने, फिर भी शर्म इन्हें आती नहीं… क्योंकि ये है बॉलीवुड

राज कुंद्रा या गहना वशिष्ठ तो बस नाम हैं। यहाँ किसिम किसिम के अपराध हैं। हिंदूफोबिया है। खुद के गुनाहों पर अजीब चुप्पी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,314FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe