Thursday, September 23, 2021
Homeदेश-समाजकश्मीर का कोना-कोना भारतीय राष्ट्रीय ध्वज के रंगों से सराबोर, भावुक कश्मीरियों ने दिया...

कश्मीर का कोना-कोना भारतीय राष्ट्रीय ध्वज के रंगों से सराबोर, भावुक कश्मीरियों ने दिया पीएम मोदी को धन्यवाद

पत्रकार ने आगे लिखा कि 2003 के बाद से 15 अगस्त को भारतीय स्वतंत्रता दिवस पर पहली बार कश्मीर में सभी फोन, एसएमएस और इंटरनेट सेवाएँ पूरी क्षमता के साथ काम कर रही थीं।

भारत के 75वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर जश्न मनाने के लिए केंद्र शासित प्रदेश जम्मू और कश्मीर को भारतीय ध्वज के रंगों से सजाया गया है, जहाँ पर दशकों तक यह सब बंद था। सोशल मीडिया साइटों पर कई विजुअल्स वायरल हो रहे हैं, जिनमें घाटी के कई हिस्सों को राष्ट्रीय ध्वज के रंगों की रोशनी से रोशन किया गया है। 2019 में जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म किए जाने के बाद से घाटी में यह तीसरा स्वतंत्रता दिवस समारोह है।

श्रीनगर के लाल चौक स्थित घंटाघर को राष्ट्रीय ध्वज के रंगों से सजाया गया है।

समाचार एजेंसी एएनआई द्वारा साझा किए गए दृश्यों में रियासी जिले के सलाल बांध में तिरंगा रोशनी लगाई गई है।

जम्मू और कश्मीर में जेकेपीडीसीएल की परियोजनाओं को भी 75 वें स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर तिरंगे से रौशन कर दिया गया।

श्रीनगर, कश्मीर में तिरंगे की रोशनी से जगमगाते पुराने ज़ीरो ब्रिज को दिखाते हुए वीडियो का एक स्निपेट भी माइक्रोब्लॉगिंग साइट पर वायरल हो रहा है।

इसके अलावा श्रीनगर, कश्मीर में कई अन्य फ्लाईओवर, पुल और इमारतों को भी भारतीय ध्वज के रंगों से सजाया गया था।

जम्मू-कश्मीर के रामबन जिले में स्थित बघलियार बांध भी स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर भारतीय ध्वज के रंगों से जगमगा उठा।

श्रीनगर के मेयर जुनैद अजीम मट्टू ने ट्विटर पर यह जानकारी दी थी कि देश के 75वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर जम्मू-कश्मीर के सबसे ऊंचे तिरंगे का उद्घाटन श्रीनगर के हरि पर्वत किले में किया जाएगा।

स्वतंत्रता दिवस समारोह के उपलक्ष्य में जम्मू-कश्मीर के सैकड़ों स्कूलों और सरकारी कार्यालयों ने आज राष्ट्रीय ध्वज फहराया। पत्रकार अहमद अली फैयाज ने ट्वीट किया कि, सबसे पहले 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर 23,000 स्कूलों में भारतीय राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा।

पत्रकार ने आगे लिखा कि 2003 के बाद से 15 अगस्त को भारतीय स्वतंत्रता दिवस पर पहली बार कश्मीर में सभी फोन, एसएमएस और इंटरनेट सेवाएँ पूरी क्षमता के साथ काम कर रही थीं।

जम्मू और कश्मीर के नागरिक इस बात को लेकर भावुक हैं कि वे पहली बार अपनी मातृभूमि कश्मीर में स्वतंत्रता दिवस मना पाए। उन्होंने ‘इतिहास’ रचने के लिए पीएम मोदी को धन्यवाद दिया।

श्रीनगर स्थित लालचौक को भी तिरंगे के रंगों से सजाया गया है। उसी के सामने खड़े होकर एक वीडियो शेयर कर वहाँ के स्थानीय नागरिक साहिल टिक्कू ने केंद्र सरकार को धन्यवाद दिया। उसने ट्वीट किया, “मैं अपने जीवन में पहली बार अपनी मातृभूमि कश्मीर में स्वतंत्रता दिवस मना रहा हूँ! विश्वास नहीं हो रहा है कि यह हो रहा है। यह इतिहास है। जम्मू में एक शरणार्थी शिविर में पले-बढ़े एक विस्थापित हिंदू के रूप में जीवन भर इसके लिए तरसता रहा। धन्यवाद, @PMOIndia@HMOIndia@OfficeOfLGJand।”

भारत आज स्वतंत्रता के 75वें वर्ष में प्रवेश कर रहा है। लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र को संबोधित करते हुए, प्रधानमंत्री मोदी ने भारत के स्वतंत्रता के 100वें वर्ष में प्रवेश करने के लिए विकास का रोडमैप देश के सामने रखा। आप उनका भाषण सुन सकते हैं और इसके बारे में यहाँ और अधिक पढ़ सकते हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

इस्लामी कट्टरपंथ से डरा मेनस्ट्रीम मीडिया: जिस तस्वीर पर NDTV को पड़ी गाली, वह HT ने किस ‘दहशत’ में हटाई

इस्लामी कट्टरपंथ से डरा हुआ मेन स्ट्रीम मीडिया! ऐसा हम नहीं कह रहे बल्कि हिंदुस्तान टाइम्स ने ऐसा एक बार फिर खुद को साबित किया। जब कोरोना से सम्बंधित तमिलनाडु की एक खबर में वही तस्वीर लगाकर हटा बैठा।

गले पर V का निशान, चलता पंखा… महंत नरेंद्र गिरि के ‘सुसाइड’ पर कई सवाल, CBI जाँच को योगी सरकार तैयार

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष रहे महंत नरेंद्र गिरि की मौत के मामले की CBI जाँच कराने की सिफारिश की है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,886FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe