Monday, November 29, 2021
Homeदेश-समाज17 साल की लड़की से रेप में SP-BSP जिलाध्यक्ष गिरफ्तार, पीड़िता के भाई के...

17 साल की लड़की से रेप में SP-BSP जिलाध्यक्ष गिरफ्तार, पीड़िता के भाई के साथ भी कुकर्म

महिला के मुताबिक, उसके पति ने उसकी बेटी के साथ जो किया उसके अलावा उसके बेटे का भी यौन शोषण हुआ है। उसके साथ अप्राकृतिक सेक्स किया गया।

उत्तर प्रदेश के झांसी के ललितपुर में 17 साल की लड़की का दुष्कर्म करने के आरोप में उसके पिता के साथ सपा-बसपा जिलाध्यक्ष समेत 7 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। मामले में कुल 28 लोग आरोपित बनाए गए थे। 

इस संबंध में ललितपुर के एसपी निखिल पाठक ने 12 अक्टूबर को बयान देकर बताया था कि इस मामले में अभियुक्तों को पकड़ने के लिए 7 टीमों को काम पर लगाया गया था। अन्य लोगों की गिरफ्तारी भी जल्द होगी।

लड़की की माँ की शिकायत

बता दें कि पीड़िता द्वारा शिकायत दर्ज करवाने के बाद इस मामले में उसकी माँ ने भी पुलिस में 11 लोगों के विरुद्ध घरेलू हिंसा की शिकायत दी है और केस में कुछ नए खुलासे किए हैं। महिला की शिकायत में उसका पति, उसके सास-ससुर समेत कुछ लोग आरोपित बनाए गए हैं।

महिला के अनुसार, साल 2003 में उसके पति ने उसके माता-पिता को नशा कराकर उसका अपहरण किया था और साथ में घर से सोने के जेवर भी ले लिए थे। इसके बाद उससे जबरन आर्य समाज मंदिर में शादी की गई, जहाँ उसके पति के परिजन भी थे।

महिला बताती है कि शादी के पहले दिन से उसका पति उस पर अत्याचार करता था। इंतेहां तब हुई जब गर्भवती होने के बाद उसे गर्भपात के लिए कहा लेकिन महिला ने मना कर दिया। इसी के बाद सास-ससुर ने उसे खाना-पीना देना बंद कर दिया। जब बच्चा हुआ तो वो लड़की थी। इस वजह से उसे और तंग किया गया।

महिला फिर गर्भवती हुई तो उसके पति ने उसके प्राइवेट पार्ट को बुरी तरह चोटिल कर दिया। कई बार तो केरोसिन तेल देकर उसे मारने की कोशिश हुई। उस पर तेजाब तक फेंके गए। लेकिन वह किसी तरह बच गई। महिला के मुताबिक, उसके पति ने उसकी बेटी के साथ जो किया उसके अलावा उसके बेटे का भी यौन शोषण हुआ है। उसके साथ अप्राकृतिक सेक्स किया गया।

पुलिस ने अब महिला की शिकायत पर उसके पति, ननद, सास समेत कई लोगों पर धारा 488ए, 366, 323, 506, 326,377 के तहत केस दर्ज किया है। पुलिस ने इस मामले में 200 बसपा और 250 सपा कार्यकर्ताओं के विरुद्ध दो अलग-अलग शिकायतें लिखी हैं जो मामले में हुई एफआईआर के विरुद्ध ज्ञापन देने आए थे, वो भी कोविड प्रोटोकॉल को तोड़ते हुए। मुख्य पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने कहा है कि स्वतंत्र और निष्पक्ष जाँच के लिए एसआईटी गठित हुई है। रेंज से कुछ अतिरिक्त पुलिस टीमें आएँगी ताकि आरोपितों की धड़पकड़ तेजी से हो।

ललितपुर रेप केस- पूरा मामला

बता दें कि इस पूरे मामले का खुलासा 12 अक्टूबर को हुआ था। पुलिस ने लड़की की शिकायत पर बलात्कार और आपराधिक धमकी की धाराओं में केस दर्ज किया था। FIR में समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष तिलक यादव, नगर अध्यक्ष राजेश जैन जोझिया, बहुजन समाज पार्टी के जिलाध्यक्ष दीपक अहिरवार के अलावा लड़की के पिता का नाम भी शामिल है। इसमें जानबूझ कर दर्द पहुँचाने और शील भंग करने जैसे आरोप भी हैं। लड़की का आरोप है कि जब वो कक्षा 6 में थी, तभी उसके पिता ने अश्लील (Porn) वीडियोज दिखा कर उसे शारीरिक सम्बन्ध बनाने के लिए दबाव डाला था, लेकिन तब वो नहीं मानी। मगर, कुछ समय बाद पिता ने उसे नए कपड़े दिलाकर और अन्य लालच देकर सुनसान फार्महाउस में उसका रेप किया। इसके बाद तो यौन शोषण का सिलसिला चल पड़ा। इस दौरान कई लोगों ने उसका शोषण किया। सपा जिलाध्यक्ष तिलक यादव ने तो ऐसे उसका रेप किया जैसे किसी चीज का बदला ले रहा हो।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘UPTET के अभ्यर्थियों को सड़क पर गुजारनी पड़ी जाड़े की रात, परीक्षा हो गई रद्द’: जानिए सोशल मीडिया पर चल रहे प्रोपेगंडा का सच

एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसके आधार पर दावा किया जा रहा है कि ये उत्तर प्रदेश में UPTET की परीक्षा देने वाले अभ्यर्थियों की तस्वीर है।

बेचारा लोकतंत्र! विपक्ष के मन का हुआ तो मजबूत वर्ना सीधे हत्या: नारे, निलंबन के बीच हंगामेदार रहा वार्म अप सेशन

संसद में परंपरा के अनुरूप आचरण न करने से लोकतंत्र मजबूत होता है और उस आचरण के लिए निलंबन पर लोकतंत्र की हत्या हो जाती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,506FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe