Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाजखंडवा में स्कूल ने कक्षा 6 की परीक्षा में पूछा सैफ-करीना के बेटे का...

खंडवा में स्कूल ने कक्षा 6 की परीक्षा में पूछा सैफ-करीना के बेटे का नाम, पैरेंट्स बोले- क्या ये (तैमूर) कोई महापुरुष है?

बच्चों के अभिभावकों ने स्कूल की इस हरकत पर नाराजगी व्यक्त करते हुए पूछा है कि ये महापुरुष है क्या? इसके साथ ही अभिभावकों ने दोषी स्कूल के खिलाफ कार्रवाई करने की माँग की है। उन्होनें इसकी शिकायत जिला प्रशासन से भी की है।

मध्य प्रदेश के खंडवा जिले से चौंकाने वाला मामला प्रकाश में आया है। यहाँ एक स्कूल में बच्चों को महापुरुषों के बारे में पढ़ाने के बजाय फिल्म एक्टर्स के बच्चों के बारे में सवाल किए जा रहे हैं। जिसको लेकर बवाल शुरू हो गया है। रिपोर्ट के मुताबिक, एकेडमिक हाईट्स नाम के एक निजी स्कूल ने सैफ अली खान और करीना कपूर खान के बेटे तैमूर के बारे में सवाल कर डाला।

दरअसल, उक्त स्कूल में परीक्षा चल रही है। इसी क्रम में कक्षा 6 की परीक्षा में स्कूल ने जनरल नॉलेज के पेपर में बॉलीवुड एक्टर सैफ अली खान और करीना कपूर खान के बेटे का नाम पूछ लिया। इसको लेकर बवाल खड़ा हो गया है। बच्चों के अभिभावकों ने स्कूल की इस हरकत पर नाराजगी व्यक्त करते हुए पूछा है कि ये महापुरुष है क्या? इसके साथ ही अभिभावकों ने दोषी स्कूल के खिलाफ कार्रवाई करने की माँग की है। उन्होनें इसकी शिकायत जिला प्रशासन से भी की है।

पालकों का कहना है कि अगर स्कूल की परीक्षा के प्रश्न पत्र में महापुरुषों, वीरांगनाओं या किसी क्षेत्र में स्मरणीय काम करने वाली शख्सियतों को लेकर सवाल किया जाय तो उसे समझा जा सकता है, लेकिन एक कलाकार के बेटे को लेकर सवाल क्यों आवश्यक है। इस मामले की शिकायत जिला शिक्षा अधिकारी को भी की गई है। इस मामले पर संज्ञान लेते हुए डीईओ संजीव भालेराव ने स्कूल को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया है। साथ ही कहा है कि स्कूल का जवाब आने के बाद इस पर उचित कार्रवाई की जाएगी।

गौरतलब है कि सैफ अली खान और करीना कपूर खान के बेटे का नाम तैमूर है। उसके जन्म बाद उसका नाम तैमूर रखने पर भी काफी विवाद हुआ था। लोगों ने एक्टर्स से बच्चे का नाम बदलने की भी अपील की थी। लेकिन, करीना ने इससे साफ इंनकार कर दिया था। बता दें कि तैमूर लंग एक बर्बर विदेशी आक्रान्ता था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आरक्षण पर बांग्लादेश में हो रही हत्याएँ, सीख भारत के लिए: परिवार और जाति-विशेष से बाहर निकले रिजर्वेशन का जिन्न

बांग्लादेश में आरक्षण के खिलाफ छात्र सड़कों पर उतर आए हैं। वहाँ सेना को तैनात किया गया है। इससे भारत को सीख लेने की जरूरत है।

कर्नाटक के बाद अब तमिलनाडु में YouTuber अजीत भारती के खिलाफ FIR, कॉन्ग्रेस नेता सैमुअल MC ने की शिकायत: राहुल गाँधी से जुड़ा है...

"कर्नाटक उच्च न्यायालय ने स्थगन का आदेश दे रखा है, उस पर कथित घटना और केस पर स्टे के बाद, वापस दूसरे राज्य में केस करना क्या बताता है? "

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -