Tuesday, July 16, 2024
Homeदेश-समाजपिता जिस गुरुद्वारे का सेवादार वहीं बेटे ने की बेअदबी, कटार का भी अनादर:...

पिता जिस गुरुद्वारे का सेवादार वहीं बेटे ने की बेअदबी, कटार का भी अनादर: पंजाब के मुक्तसर की घटना, हंगामे के बाद युवक गिरफ्तार

पिछले कुछ दिनों से पंजाब में गुरुग्रंथ साहिब की बेअदबी की घटनाएँ लगातार आ रही हैं। पिछले दिनों निजामपुर गाँव के एक गुरुद्वारे में निशान साहिब की बेइज्जती का आरोप लगाकर एक युवक की हत्या कर दी गई। वहीं, अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में बेअदबी के आरोप में एक शख्स की पिटाई कर दी गई थी।

पंजाब के मुक्तसर जिले से गुरुग्रंथ साहिब की बेअदबी का मामला सामने आया है। आरोप है कि एक युवक धर्मग्रंथ को मूल स्थान से उठाकर आँगन में रखकर उसका अनादर किया। युवक गुरुद्वारे के ही सेवादार का बेटा अर्शदीप सिंह है और वह मानसिक रूप से बीमार बताया जा रहा है। मामले की गंभीरता को देखते हुए गुरुद्वारा के प्रबंधकों ने दबाए रखा, लेकिन रात में जब स्थानीय लोग विरोध में गुरुद्वारा पहुँचे तो मामले की सूचना पुलिस को दी गई।

घटना मुक्तसर जिले के मलोट सब-डिविजन के एनाखेरा गाँव की है। यहाँ स्थित बाबा भिंडी चंद गुरुद्वारा हाल ही में खुला है। गुरुद्वारा के ग्रंथी गुरुसेवक सिंह ने बताया कि वह रोजाना की तरह नितनेम करने के बाद अपने कमरे में चले गए। गुरुद्वारा में दो कमरे बने हैं। इसी दौरान यहाँ के सेवादार संतोख सिंह का लगभग 22 साल का बेटा अर्शदीप सिंह सोमवार (27 दिसंबर) सुबह 9 बजे गुरुद्वारा आया था। वह गुरुग्रंथ साहिब को उठाकर बाहर लेकर चला गया और वहाँ रखे कटार का भी अनादर किया।

ग्रंथी ने बताया कि युवक को ऐसा करते देखा तो उसके पिता ने उसे पकड़ लिया और धर्मग्रंथ को लाकर उसके मूल स्थान पर प्रतिष्ठित कर दिया। पिता का कहना है कि उसकी मानसिक हालत ठीक नहीं है और वह पहले भी आत्महत्या करने की कोशिश कर चुका है। बताया जाता है कि युवक खुद भी गुरुद्वारे में आकर सेवा करता था।

हालाँकि गाँव वालों को अर्शदीप सिंह की मानसिक हालात को लेकर शंका जाहिर की है और घटना की विस्तृत जाँच की माँग की है। वहीं, मलोट के डीएसपी जसपाल सिंह ढिल्लन ने बताया कि घटना की जानकारी पुलिस को 12 घंटे बाद दी गई। पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर मामले की जाँच शुरू कर दी है।

यह गुरुद्वारा हाल ही में बना है और 15 दिन पहले ही यहाँ गुरुग्रंथ साहिब का प्रकाश किया गया है। यह शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधन समिति (SGPC) के अंतर्गत नहीं आता और यह बाबा बिधि चंद निहंग सिंह दल के अधीन संचालित होता है। नए बने होने के कारण यहाँ सीसीटीवी कैमरे भी नहीं लगे हैं।

बताते चलें कि पिछले कुछ दिनों से पंजाब में गुरुग्रंथ साहिब की बेअदबी की घटनाएँ लगातार आ रही हैं। पिछले दिनों निजामपुर गाँव के एक गुरुद्वारे में निशान साहिब की बेइज्जती का आरोप लगाकर एक युवक की हत्या कर दी गई। वहीं, अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में बेअदबी का आरोप लगाकर एक शख्स की पिटाई कर दी गई थी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी फैसले की प्रतीक्षा में कन्हैयालाल का परिवार, नूपुर शर्मा पर भी खतरा; पर ‘सर तन से जुदा’ की नारेबाजी वाले हो गए...

रिपोर्ट में यह भी कहा गया था कि गौहर चिश्ती 17 जून 2022 को उदयपुर भी गया था। वहाँ उसने 'सर कलम करने' के नारे लगवाए थे।

किसानों के प्रदर्शन से NHAI का ₹1000 करोड़ का नुकसान, टोल प्लाजा करने पड़े थे फ्री: हरियाणा-पंजाब में रोड हो गईं थी जाम

किसान प्रदर्शन के कारण NHAI को ₹1000 करोड़ से अधिक का नुकसान झेलना पड़ा। यह नुकसान राष्ट्रीय राजमार्ग 44 और 152 पर हुआ है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -