Saturday, July 13, 2024
Homeदेश-समाजदिल्ली के मेडिकल कॉलेज में दारू पीकर श्रीकृष्ण से मिलने आए सुदामा, बज रहा...

दिल्ली के मेडिकल कॉलेज में दारू पीकर श्रीकृष्ण से मिलने आए सुदामा, बज रहा था- अरे द्वारपालों… Video वायरल होने के बाद माँगी माफी

मेडिकल कॉलेज छात्रों ने अपनी प्रस्तुति के दौरान भगवान कृष्ण से मिलने आए सुदामा को शराब के नशे में लड़खड़ाते हुए दिखाया था।

दिल्ली के मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज के रेजीडेंट डॉक्टर एसोसिएशन ने मंच प्रस्तुति के दौरान श्रीकृष्ण से मिलने आए सुदामा को दारू के नशे में दिखाए जाने पर माफी माँगी है। इस कार्यक्रम का वीडियो सामने आने के बाद नेटिजन्स नाराजगी जताई थी।

यह वीडियो मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज में 27 सितंबर 2022 को आयोजित कार्यक्रम का था। कार्यक्रम में छात्रों ने अपनी प्रस्तुति के दौरान भगवान कृष्ण और सुदामा के मिलने का दृश्य दिखाया। इस दौरान सुदामा को शराब के नशे में दिखाया गया।

इस दृश्य को देख वहाँ मौजूद लोग ठहाके भी लगा रहे थे। इनमें कॉलेज के छात्र और डॉक्टर दोनों थे। इस प्रस्तुति के दौरान प्रसिद्ध गाना ‘अरे द्वारपालों कन्हैया से कह दो’ भी बज रहा था। इस वीडियो के वायरल होने के बाद विवाद पैदा हो गया है। विवाद बढ़ने पर एसोसिएशन ने छात्रों की हरकत पर माफी माँगी है।

वायरल वीडियो में स्टेज पर करीब आधा दर्जन लड़कियों को ‘अरे द्वारपालों’ पर नृत्य करते देखा जा सकता है। इसी बीच एक लड़का सुदामा बनकर आता है। वह नशे में होने की एक्टिंग करता है। लड़खड़ाते हुए दिख रहा है।

मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज के रेजीडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन ने 11 अक्टूबर 2022 को इसके लिए माफी माँगी। इसमें कहा गया है कि यह वीडियो 4 दिवसीय वार्षिकोत्सव का है। यह कार्यक्रम कॉमेडी के मकसद से पेश किया गया था। लेकिन कॉलेज प्रशासन ने भी इसे अशोभनीय पाया है। प्रशासन ने इस वीडियो में अभिनय करने वाले छात्रों को आगे से किसी भी कार्यक्रम के लिए अयोग्य घोषित कर दिया है।

माफीनामे के मुताबिक यह रेजिडेंट डॉक्टर एसोसिएशन और आजाद मेडिको एसोसिएशन का साझा कार्यक्रम था। यह पत्र रेजिडेंट डॉक्टर एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. अविरल माथुर सहित अन्य पदाधिकारियों की तरफ से जारी किया गया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NITI आयोग की रिपोर्ट में टॉप पर उत्तराखंड, यूपी ने भी लगाई बड़ी छलाँग: 9 साल में 24 करोड़ भारतीय गरीबी से बाहर निकले

NITI आयोग ने सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (SDG) इंडेक्स 2023-24 जारी की है। देश में विकास का स्तर बताने वाली इस रिपोर्ट में उत्तराखंड टॉप पर है।

लैंड जिहाद की जिस ‘मासूमियत’ को देख आगे बढ़ जाते हैं हम, उससे रोज लड़ते हैं प्रीत सिंह सिरोही: दिल्ली को 2000+ मजार-मस्जिद जैसी...

प्रीत सिरोही का कहना है कि वह इन अवैध इमारतों को खाली करवाएँगे। इन खाली हुई जमीनों पर वह स्कूल और अस्पताल बनाने का प्रयास करेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -