Friday, July 19, 2024
Homeदेश-समाज5 साल की मदरसा छात्रा को एकांत में ले गया मौलाना अब्दुल, अकेले में...

5 साल की मदरसा छात्रा को एकांत में ले गया मौलाना अब्दुल, अकेले में की अश्लील हरकत: शिकायत के बाद हुआ गिरफ्तार

5 वर्षीय मासूम बच्ची पढ़ने के लिए मदरसा गई थी। जहाँ, मौलाना बच्ची को तालाब दिखाने के बहाने बहला-फुसलाकर एकांत में ले गया था। इसके बाद उसने बच्ची के साथ गलत हरकत करते हुए बलात्कार की कोशिश की।

मदरसों में पढ़ाई के नाम पर देश विरोधी गतिविधियों से लेकर यौन शोषण और बलात्कार की खबरें सामने आती रहती हैं। उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले में भी ऐसा ही एक मामला सामने आया। जहाँ, मदरसे में पढ़ने गई 5 साल की मासूम बच्ची के साथ मौलाना ने बलात्कार की कोशिश की। फिलहाल, पुलिस ने आरोपित मौलाना को गिरफ्तार कर लिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, आरोपित मौलाना अब्दुल रहीम उन्नाव जिले के गंगाघाट कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत 16 बीघा इलाके में स्थित एक मदरसे में पढ़ाता है। सोमवार (19 अक्टूबर 2022) को रोज की भाँति 5 वर्षीय मासूम बच्ची पढ़ने के लिए मदरसा गई थी। जहाँ, मौलाना बच्ची को तालाब दिखाने के बहाने बहला-फुसलाकर एकांत में ले गया था। इसके बाद उसने बच्ची के साथ गलत हरकत करते हुए बलात्कार की कोशिश की।

इसके बाद, जब बच्ची घर पहुँची तो उसने परिजनों को अपने साथ हुई घटना के बारे में बताया। जिसके बाद, उसके पिता ने स्थानीय गंगाघाट कोतवाली थाने में जाकर इस बारे में शिकायत दर्ज कराई। वहीं पुलिस ने पीड़ित बच्ची के पिता की शिकायत के आधार पर आईपीसी की धारा 376AB और पॉक्सो एक्ट की धारा 5M/6 के तहत मामला दर्ज करते हुए आरोपित मौलाना को गिरफ्तार कर लिया।

आरोपित मौलाना अब्दुल रहीम मूल रूप से दरभंगा बिहार का रहने वाला है। फिलहाल वह, कानपुर के जाजमऊ में रहते हुए उन्नाव के गंगा घाट स्थित मदरसे में पढ़ाता है।

इस मामले में, अपर पुलिस अधीक्षक शशि शेखर सिंह का कहना है कि, मौलाना अब्दुल रहीम मदरसे में पढ़ाता था। उसने 5 वर्षीय बच्ची के साथ अश्लील हरकत की। इस मामले में पुलिस के समक्ष बच्ची के पिता ने एफआईआर दर्ज कराई है। जिसके आधार पर आरोपित को गिरफ्तार किया गया है। पीड़ित बच्ची को मेडिकल परीक्षण के लिए भेजा गया है। मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद आगे की कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हिंदू लड़की का Video किया वायरल, हिंदुओं पर ही हमला, घर छोड़कर भागे भी हिंदू: यह पाकिस्तान नहीं, झारखंड के एक गाँव में ‘बांग्लादेशी...

हिंदुओं के घरों में तोड़फोड़ का आरोप भाजपा नेताओं ने बांग्लादेशी घुसपैठियों पर लगाया है। बाबू लाल मरांडी ने कहा- झारखंड को तालिबान नहीं बनने देंगे।

अब तक 39 मौतें, स्कूल-कॉलेज-इंटरनेट बंद, सरकारी मीडिया के मुख्यालय पर हमला: ‘आरक्षण’ की आग में जल रहा बांग्लादेश, भारत ने जारी की एडवाइजरी

भारत के पड़ोसी देश बांग्लादेश में आरक्षण को लेकर हो रहे प्रदर्शन हिंसक होता जा रहा है। इस प्रदर्शन में अब तक 39 मौतें हो चुकी हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -