Monday, July 15, 2024
Homeदेश-समाजदोस्त के साथ कार में थी 16 साल की छात्रा, गेट खोलते ही गुफरान...

दोस्त के साथ कार में थी 16 साल की छात्रा, गेट खोलते ही गुफरान ने काट दिया गला: मृतका ने ठुकरा दिया था प्रपोजल, कहा था- तुमसे मतलब नहीं रखना चाहती

नाबालिग जैसे ही घूम कर वापस आने के बाद ओमती घंटाघर इलाके में गाड़ी का दरवाजा खोल कर उतरी, गुफरान ने उसके गले में चाकू मार दिया। उसने नाबालिग पर चाकू से कई वार किए।

मध्य प्रदेश के जबलपुर में गुफरान ने एक नाबालिग छात्रा की चाकू मार कर हत्या कर दी। गुफरान ने नाबालिग के गले में चाकू मारा, जिसके कारण उसकी मौत हो गई। गुफरान, नाबालिग को दूसरे लड़के के साथ देख कर गुस्सा था, इसलिए उसने यह कदम उठाया। गुफरान को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सोमवार (1 जुलाई, 2024) को जबलपुर के नया मोहल्ला रिपटा निवासी नाबालिग छात्रा तमन्ना (16) अपने एक दोस्त के साथ गाड़ी से कहीं घूमने गई थी। नाबालिग छात्रा की आवाजाही को उसी के मोहल्ले का गुफरान (21) देख रहा था। वह उसकी हत्या करने का पहले ही मन बना चुका था।

नाबालिग जैसे ही घूम कर वापस आने के बाद ओमती घंटाघर इलाके में गाड़ी का दरवाजा खोल कर उतरी, गुफरान ने उसके गले में चाकू मार दिया। उसने नाबालिग पर चाकू से कई वार किए। इस कारण नाबालिग गंभीर रूप से घायल हो गई। छात्रा को अस्पताल ले जाया गया जहाँ से उसे मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया लेकिन उसकी जान नहीं बच सकी।

नाबालिग के साथ कार में मौजूद युवक भी इस हमले के बाद भाग निकला। वहीं हत्यारा गुफरान भी मौके पर मची भगदड़ का फायदा उठा कर भाग गया। बताया गया कि मृतका और आरोपित गुफरान के बीच पहले से जान पहचान थी। गुफरान कपड़े की एक दुकान पर काम करता है।

दोनों एक दूसरे को 1 वर्ष से जानते थे। नाबालिग ने इससे पहले गुफरान का प्रपोजल भी ठुकरा दिया था। नाबालिग ने उससे कहा था कि वह गुफरान से कोई संबंध नहीं रखना चाहती। इसके बाद नाबालिग एक और युवक के साथ आने जाने लगी थी। इस कारण से गुफरान कुपित था और उसने हत्या का यह फैसला लिया।

पुलिस ने इस घटना के बाद मामले में FIR दर्ज करके जाँच चालू कर दी है। घटनास्थल के आसपास के CCTV कैमरों से फुटेज भी निकलवाई गई है। पुलिस ने फरार गुफरान को रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार कर लिया है। जिस कार में नाबालिग बैठकर गई थी, उसे भी जब्त कर लिया गया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -