Sunday, July 25, 2021
Homeदेश-समाजलॉकडाउन में दुकानें खुली, खुले में ताश: रोकने पहुँची पुलिस पर लाठी-डंडे और पत्थर...

लॉकडाउन में दुकानें खुली, खुले में ताश: रोकने पहुँची पुलिस पर लाठी-डंडे और पत्थर से हमला

इससे पहले मेरठ के जली कोठी क्षेत्र में पुलिस के ऊपर हमला किया गया था। यह इलाका कोरोना वायरस संक्रमण का हॉटस्पॉट है। काफ़ी जबरदस्त पत्थरबाजी हुई थी। सिटी मजिस्ट्रेट को भी चोटें आईं। असामाजिक तत्वों के इस अचानक हमले से इलाक़े में हड़कंप मच गया।

लॉकडाउन के बीच पुलिस पर हमले थम नहीं रहे हैं। ताजा मामला उत्तर प्रदेश के मथुरा का है। शनिवार (अप्रैल 11, 2020) को मथुरा जिले में लॉकडाउन का उल्लंघन कर दुकान खोलने व एक स्थान पर कई लोगों को जमा होकर ताश खेलने की सूचना पर पहुँची पुलिस टीम पर लोगों ने लाठी-डंडे से हमला कर दिया। 

पुलिस ने जवाबी कार्रवाई शुरू की तो उन पर पथराव कर दिया गया। पुलिस ने किसी तरह से भीड़ पर काबू पाया और पथराव करने के आरोप में 10 लोगों को गिरफ्तार किया। मथुरा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गौरव ग्रोवर ने शनिवार को बताया कि लॉकडाउन के नियमों के उल्लंघन की सूचना पर भीमनगर गाँव पहुँची पुलिस पर पथराव किया गया। 

उन्होंने बताया कि गाँव में न केवल दुकानें खुली हुई थीं, बल्कि लोग खुले में ताश खेल रहे थे। दुकानों के सामने भीड़ लगी थी और सोशल डिस्टेंसिंग का खुला उल्लंघन किया जा रहा था। पुलिस के मना करने पर वहाँ मौजूद कुछ लोगों ने न केवल पथराव किया बल्कि लाठी-डंडे से भी पुलिस पर हमला किया।

ग्रोवर ने बताया कि पुलिस पर हमले की सूचना पर पहुँचे अतिरिक्त बल ने सख्ती दिखाकर 10 लोगों को गिरफ्तार कर लिया, जबकि नामजद 28 एवं 24 गैर नामजद भागने में सफल रहे। पुलिस उनकी तलाश कर रही है। इस हमले में एक पुलिसकर्मी को चोट भी आई है।

जैसे ही इसकी सूचना पुलिस प्रशासन को हुई, तुरंत पुलिस फोर्स हरकत में आ गई। क्षेत्राधिकारी जितेंद्र सिंह के साथ मौके पर पहुँची फोर्स ने 10 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस पहुँची तो लोगों का कहना था कि वो कब तक घरों में कैद रहें। फिलहाल वहाँ पर कानून-व्यवस्था को बहाल कर दिया गया है। क्षेत्राधिकारी लोकेश सिंह भाटी, जितेंद्र सिंह, एसडीएम राहुल यादव ने फोर्स के साथ क्षेत्र में कॉम्बिंग की और कानून-व्यवस्था बनाए रखने की ग्रामीणों से अपील की। 

उल्लेखनीय है कि इससे पहले मेरठ के जली कोठी क्षेत्र में पुलिस के ऊपर हमले की खबर सामने आई थी। मेरठ के देहलीगेट थाना स्थित कोरोना वायरस संक्रमण हॉटस्पॉट जली कोठी क्षेत्र में पुलिस जैसे ही सील करने पहुँची, वहाँ स्थानीय लोगों ने पथराव शुरू कर दिया था। काफ़ी जबरदस्त पत्थरबाजी हुई थी। सिटी मजिस्ट्रेट को भी चोटें आईं। असामाजिक तत्वों के इस अचानक हमले से इलाक़े में हड़कंप मच गया। उन्हें खदेड़ने के लिए कई थानों की पुलिस फोर्स बुलानी पड़ी थी। सिटी मजिस्ट्रेट को इलाज के लिए अस्पताल ले जाना पड़ा। बता दें कि जिस क्षेत्र में पत्थरबाजी हुई, वहाँ 3 जमाती कोरोना पॉजिटिव मिले हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राजस्थान में भगवा ध्वज फाड़ने वाले कॉन्ग्रेस MLA को लोगों ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा: वायरल वीडियो का FactChek

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें दिख रहा है कि लाठी-डंडा लिए भीड़ एक शख्स को दौड़ा-दौड़ाकर पीट रही है।

दैनिक भास्कर के ₹2,200 करोड़ के फर्जी लेनदेन की जाँच कर रहा है IT विभाग: 700 करोड़ की आय पर टैक्स चोरी का खुलासा

मीडिया समूह की तलाशी में छह वर्षों में ₹700 करोड़ की आय पर अवैतनिक कर, शेयर बाजार के नियमों का उल्लंघन और लिस्टेड कंपनियों से लाभ की हेराफेरी के आयकर विभाग को सबूत मिले हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,066FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe