Wednesday, July 24, 2024
Homeदेश-समाजबंदर को मारकर चामुंडा मंदिर के पास लटकाया: अमरोहा में हिंदू संगठनों का हंगामा,...

बंदर को मारकर चामुंडा मंदिर के पास लटकाया: अमरोहा में हिंदू संगठनों का हंगामा, अज्ञातों पर FIR

हिंदू संगठन के सदस्यों ने पुलिस को आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए सप्ताह भर का समय दिया है। उनका कहना था कि तय समय में कार्रवाई न होने पर उग्र आंदोलन किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश के अमरोहा जिले में एक बंदर की हत्या किए जाने की खबर है। बताया जा रहा है कि बंदर को मार कर लाश को मंदिर के पास लटका दिया गया था। इस मामले पर हिंदू संगठनों ने नाराजगी जताते हुए कड़ी कार्रवाई की माँग की है। पुजारी की शिकायत पर पुलिस ने FIR दर्ज कर के जाँच शुरू कर दी है। घटना शनिवार (24 दिसंबर 2022) की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक घटना डिडौली थानाक्षेत्र की है। यहाँ जोया नाम की बाजार में माँ चामुंडा का मंदिर है। मंदिर पुलिस चौकी के पीछे ही है। इस मंदिर में आचार्य विजय तिवारी पूजापाठ करते हैं। शनिवार को पुजारी विजय मंदिर के पास मौजूद खंडहर से सूखी लकड़ियाँ बीनने गए थे। इस दौरान उन्हें एक बंदर का शव दिखा। बंदर को किसी ने मार कर खंडहर के मेन गेट पर ही लटका दिया था। पुजारी ने इसकी सूचना आस-पास के लोगों को दी। कुछ ही देर बाद घटनास्थल पर हिंदू संगठन से जुड़े लोगों का भी जमावड़ा लग गया।

बंदर की हत्या (तस्वीर साभार: दैनिक जागरण)

स्थानीय लोगों ने बंदर को मारने वाले आरोपितों की गिरफ्तारी की माँग शुरू कर दी। घटना जानकारी पुलिस को हुई तो वो फ़ौरन ही मौके पर पहुँच गई। नाराज लोगों को समझाने के साथ दोषियों पर कड़ी कार्रवाई का भरोसा दिया गया। कुछ देर बाद बंदर के शव को नीचे उतारा गया। अधिकारियों की निगरानी में उसे पशु चिकित्सा विभाग द्वारा पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। बंदर के शव का वीडियो भी किसी के द्वारा सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया गया।

हिंदू संगठन के सदस्यों ने पुलिस को आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए सप्ताह भर का समय दिया है। उनका कहना था कि तय समय में कार्रवाई न होने पर उग्र आंदोलन किया जाएगा। इस मामले में पुलिस का कहना है कि पुजारी विजय की तहरीर पर अज्ञात आरोपितों के खिलाफ FIR दर्ज हो गई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। मामले में अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -