Tuesday, June 28, 2022
Homeदेश-समाज'वसीम रिजवी एक शैतान है, जो सिर कलम करेगा, उसे दूँगा ₹11 लाख का...

‘वसीम रिजवी एक शैतान है, जो सिर कलम करेगा, उसे दूँगा ₹11 लाख का इनाम’: SC में याचिका पर भड़के मुस्लिम समूह

"वसीम रिजवी एक शैतान है इंसान नहीं है। उसने कुरान शरीफ की 26 आयतों के बारे में जो भी एफआईआर दायर की है सुप्रीम कोर्ट में, मैं उसकी निंदा करता हूँ और इस मंच के माध्यम से ऐलान करता हूँ कि जो भी वसीम रिजवी का सिर कलम करके लाएगा। मैं उसको 11 लाख रुपए का इनाम दूँगा।"

शिया वक़्फ़ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिज़वी द्वारा सुप्रीम कोर्ट में कुरान की 26 आयतों को हटाने के संबंध में याचिका दाखिल करने के बाद मुस्लिम समुदाय में गुस्सा इतना अधिक बढ़ गया है कि खुलेआम उनके सिर कलम करने पर इनाम देने की घोषणा बढ़ती ही जा रही है।

राहत मोलाई कोमी एकता संगठन की ओर से मुरादाबाद में आयोजित कार्यक्रम में बार के पूर्व अध्यक्ष अमीरुल हसन ने वसीम रिजवी का सिर काटककर लाने वाले को 11 लाख रुपए का इनाम देने की घोषणा की है।

उन्होंने कहा, “वसीम रिजवी एक शैतान है इंसान नहीं है। उसने कुरान शरीफ की 26 आयतों के बारे में जो भी एफआईआर दायर की है सुप्रीम कोर्ट में, मैं उसकी निंदा करता हूँ और इस मंच के माध्यम से ऐलान करता हूँ कि जो भी वसीम रिजवी का सिर कलम करके लाएगा। मैं उसको 11 लाख रुपए का इनाम दूँगा।”

उनके अलावा शियाने हैदर-ए कर्रार वेलफेयर एसोसिशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष हसनैन जाफरी डंपी ने वसीम रिजवी का सिर काटकर लाने वाले को 20 हजार रुपए इनाम देने की घोषणा की है। उन्होंने खुद को पैगम्बर मुहम्मद का कलमा पढ़ने वाला और शिया घर में पैदा होने वाला बताते हुए कहा कि रिजवी के बहिष्कार के लिए देश भर में अभियान चलाया जाएगा और उन्हें अपने कार्यक्रमों में बुलाने वालों का भी बहिष्कार किया जाएगा।

डंपी ने सरकार से मुस्लिम समुदाय की आस्था पर चोट पहुँचाने के आरोप में रिजवी के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करने की बात कही। साथ ही रिजवी का काम उन्माद फैलाने वाला बताया था। मौलाना खालिद रशीद ने भी यूपी सरकार से वसीम रिजवी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की माँग की थी।

शिया पर्सनल लॉ बोर्ड के प्रवक्ता मौलाना यासूब अब्बास ने कहा कि कुरान से एक हर्फ भी नहीं हटाया जा सकता है। इसके अतिरिक्त मौलाना सैफ अब्बास और मौलाना सुफियान निजामी ने भी वसीम रिजवी के इस कृत्य की कड़ी आलोचना की है।

बता दें कि शिया वक़्फ़ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिज़वी ने सुप्रीम कोर्ट में कुरान की 26 आयत को हटाने के संबंध में याचिका दाखिल की है। उनका कहना है कि इन 26 आयत में से कुछ आयत आतंकवाद को बढ़ावा देने वाली हैं, जिन्हें बाद में शामिल किया गया। उनका मत है कि मोहम्मद साहब के बाद पहले खलीफा हज़रत अबू बकर, दूसरे खलीफा हज़रत उमर और तीसरे खलीफा हज़रत उस्मान के द्वारा कुरान को कलेक्ट करके उसको किताबी शक्ल में जारी किया गया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पत्नी से बदतमीजी कर रहा था SI, विरोध करने पर युवक को मारी गोली: बोले बग्गा- नागरिकों को इंसान नहीं समझती पंजाब पुलिस

पंजाब में सड़क किनारे आइसक्रीम खा रहे परिवार की महिलाओं के साथ पुलिस ने की बदतमीजी। विरोध करने पर युवक को मारी गोली।

अब AltNews वाला प्रतीक सिन्हा नपेगा? जिस ‘हनुमान भक्त’ के ट्वीट से मोहम्मद जुबैर की हुई गिरफ्तारी, वह ‘भगवान गणेश के अपमान’ पर भी...

मोहम्मद जुबैर की शिकायत करने वाले ट्विटर यूजर ने ऑल्ट न्यूज के सह-संस्थापक प्रतीक सिन्हा के खिलाफ भी कार्रवाई करने की पुलिस से माँग की है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
199,893FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe