Sunday, April 11, 2021
Home देश-समाज माँ और जाति की गाली देकर मुस्लिमों ने धारदार हथियारों से किया घायल: बेगूसराय...

माँ और जाति की गाली देकर मुस्लिमों ने धारदार हथियारों से किया घायल: बेगूसराय में महादलितों का आरोप

"तुम्हारा कोई हिन्दू बाप बचाने नहीं आएगा" - वो लोग लगातार यह बोल रहे थे और गाली दे रहे थे। इलाक़े के अन्य हिन्दू भी खुल कर समर्थन में बोलने में हिचक रहे हैं क्योंकि मुस्लिमों की संख्या यहाँ हिन्दुओं से कई गुना ज्यादा है।" - पीड़ित शंकर पासवान ने बताया कि...

बिहार के बेगूसराय से मुस्लिम समुदाय के कुछ लोगों द्वारा महादलितों की पिटाई करने और उन पर अत्याचार करने का मामला सामने आया है। ये घटना बरौनी थाना क्षेत्र स्थित पिपरा देवास गाँव की है, जहाँ शंकर पासवान और उनके परिवार वालों के साथ ज्यादतियाँ की गईं। ये इलाक़ा पहले से ही संवेदनशील है और यहाँ पहले भी इस तरह की घटना कई बार हो चुकी है। ऑपइंडिया ने इस सम्बन्ध में पीड़ितों से बातचीत की और उनका पक्ष जाना।

क्या कहते हैं स्थानीय हिन्दू संगठन और ग्रामीण?

‘हिन्दू संघर्ष समिति’ के युवाओं का कहना है कि पिपरा देवास पंचायत के वार्ड नंबर 13 में महादलित समुदाय के ऊपर अत्याचार किया गया। सोमवार (जुलाई 6, 2020) को जिले के बरौनी प्रखण्ड के पिपरा देवास पंचायत के शिव मंदिर के प्रांगण में ‘हिंदू संघर्ष समिति’ के बैनर तले ग्रामीण विजय पासवान की अध्यक्षता में आयोजित सभा में पीड़ित शंकर पासवान ने बताया कि मुस्लिम युवक नशे में धुत होकर महादलितों के साथ बुरा व्यवहार करते हैं।

ताज़ा घटना में भी स्थानीय मुस्लिम युवकों पर महादलितों को ‘दुसाध-दुसाध’ बोल कर जाति के नाम पर अपमानित करने का आरोप लगाया गया है। शंकर पासवान का आरोप है कि मुस्लिम समुदाय के असामाजिक तत्वों द्वारा हिन्दू देवी-देवताओं को भी गालियाँ बकी जाती हैं।

उन्होंने बताया कि जब आरोपितों को मना किया गया तो उन्होंने असलहे, तलवार, लाठी-डंडे, लोहे के रॉड और भालों के साथ उनके मोहल्ले को घेर लिया और विधवा मुन्नी देवी के खपरैल घर को दारू की बोतलों और ईंट से मार कर चूर-चूर कर दिया।

वहीं विजय पासवान को प्रशासन से भी शिकायतें थीं। उन्होंने कहा कि घायलों पर FIR करना प्रशासन की दमनकारी नीति को दिखाता है। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रशासन के कारण दर्जनों हिन्दू परिवार प्रताड़ित होने को मजबूर हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि घटना के 5 दिन बीतने के बावजूद असामाजिक तत्वों में से एक को भी गिरफ़्तार नहीं किया गया, जो प्रशासन के तानाशाही रवैये का प्रदर्शक है।

‘हिन्दू संघर्ष समिति’ के ही एक अन्य सदस्य बिट्टू शाह का कहना है कि जिला प्रशासन ने अगर आरोपितों की गिरफ़्तारी नहीं की तो राष्ट्रवादी युवाओं द्वारा बड़ा आंदोलन किया जाएगा। भाजपा युवा मोर्चा के मंडल अध्यक्ष दीपक पोद्दार ने प्रशासन से अपील की है कि जल्द से जल्द इस मामले को संज्ञान में लिया जाए नहीं तो कोई भी अप्रिय घटना घट सकती है। ग्रामीणों में इस काण्ड को लेकर आक्रोश व्याप्त है।

थाने में दर्ज कराई गई FIR में क्या है?

थाने में दोनों ही पक्षों द्वारा FIR दर्ज कराई गई है। इसके अनुसार मोहम्मद छोटू और राजा मियाँ सहित मुस्लिम समुदाय के कुछ युवकों ने महादलित समुदाय से आने वाले विवेक कुमार के साथ गाली-गलौज किया और जातिगत टिप्पणी की। विवेक अपने अन्य साथियों के साथ एक दुकान पर गए हुए थे, तब ये घटना हुई। एफआईआर में शंकर पासवान ने लिखा है कि वो मजदूरी कर के घर लौटे थे, तभी उन्हें विवेक के साथ हुई घटना की सूचना मिली।

एफआईआर के अनुसार, विवेक जब रोते-रोते घर आए तो शंकर पासवान ने अपने समाज के कुछ लोगों के साथ जाकर दुकान पर जब इस बारे में शिकायत की तो मोहम्मद शाहनवाज, मोहम्मद खालिद, मोहम्मद ज़ुबैर, मोहम्मद इस्राइल, मोहम्मद शादिक मियाँ, मोहम्मद इमरान और मोहम्मद मंजूर आलम सहित अन्य मुस्लिम समुदाय के लोग उग्र हो गए। उन्होंने महादलित समुदाय के लोगों को गाली देना और जातिसूचक टिप्पणी करना शुरू कर दिया।

एफआईआर में कई मुस्लिमों पर मारपीट का आरोप

एफआईआर के अनुसार, मुस्लिम समुदाय के आरोपितों ने महादलितों के घर की बहू-बेटियों की इज्जत लूट लेने की धमकी दी और साथ ही पूछा कि भला एक ‘दुसाध’ क्या कर लेगा? इसके बाद शंकर पासवान के सिर पर ईंट से वार किया गया जबकि विवेक पर भी धारदार हथियार से हमला कर दिया गया। इससे अमित और सोनू सहित कई अन्य लोग घायल हो गए। शंकर पासवान ने शिकायत दर्ज कराई है कि उस तरफ से कई अन्य अभियुक्त लगातार ईंट-पत्थर चला रहे थे।

साथ ही मोहम्मद ज़ुबैर पर शंकर पासवान के गले से सोने का नकली हार भी छीन लेने का आरोप है, जिसकी क़ीमत 1000 रुपए बताई गई है। एफआईआर के मुताबिक, मुस्लिम समुदाय के आरोपित माँ की गाली देते हुए लगातार धमका रहे थे कि सारे महादलितों को उजाड़ कर भगा दिया जाएगा। साथ ही महादलित समुदाय की लड़कियों के साथ छेड़खानी किए जाने का भी आरोप लगाया गया है।

ऑपइंडिया से बोले पीड़ित शंकर पासवान

ऑपइंडिया ने बेगूसराय के पीड़ित शंकर पासवान से बातचीत की, जिन्होंने कहा कि उनके बच्चों के साथ जिस तरह का व्यवहार किया गया, उससे उनके समाज का वहाँ रहना दूभर हो गया है। उन्होंने कहा कि विवेक तो बस दुकान से सामान लेने गया था लेकिन मामूली कहासुनी के बाद वो लोग मारपीट व गालीगलौज पर उतर आए। शंकर का कहना है कि वो लोग लगातार बोल रहे थे कि “तुम्हारा कोई हिन्दू बाप बचाने नहीं आएगा” और गाली दे रहे थे।

उन्होंने ऑपइंडिया को बताया कि वो लोग मजदूरी कर के अपने परिवार का पालन-पोषण करते हैं। उन्होंने कहा कि इलाक़े के अन्य हिन्दू भी खुल कर उनके समर्थन में बोलने में हिचक रहे हैं क्योंकि मुस्लिमों की संख्या वहाँ हिन्दुओं से कई गुना ज्यादा है। उन्होंने बताया कि मुस्लिम समुदाय के 20-25 लोगों ने उनके साथ मारपीट की जबकि इधर सिर्फ़ 4-5 लोग ही थे। उन्होंने कहा कि कइयों के हाथ-पाँव व सिर में चोटें लगी हैं।

पीड़ित शंकर पासवान द्वारा दर्ज कराई गई FIR

शंकर पासवान ने कहा कि उनकी गली में घुस पर छप्पर पर ईंट-पत्थर फेंके गए। उन्होंने मुस्लिम समुदाय के लोगों पर महादलितों के शोषण का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि वो लोग ग़रीब हैं, इसीलिए उनकी कोई सुन भी नहीं रहा है। उन्होंने जानकारी दी कि पहले भी उनलोगों ने मारपीट की थी लेकिन स्थानीय जनप्रतिनिधियों द्वारा बीच-बचाव करने के बाद समझौता करा दिया गया था। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में उनके बाल-बच्चों का क्या होगा, वो यही सोच कर काँप उठते हैं।

मुस्लिम पक्ष के FIR में क्या है?

वहीं मुस्लिम पक्ष की तरफ से एक महिला ने FIR दर्ज कराइ है। जो मोहम्मद अब्बास नामक आरोपित की पत्नी हैं। उन्होंने महादलित समुदाय के लोगों पर उनके घर की महिलाओं के साथ छेड़खानी का आरोप लगाया। FIR में आरोप लगाया गया है कि आरोपित उनके घर के सामने आकर अड्डेबाजी करते हैं, परिवार के लोगों को ‘गालत नीयत से’ देखते रहते हैं और मना करने पर कहते हैं कि ये तुम्हारे बाप की जमीन नहीं है।

मुस्लिम पक्ष द्वारा दर्ज कराई गई FIR

मुस्लिम पक्ष की ओर से दर्ज की गई FIR में पूरे मामले के लिए हिन्दू समाज को ही दोषी ठहराया गया है। महिला ने कहा है कि पासवान समुदाय के लोग मुस्लिम मोहल्लों पर आक्रमण कर देते हैं, जो बाद में हिन्दू-मुस्लिम साम्प्रदायिक तनाव का रूप ले लेता है। साथ ही दोषियों पर कार्रवाई की माँग की गई है।

मुस्लिम पक्ष का क्या कहना है?

हमने मुस्लिम पक्ष द्वारा दायर FIR में मौजूद फोन नंबर से बात करने की कोशिश की। उन्होंने हमसे कहा कि वो फिलहाल कचहरी में थे और कल ही बात कर पाएँगे। ऑपइंडिया लगातार दूसरे पक्ष की बात जानने की कोशिश कर रहा है। जैसे ही हमारा सम्पर्क स्थापित होता है, हम इस खबर को अपडेट करेंगे।

पुलिस का क्या कहना है?

हालाँकि, पुलिस ने पक्षपात के आरोपों को नकार दिया है। बरौनी पुलिस ने बताया कि पुलिस ने इस घटना की सूचना मिलते ही कार्रवाई शुरू कर दी थी। पुलिस का कहना है कि महादलित समुदाय के घायलों को पुलिस की ही गाड़ी से अस्पताल पहुँचाया गया, जहाँ से उन सबको सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया। पुलिस इस मामले की जाँच कर रही है, जिसके बाद दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी।

शंकर पासवान ने भी इस बात की पुष्टि की है कि पुलिस ने घायल महादलित समाज के लोगों को अपनी गाड़ी से अस्पताल पहुँचाया। हालाँकि उनका आरोप था कि पुलिस शांत होकर बैठी हुई है। जबकि पुलिस ने कहा कि दोनों तरफ के लोगों से शिकायतें मिली हैं और ऐसे मामलों में शांति बनाए रखना पहली प्राथमिकता होती है। इलाक़े में पुलिस अधिकारियों ने ही जाकर पूरे मामले को शांत कराया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

अनुपम कुमार सिंहhttp://anupamkrsin.wordpress.com
चम्पारण से. हमेशा राइट. भारतीय इतिहास, राजनीति और संस्कृति की समझ. बीआईटी मेसरा से कंप्यूटर साइंस में स्नातक.

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आनंद को मार डाला क्योंकि वह BJP के लिए काम करता था: कैमरे के सामने आकर प्रत्यक्षदर्शी ने बताया पश्चिम बंगाल का सच

पश्चिम बंगाल में आनंद बर्मन की हत्या पर प्रत्यक्षदर्शी ने दावा किया है कि भाजपा कार्यकर्ता होने के कारण हुई आनंद की हत्या।

बंगाल में ‘मुस्लिम तुष्टिकरण’ है ही नहीं… आरफा खानम शेरवानी ‘आँकड़े’ दे छिपा रहीं लॉबी के हार की झुँझलाहट?

प्रशांत किशोर जैसे राजनैतिक ‘जानकार’ के द्वारा मुस्लिमों के तुष्टिकरण की बात को स्वीकारने के बाद भी आरफा खानम शेरवानी ने...

सबरीमाला मंदिर खुला: विशु के लिए विशेष पूजा, राज्यपाल आरिफ मोहम्मद ने किया दर्शन

केरल स्थित भगवान अयप्पा के सबरीमाला मंदिर में विशेष पूजा का आयोजन किया गया। विशु त्योहार से पहले शनिवार को मंदिर को खोला गया।

रमजान हो या कुछ और… 5 से अधिक लोग नहीं हो सकेंगे जमा: कोरोना और लॉकडाउन पर CM योगी

कोरोना संक्रमण के बीच सीएम योगी ने प्रदेश के धार्मिक स्थलों पर 5 से अधिक लोगों के इकट्ठे होने पर लगाई रोक। रोक के अलावा...

राजस्थान: छबड़ा में सांप्रदायिक हिंसा, दुकानों को फूँका; पुलिस-दमकल सब पर पत्थरबाजी

राजस्थान के बारां जिले के छाबड़ा में सांप्रदायिक हिसा के बाद कर्फ्यू लगा दिया गया गया है। चाकूबाजी की घटना के बाद स्थानीय लोगों ने...

‘लंदन में एक बुरा दिन दूसरे जगह के अच्छे दिन से बेहतर’ – इंडिया को याद कर रही हैं या गाली दे रहीं सोनम...

“मैं भारत को इतना मिस कर रही हूँ और अपने परिवार और दोस्तों से मिलने अपने घर वापस आना चाहती हूँ, लेकिन मैंने महसूस किया कि...”

प्रचलित ख़बरें

‘ASI वाले ज्ञानवापी में घुस नहीं पाएँगे, आप मारे जाओगे’: काशी विश्वनाथ के पक्षकार हरिहर पांडेय को धमकी

ज्ञानवापी केस में काशी विश्वनाथ के पक्षकार हरिहर पांडेय को जान से मारने की धमकी मिली है। धमकी देने वाले का नाम यासीन बताया जा रहा।

बंगाल: मतदान देने आई महिला से ‘कुल्हाड़ी वाली’ मुस्लिम औरतों ने छीना बच्चा, कहा- नहीं दिया तो मार देंगे

वीडियो में तृणमूल कॉन्ग्रेस पार्टी के नेता को उस पीड़िता को डराते हुए देखा जा सकता है। टीएमसी नेता मामले में संज्ञान लेने की बजाय महिला पर आरोप लगा रहे हैं और पुलिस अधिकारी को उस महिला को वहाँ से भगाने का निर्देश दे रहे हैं।

SHO बेटे का शव देख माँ ने तोड़ा दम, बंगाल में पीट-पीटकर कर दी गई थी हत्या: आलम सहित 3 गिरफ्तार, 7 पुलिसकर्मी भी...

बिहार पुलिस के अधिकारी अश्विनी कुमार का शव देख उनकी माँ ने भी दम तोड़ दिया। SHO की पश्चिम बंगाल में पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी।

पॉर्न फिल्म में दिखने के शौकीन हैं जो बायडेन के बेटे, परिवार की नंगी तस्वीरें करते हैं Pornhub अकॉउंट पर शेयर: रिपोर्ट्स

पॉर्न वेबसाइट पॉर्नहब पर बायडेन का अकॉउंट RHEast नाम से है। उनके अकॉउंट को 66 badge मिले हुए हैं। वेबसाइट पर एक बैच 50 सब्सक्राइबर होने, 500 वीडियो देखने और एचडी में पॉर्न देखने पर मिलता है।

कूच बिहार में 300-350 की भीड़ ने CISF पर किया था हमला, ममता ने समर्थकों से कहा था- केंद्रीय बलों का घेराव करो

कूच बिहार में भीड़ ने CISF की टीम पर हमला कर हथियार छीनने की कोशिश की। फायरिंग में 4 की मौत हो गई।

‘मोदी में भगवान दिखता है’: प्रशांत किशोर ने लुटियंस मीडिया को बताया बंगाल में TMC के खिलाफ कितना गुस्सा

"मोदी के खिलाफ एंटी-इनकंबेंसी नहीं है। मोदी का पूरे देश में एक कल्ट बन गया है। 10 से 25 प्रतिशत लोग ऐसे हैं, जिनको मोदी में भगवान दिखता है।"
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,985FansLike
82,165FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe