Tuesday, February 7, 2023
Homeदेश-समाजवसीम ने आकाश बन हिंदू महिला को फँसाया: रेप कर वीडियो, ब्लैकमेलिंग और फेक...

वसीम ने आकाश बन हिंदू महिला को फँसाया: रेप कर वीडियो, ब्लैकमेलिंग और फेक शादी; वायरल करने के नाम पर लूटे ₹50 हजार

आरोपित वसीम ने कोल्ड ड्रिंक्स में नशीली दवा मिलाकर महिला को पिलाने के बाद उसका रेप किया और वीडियो भी बना लिया था। इसके बाद आरोपित ने महिला को अपनी सच्चाई बताई।

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर से लव जिहाद का मामला प्रकाश में आया है, जहाँ एक वसीम नाम के मुस्लिम व्यक्ति ने आकाश बन हिंदू महिला को अपने प्रेम के जाल में फँसाया और उसके साथ रेप किया। आरोपित ने इसका वीडियो भी बना लिया, जिसके आधार पर महिला को ब्लैकमेल कर उसने उससे 50,000 रुपए भी ऐंठ लिए।

घटना मुजफ्फरनगर जिले के न्यू मंडी थाना क्षेत्र के एक गाँव की है। यहीं की रहने वाली पीड़िता का संधावली गाँव के रहने वाले मुस्लिम समुदाय के युवक से परिचय हुआ था। उस दौरान वसीम ने महिला को अपना परिचय आकाश के रूप में दिया। धीरे-धीरे दोनों में पहचान बढ़ी और वो एक-दूसरे से प्रेम करने लगे। इस बीच दोनों के बीच पहले प्रेम संबंध बने। इसका फायदा उठाते हुए आरोपित ने उस घटना का वीडियो बना लिया।

इसके बाद उसने कई बार महिला से बलात्कार किया। आरोप यह भी है कि आरोपित ने कोल्ड ड्रिंक्स में नशीली दवा मिलाकर महिला को पिलाने के बाद उसका रेप किया और वीडियो भी बना लिया था। इसके बाद आरोपित ने महिला को अपनी सच्चाई बताई। उसने महिला को बताया कि वह संधावली का रहने वाला वसीम सक्का है। उसने महिला पर धर्मान्तरण करने का दबाव बनाया। इसके साथ ही उसने महिला की वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी दे उससे 50 हजार रुपए भी ले लिए।

रिपोर्ट के मुताबिक, आरोपित के रेप करने से वह गर्भवती हो गई थी, जिसके बाद उसने उससे झूठा विवाह भी किया था। विवाह के बाद उसने पीड़िता को पीटा भी, जिससे उसका गर्भपात हो गया। किसी तरह आरोपित की कैद से भागी युवती अपने घर पहुँची और परिजनों को सारी बात बताई, जिसके बाद वो उसे थाने लेकर गए और केस दर्ज कराया।

इस मामले में हिंदू जागरण मंच ने भी थाने में प्रदर्शन किया था। जिसके बाद बुधवार को इस मामले में पुलिस ने केस दर्ज किया था। फिलहाल आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आफताब ने श्रद्धा की हड्डियों को पीस कर बनाया पाउडर, जला डाला चेहरा, डस्टबिन में डाल दी थी आँतें, ₹2000 की ब्रीफकेस में पैक...

आफताब ने पुलिस को यह भी बताया है कि उसने जिस दिन श्रद्धा की हत्या की थी। उसी दिन श्रद्धा के अकांउट से अपने अकाउंट में 54000 रुपए भेजे थे।

‘मैं रामचरितमानस को नहीं मानती, तुलसीदास कोई संत नहीं’: सपा MLA को तुलसीदास के ग्रन्थ से दिक्कत, कहा – हिम्मत है तो मेरी ताड़ना...

सपा विधायक पल्लवी पटेल ने कहा है कि वह रामचरितमानस को नहीं मानती हैं और इसमें शूद्र शब्द हटाने के लिए आंदोलन करेंगी। उनके लिए तुलसीदास संत नहीं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
244,281FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe