Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाजगलत साइड में फॉर्च्यूनर चला रहा था विधायक का भतीजा, टक्कर के बाद 19...

गलत साइड में फॉर्च्यूनर चला रहा था विधायक का भतीजा, टक्कर के बाद 19 साल के बाइक सवार की मौत: पुणे में पोर्शे कांड के बाद रोड रेज की एक और घटना

दिलीप मोहिते NCP (अजीत पवार गुट) के विधायक हैं। उन्होंने शिरूर लोकसभा क्षेत्र स्थित खेड़ विधानसभा क्षेत्र से 2004 और 2009 में जीत दर्ज की थी। 2019 में एक बार फिर जीत दर्ज कर वो तीसरी बार MLA हैं।

पुणे में एक नामी बिल्डर के नाबालिग बेटे द्वारा शराब पीकर पोर्शे कार से कुचल कर इंजीनियर युवक और युवती को मार डालने का मामला ठंडा भी नहीं हुआ था कि शहर में इस तरह की एक और घटना हो गई है। इस बार विधायक के भतीजे की कार से कुचल कर एक शख्स की मौत हो गई। शनिवार (22 जून, 2024) की रात महाराष्ट्र के पुणे में 19 साल के लड़के की मौत हो गई। वो मोटरबाइक से था, वहीं कार गलत दिशा में सामने से आ रही थी।

पुलिस ने FIR दर्ज करते हुए कार चला रहे मयूर मोहिते को हिरासत में ले लिया। वो विधायक दिलीप मोहिते पाटिल का भतीजा है। दिलीप मोहिते NCP (अजीत पवार गुट) के विधायक हैं। उन्होंने शिरूर लोकसभा क्षेत्र स्थित खेड़ विधानसभा क्षेत्र से 2004 और 2009 में जीत दर्ज की थी। 2019 में एक बार फिर जीत दर्ज कर वो तीसरी बार MLA हैं। उनके भतीजे की संलिप्तता वाली दुर्घटना की बात करें तो ये रात के साढ़े 9 बजे मौजे एक्लाहारे गाँव में हुई है।

अम्बेगाँव तालुका अंतर्गत पुणे-नासिक रोड पर हुई इस घटना के संबंध में पुलिस ने बताया है कि मृतक की पहचान ओम भालेराव के रूप में हुई है। इस घटना के बाद विधायक पाटिल ने कहा है कि उनके भतीजे ने भागने का प्रयास नहीं किया। साथ ही उन्होंने अपने भतीजे के शराब के नशे में होने की बात से भी इनकार किया। मंचर पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया है। आरोपित फॉर्च्यूनर कार चला रहा था और रॉन्ग साइड पर था।

इसी दौरान मोटरबाइक से इसकी आमने-सामने की टक्कर हुई। दोनों गाड़ियाँ इस घटना में क्षतिग्रस्त हुई हैं। इस मामले में अभी जाँच चल रही है। बता दें कि पुणे में इससे पहले जो ऐसी घटना हुई थी, उसमें नाबालिगों वाली अदालत के जज ने आरोपित को ट्रैफिक नियमों के संबंध में 200 शब्दों का लेख लिखने की शर्त पर जमानत दे दी थी। उस दौरान भी NCP के विधायक सुनील विजय तिंगरे पर आरोपित की पैरवी करने का आरोप लगा था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -