Thursday, August 5, 2021
Homeदेश-समाज'अपनी बेटी के बलात्कारियों को माफ कर दो' - निर्भया की माँ ने SC...

‘अपनी बेटी के बलात्कारियों को माफ कर दो’ – निर्भया की माँ ने SC की वरिष्ठ महिला वकील को इस सलाह पर लताड़ा

"मुझे ऐसा सुझाव देने वाली इंदिरा जयसिंग कौन हैं? पूरा देश चाहता है कि दोषियों को फाँसी दी जाए। सिर्फ़ उनके जैसे लोगों की वजह से बलात्कार की पीड़िताओं के साथ न्याय नहीं हो पाता है।"

दिल्ली की एक अदालत ने शुक्रवार (17 जनवरी) को निर्भया के दोषियों के लिए नए सिरे से डेथ वारंट जारी कर दिया। कोर्ट के आदेश के मुताबिक़, चारों दोषियों को 1 फरवरी को सुबह 6 बजे फाँसी दी जाएगी। निर्भया केस में राष्ट्रपति ने दोषी मुकेश की दया याचिका ख़ारिज कर दी थी, जिसके बाद तिहाड़ जेल की तरफ से दिल्ली की अदालत को जानकारी दी गई थी कि राष्ट्रपति ने दोषी मुकेश की दया याचिका ख़ारिज कर दी है। सरकारी वकील ने फाँसी की नई तारीख और वक्त बताने का आग्रह किया था। इस बीच, सुप्रीम कोर्ट की वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह ने निर्भया की माँ से दोषियों को माफ़ करने का अनुरोध किया है।

निर्भया की माँ आशा देवी ने दिल्ली की अदालत द्वारा दोषियों की फाँसी की अगली तारीख तय करने पर अपनी निराशा व्यक्त की थी, इस पर इंदिरा जयसिंह ने ट्वीट कर कहा, “मैं आशा देवी के दर्द को अच्छी तरह से समझती हूँ, मैं उनसे आग्रह करती हूँ कि वह सोनिया गाँधी के उदाहरण का अनुसरण करें। उन्होंने नलिनी को माफ़ कर दिया था और कहा था कि वह उसके लिए मौत की सज़ा नहीं चाहती हैं। हम आपके साथ हैं लेकिन मौत की सज़ा के ख़िलाफ़ हैं।”

इंदिरा जय सिंह के इस ट्वीट पर निर्भया की माँ ने अपनी प्रतिक्रिया दर्ज करते हुए कहा, “मुझे ऐसा सुझाव देने वाली इंदिरा जयसिंग कौन हैं? पूरा देश चाहता है कि दोषियों को फाँसी दी जाए। सिर्फ़ उनके जैसे लोगों की वजह से बलात्कार की पीड़िताओं के साथ न्याय नहीं हो पाता है।”

बता दें कि 1991 में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गाँधी की हत्या में शामिल होने के लिए नलिनी को गिरफ़्तार किया गया था और अदालत ने उसे दोषी ठहराया था। दरअसल, शुक्रवार को निर्भया की माँ चारों दोषियों की फाँसी में हो रही देरी को लेकर राजनीतिक पार्टियों के आरोप-प्रत्यारोप के दौर से नाराज़ थीं और उन्होंने इसको लेकर अपना ग़ुस्सा जाहिर किया था। वहीं, कोर्ट द्वारा फाँसी की तारीख बढ़ाए जाने पर उन्होंने कहा था कि मुजरिम जो चाहते थे, वही हो रहा है, फिर से तारीख पर तारीख मिल रही है।

निर्भया गैंगरेप: नया डेथ वारंट जारी, अब 1 फरवरी को फाँसी पर लटकाए जाएँगे चारों दोषी

निर्भया की माँ ने केजरीवाल को लताड़ा: कहा- जो काम दिल्ली सरकार को करना था, वो हमने किया

निर्भया गैंगरेप के दोषी की दया याचिका ख़ारिज: पीड़िता के पिता ने कहा- केजरीवाल ने सत्ता के लिए किया इस्तेमाल

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

इस्लामी आक्रांताओं की पोल खुली, सेक्युलर भी बोले ‘जय श्री राम’: राम मंदिर से ऐसे बदली भारत की राजनीतिक-सामाजिक संरचना

राम मंदिर के निर्माण से भारत के राजनीतिक व सामाजिक परिदृश्य में आए बदलावों को समझिए। ये एक इमारत नहीं बन रही है, ये देश की संस्कृति का प्रतीक है। वो प्रतीक, जो बताता है कि मुग़ल एक क्रूर आक्रांता था। वो प्रतीक, जो हमें काशी-मथुरा की तरफ बढ़ने की प्रेरणा देता है।

हॉकी में ब्रॉन्ज मेडल: 4 दशक के बाद टोक्यो ओलंपिक में भारतीय टीम ने रचा इतिहास, जर्मनी को 5-4 से हराया

टोक्यो ओलंपिक में भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए जर्मनी को करारी शिकस्त देकर ब्रॉन्ज मेडल पर कब्जा कर लिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,048FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe