Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजबालाजी मंदिर में निज़ाम और गुलफाम ने पी शराब, पुजारी से मारपीट, तोड़फोड़ भी...

बालाजी मंदिर में निज़ाम और गुलफाम ने पी शराब, पुजारी से मारपीट, तोड़फोड़ भी मचाया: यूपी पुलिस ने दबोचा तो माँगने लगे माफ़ी

मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष रवि कुमार ने बताया कि घटना के दिन निज़ाम और गुलफाम मंदिर पर आ कर शराब पीने लगे, जिसका उमेश कुमार ने विरोध किया।

उत्तर प्रदेश के आगरा जिले में 2 मुस्लिम युवकों पर बालाजी मंदिर में तोड़फोड़ और वहाँ के पुजारी को पीटने का आरोप लगा है। आरोपितों के नाम निज़ाम और गुलफाम है। दोनों पर मंदिर के पास शराब पीने से मना करने पर ऐसी हरकत करने का आरोप है। पुलिस ने केस दर्ज कर के आरोपितों की तलाश शुरू कर दी है। घटना 11 सितम्बर, 2022 (रविवार) रात की है।

घटना थाना क्षेत्र खंदौली के तोता खाई इलाके की है। ऑपइंडिया के पास इस घटना में दर्ज हुई FIR मौजूद है। पुलिस में शिकायत रवि कुमार नाम के पीड़ित ने दी है। उन्होंने बताया है कि वो श्री बालाजी मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष हैं। शिकायत के मुताबिक, रवि इसी मंदिर में उमेश कुमार पूजा-पाठ करते हैं। रवि कुमार के अनुसार, घटना के दिन निज़ाम और गुलफाम मंदिर पर आ कर शराब पीने लगे, जिसका उमेश कुमार ने विरोध किया।

शिकायत में आगे बताया गया है कि पुजारी के विरोध से निज़ाम और गुलफाम नाराज हो गए और उन्होंने पुजारी को गालियाँ देते हुए उसे बुरी तरह से मारा। रवि कुमार के अनुसार, पुजारी से मारपीट के बाद दोनों आरोपितों ने मंदिर को भी नुकसान पहुँचाया और शोर मचाने पर पुजारी को जान से मार डालने की धमकी देते हुए वहाँ से भाग निकले। शिकायत में पीड़ित ने पुलिस से कड़ी कार्रवाई की आशा जताई है।

पुलिस ने इस शिकायत का संज्ञान लेते हुए निज़ाम और गुलफाम पर IPC की धारा 323, 504, 506 और 295 के तहत केस दर्ज कर लिया है। ऑपइंडिया ने इस मामले में शिकायतकर्ता रवि कुमार से बात की। उन्होंने बताया कि दोनों आरोपितों को पुलिस ने पकड़ा तो वो थाने में माफ़ी माँगने लगे। रवि ने कहा कि वो भी मामले को बहुत अधिक तूल नहीं देना चाहते थे, क्योंकि उस गली में हिन्दू और मुस्लिम की बराबर आबादी है और कुछ ही दूरी पर मस्जिद भी मौजूदा है। रवि ने ये भी कहा कि दोनों आरोपितों का पुलिस ने चालान कर दिया था। उन्होंने बताया कि चोटिल पुजारी उमेश की तबीयत अब ठीक है।

गौरतलब है कि 6 सितम्बर, 2022 को लखनऊ के एक हनुमान मंदिर में घुस कर तौसीफ नाम के व्यक्ति ने तोड़फोड़ की थी और मूर्तियों पर हमला किया था। तौसीफ को गिरफ्तार कर लिया गया था। स्थानीय भाजपा विधायक ने इस घटना को बड़ी साजिश करार दिया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भिंडराँवाले के बाद कॉन्ग्रेस ने खोजा एक नया ‘संत’… तब पैसा भेजते थे, अब संसद में कर रहे खुला समर्थन: समझिए नेहरू-गाँधी परिवार की...

RA&W और सेना के पूर्व अधिकारी कह चुके हैं कि कॉन्ग्रेस ने पंजाब में खिसकती जमीन वापस पाने के लिए भिंडराँवाले को पैदा किया। अब वही फॉर्मूला पार्टी अमृतपाल सिंह के साथ आजमा रही। कॉन्ग्रेस के बड़े नेता जरनैल सिंह के सामने फर्श पर बैठते थे। संजय गाँधी ने उसे 'संत' बनाया था।

‘वनवासी महिलाओं से कर रहे निकाह, 123% बढ़ी मुस्लिम आबादी’: भाजपा सांसद ने झारखंड में NRC के लिए उठाई माँग, बोले – खाली हो...

लोकसभा में बोलते हुए सांसद निशिकांत दुबे ने कहा, विपक्ष हमेशा यही बोलता रहता है संविधान खतरे में है पर सच तो ये है संविधान नहीं, इनकी राजनीति खतरे में है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -