‘रवीश कुमार के फैन’ ने दी सिखों के नरसंहार की धमकी, मोदी समर्थक महिलाओं को करता है प्रताड़ित

अरुण जे पर कुछ महिलाओं ने भी गंभीर आरोप लगाए हैं। उसके बारे में पता चला है कि वो कई महिलाओं के साथ सिर्फ़ इसलिए दुर्व्यवहार करता है, क्योंकि वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फैन हैं। श्रुति नागपाल नामक महिला ने आरोप लगाया कि उसने उनके साथ बदतमीजी की।

सोशल मीडिया पर असामाजिक तत्वों द्वारा लगातार बेख़ौफ़ होकर धमकी देने का सिलसिला थमता नहीं दिख रहा है। हाल ही में अबसार ख़ान का मामला सामने आया था, जिसनें भगवान राम और माँ सीता के लिए अपशब्दों का प्रयोग किया था। अब एक ‘डॉक्टर अरुण जे’ नामक व्यक्ति ने 1984 सिख नरसंहार दोहराने की चेतावनी दी है। उसने सिखों को ‘खालिस्तानी आतंकी’ बताते हुए धमकाया है कि 1984 में जो भी बच गए, उनका सब सफाया कर दिया जाएगा।

अरुण जे का सिख नरसंहार की धमकी वाले ट्वीट का स्क्रीनशॉट, जो उसके अकाउंट डिलीट करने के बाद ट्विटर से गायब हो गया

दरअसल, यह सब शुरू हुआ तजिंदर बग्गा के एक ट्वीट से। दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता ने दिलीप सी मंडल के प्रोपगेंडा का जवाब देते हुए उनसे पूछा कि वो नक़ल कर के प्रोफेसर बने हैं या फिर पढ़ कर? बस इतनी सी बात से ख़ुद को ‘रवीश कुमार का फैन’ बताने वाला अरुण नाराज़ हो गया और उसने नरसंहार दोहराने की धमकी दी। दिलीप मंडल ट्विटर को दलित विरोधी बताते हुए उसका ख़िलाफ़ ‘जय भीम ट्विटर’ अभियान चला रहे हैं, जिसमें उन्हें कॉन्ग्रेस का भी समर्थन मिला है। नीचे आप अरुण का धमकी भरा ट्वीट देख सकते हैं:

रवीश कुमार हमेशा आरोप लगाते हैं कि सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा फॉलो किए जाने वाले लोग माहौल को बिगाड़ रहे हैं। साथ ही वो किसी के भाजपा कनेक्शन को लेकर भी उस पर निशाना साधते हैं। वो सीधा भाजपा पर आरोप लगाते हैं कि वो असामाजिक तत्वों को शह दे रही है। हालाँकि, ख़ुद को ‘रवीश कुमार का फैन’ बताने वाले व्यक्ति की नरसंहार वाली धमकी को लेकर वह अपना रुख स्पष्ट करते हैं या नहीं, इसका इंतजार है। नीचे आप डॉक्टर अरुण जे का ट्विटर बॉयो देख सकते हैं:

ख़ुद को ‘रवीश कुमार का फैन’ बताता है डॉक्टर अरुण जे, देखें उसका बायो
- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

अरुण जे पर कुछ महिलाओं ने भी गंभीर आरोप लगाए हैं। उसके बारे में पता चला है कि वो कई महिलाओं के साथ सिर्फ़ इसलिए दुर्व्यवहार करता है, क्योंकि वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फैन हैं। श्रुति नागपाल नामक महिला ने आरोप लगाया कि उसने उनके साथ बदतमीजी की। इतना ही नहीं, श्रुति ने बताया कि अरुण उनके कई साथी महिलाओं को भी प्रताड़ित कर चुका है। उन्होंने कहा कि अरुण यह सब सिर्फ़ इसलिए करता है, क्योंकि वे महिलाएँ पीएम मोदी की समर्थक हैं।

अरुण जे की इस धमकी से आहत तेजिंदर बग्गा ने दिल्ली पुलिस से उस पर कार्रवाई करने की शिकायत की। बग्गा ने दिल्ली पुलिस से अनुरोध किया कि इस ट्विटर हैंडल पर कार्रवाई की जाए। हालाँकि, अभी तक इस सम्बन्ध में दिल्ली पुलिस का कोई जवाब नहीं आया है। इधर अरुण जे ने अपना ट्विटर अकाउंट डिलीट कर दिया। जब उसने देखा कि लोग उसके विरोध में उतर आए हैं, तो उसने अपना अकाउंट डिलीट कर दिया। उसके अकाउंट की जगह अब ये मैसेज दिख रहा है:

अरुण जे ने अपना ट्विटर अकाउंट डिलीट कर लिया और भाग खड़ा हुआ

ऐसा प्रतीत होता है कि ख़ुद को रवीश का फैन बताने वाला अरुण पुलिस के डर से ट्विटर छोड़ कर भाग खड़ा हुआ, क्योंकि उसकी सारी करतूतें एक-एक कर के सामने आ रही थीं और लोग दिल्ली पुलिस को टैग कर के उस पर कार्रवाई की माँग कर रहे थे।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

"हिन्दू धर्मशास्त्र कौन पढ़ाएगा? उस धर्म का व्यक्ति जो बुतपरस्ती कहकर मूर्ति और मन्दिर के प्रति उपहासात्मक दृष्टि रखता हो और वो ये सिखाएगा कि पूजन का विधान क्या होगा? क्या जिस धर्म के हर गणना का आधार चन्द्रमा हो वो सूर्य सिद्धान्त पढ़ाएगा?"

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

115,259फैंसलाइक करें
23,607फॉलोवर्सफॉलो करें
122,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: