Wednesday, May 22, 2024
Homeदेश-समाजईद के दौरान ड्यूटी से लौट रहे पुलिसकर्मी सतेंद्र को वसीम और साथियों ने...

ईद के दौरान ड्यूटी से लौट रहे पुलिसकर्मी सतेंद्र को वसीम और साथियों ने बुरी तरह मारा, दी अभद्र गालियाँ: गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती, तीनों गिरफ्तार

इस मामले में ऑपइंडिया ने SSP बिजनौर IPS धर्मवीर से बात की और उन्होंने कॉन्स्टेबल द्वारा शराब पीने जैसी किसी भी आरोप से इंकार किया है। उन्होंने यह भी कहा कि यदि कोई शराब भी पीया होगा तो किसी को कोई अधिकार नहीं है कि वह कानून अपने हाथ में ले।

उत्तर प्रदेश के बिजनौर (Bijnor, Uttar Pradesh) में ईद के दिन नमाज पढ़कर लौट रहे तीन युवकों ने एक सिपाही को इतना मारा कि उसकी हालत गंभीर हो गई है। सिपाही सतेंद्र कुमार को मुरादाबाद के कॉसमॉस हॉस्पिटल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। वहीं, पुलिस ने मारपीट करने वाले फैजान, मोहम्मद साद और वसीम को गिरफ्तार कर लिया है।

ईद के दिन 3 मई को आरक्षी सतेंद्र कुमार अपनी ड्यूटी खत्म होने के बाद मोटरसाइकिल से बुढ़नपुर से थाना स्योहारा की तरफ जा रहे थे। इसी दौरान ईकड़ा पुल पर किसी वाहन को बचाते समय सतेंद्र की मोटरसाइकिल अनियंत्रित हो गई और वह सड़क पर गिर गए। इस दौरान उनके चेहरे पर चोट भी आई और वे लहूलुहान हो गए।

पुलिस का कहना है कि इसी दौरान मोहम्मद फैजान (19) पुत्र अब्दुल रहीम, मोहम्मद साद (20) पुत्र मतलूब अहमद और वसीम (21) पुत्र नसीम अहमद वहाँ आए और सतेंद्र के साथ गाली-गलौज करने लगे। इस दौरान तीनों ने पुलिसकर्मी के साथ मारपीट भी की। इसके बाद सूचना मिलने पर स्थानीय पुलिस घायल सतेंद्र को सीएचसी स्योहारा में भर्ती कराया, जहाँ से उन्हें मुरादाबाद रेफर कर दिया गया।

इस घटना का एक वीडियो भी सामने आया है। वीडियो में पुलिसकर्मी बाइक पकड़ कर खड़ा है और ऐसा लग रहा है जैसे किसी नशे में है। इसी दौरान किसी ने उसे लात मार दी और वह सड़क पर गिर गया। हालाँकि, पुलिस रिकॉर्ड में नशे की बात का जिक्र नहीं किया गया है।

पुलिस ने तीनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। तीनों आरोपित बिजनौर जिले के थाना नूरपुर के नई बस्ती राजा का ताजपुर के रहने वाले हैं। तीनों के ऊपर IPC की धारा 332, 307, 504 और 506 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

इस मामले में ऑपइंडिया ने SSP बिजनौर IPS धर्मवीर से बात की और उन्होंने कॉन्स्टेबल द्वारा शराब पीने जैसी किसी भी आरोप से इंकार किया है। उन्होंने कॉन्स्टेबल को चोटिल बताया और कहा कि चोट लगने से बड़े-बड़े लोग नहीं खड़े हो पाते। उन्होंने यह भी कहा कि यदि कोई शराब भी पीया होगा तो किसी को कोई अधिकार नहीं है कि वह कानून अपने हाथ में ले।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

SRH और KKR के मैच को दहलाने की थी साजिश… आतंकियों ने 38 बार की थी भारत की यात्रा, श्रीलंका में खाई फिदायीन हमले...

चेन्नई से ये चारों आतंकी इंडिगो एयरलाइंस की फ्लाइट से आए थे। इन चारों के टिकट एक ही PNR पर थे। यात्रियों की लिस्ट चेक की गई तो...

पश्चिम बंगाल में 2010 के बाद जारी हुए हैं जितने भी OBC सर्टिफिकेट, सभी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने कर दिया रद्द : ममता...

कलकत्ता हाई कोर्ट ने बुधवार 22 मई 2024 को पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार को बड़ा झटका दिया। हाईकोर्ट ने 2010 के बाद से अब तक जारी किए गए करीब 5 लाख ओबीसी सर्टिफिकेट रद्द कर दिए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -