Saturday, July 2, 2022
Homeदेश-समाजRSS संयोजक पर तलवार और सरियों से हमला, मौत के बाद हिंदू संगठनों का...

RSS संयोजक पर तलवार और सरियों से हमला, मौत के बाद हिंदू संगठनों का प्रदर्शन: राजस्थान के चित्तौड़गढ़ की घटना, धारा 144 लागू

सोनी पर हमला चित्तौड़गढ़ के घटना कच्ची बस्ती क्षेत्र में हुआ। वे एक कार्यक्रम से लौट रहे थे। बताया जा रहा है कि सिर पर चोट लगने की वजह से उनकी मौत हो गई।

राजस्थान के चित्तौड़गढ़ में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के संयोजक रत्न सोनी की मंगलवार (31 मई 2022) रात हत्या कर दी गई। इसके बाद हिंदू संगठनों ने प्रदर्शन किया। तनाव देखते हुए शहर में धारा 144 लागू की गई है।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार बाइक पर आए बदमाशों ने सरियों और तलवार से सोनी पर हमला किया। घटना को अंजाम देने के बाद हमलावर फरार हो गए। हमलावर समुदाय विशेष के बताए जा रहे हैं। सोनी को पहले जिला हॉस्पिटल ले जाया गया। बाद में उन्हें उदयपुर रेफर कर दिया गया। लेकिन रास्ते में ही उनकी मौत हो गई। इस रिपोर्ट के अनुसार सोनी बजरंग दल से जुड़े थे। उनके पिता पार्षद रह चुके हैं।

सोनी पर हमला चित्तौड़गढ़ के घटना कच्ची बस्ती क्षेत्र में हुआ। वे एक कार्यक्रम से लौट रहे थे। बताया जा रहा है कि सिर पर चोट लगने की वजह से उनकी मौत हो गई। इस घटना के बाद हिंदू संगठनों के सैकड़ों कार्यकर्ता रात में ही सड़कों पर उतर आए और आरोपितों की गिरफ्तारी की माँग करने लगे। शहर के सुभाष चौराहे पर प्रदर्शन किया गया। 

शहर में भारी पुलिसबल तैनात

माहौल को देखते हुए शहर में भारी पुलिसबल तैनात किया गया है। पुलिस ने आरोपितों के परिजनों को हिरासत में लिया है और मामला दर्ज कर लिया गया है। उनसे पूछताछ की जा रही है। पुलिस मामले की जाँच में लगी है और प्रदर्शनकारियों को समझाने की कोशिश कर रही है। बता दें कि प्रदर्शनकारियों ने कलेक्ट्रेट चौराहे से कोतवाली थाने तक जाम लगा दिया था। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों से कहा है कि वे शांति बनाए रखें, आरोपितों को पकड़ने की कार्रवाई चल रही है।

VHP नेता पर हुआ था हमला

गौरतलब है कि हाल ही में राजस्थान के हनुमानगढ़ में सांप्रदायिक तनाव की खबर सामने आई थी। यहाँ पर विश्व हिंदू परिषद (VHP) के साथानीय नेता सतवीर सहारण पर हमला हुआ था। बताया गया कि मंदिर के पास खड़ी लड़कियों से छेड़छाड़ से मना करने पर उनके ऊपर हमला किया गया था। जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गए थे। हमले के बाद लोगों में आक्रोश पैदा हो गया और स्थिति तनावपूर्ण हो गई थी। इससे पहले करौली, भीलवाड़ा और जोधपुर में सांप्रदायिक तनाव की घटना सामने आई थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘नूपुर शर्मा पर सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी गैर-जिम्मेदाराना’: रिटायर्ड जज ने सुनाई खरी-खरी, कहा – यही करना है तो नेता बन जाएँ, जज क्यों...

दिल्ली हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज एसएन ढींगरा ने मीडिया में आकर बताया है कि वो सुप्रीम कोर्ट के जजों की टिप्पणी पर क्या सोचते हैं।

‘क्या किसी हिन्दू ने शिव जी के नाम पर हत्या की?’: उदयपुर घटना की निंदा करने पर अभिनेत्री को गला काटने की धमकी, कहा...

टीवी अभिनेत्री निहारिका तिवारी ने उदयपुर में कन्हैया लाल तेली की जघन्य हत्या की निंदा क्या की, उन्हें इस्लामी कट्टरपंथी गला काटने की धमकी दे रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
202,399FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe