Monday, July 15, 2024
Homeदेश-समाजRSS कार्यकर्ता पर कट्टरपंथी इस्लामी भीड़ ने रात में किया हमला, सिर पर पत्थर...

RSS कार्यकर्ता पर कट्टरपंथी इस्लामी भीड़ ने रात में किया हमला, सिर पर पत्थर मारा: अब तक 20 गिरफ्तार, मुस्लिम संगठन का नेता भी हिरासत में

आरएसएस कार्यकर्ता की शिकायत पर पुलिस ने कार्रवाई की। हावेरी के एसपी ने बताया कि इस घटना में अब तक 20 लोग पकड़े गए हैं। इनमें एक अंजुमन-ए-इस्लाम का नेता भी है।

कर्नाटक के हावेरी में मंगलवार (11 अक्टूबर 2022) रात कुछ आरएसएस कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित करने का मामला प्रकाश में आया है। पुलिस ने इस संबंध में अब तक 20 लोगों को गिरफ्तार किया है। इनमें से एक मुस्लिम संगठन अंजुमन-ए-इस्लाम का अध्यक्ष है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, घटना कर्नाटक के रातिहल्ली गाँव की है। उस समय आरएसएस कार्यकर्ता गुरुराज कुलकर्णी और उनके 3 सहयोगी पथ संचलन का मार्ग तय करने के लिए कार में जा रहे थे। लेकिन तभी मुस्लिम समुदाय के कुछ लोग आए और उनसे बहस करने लगे। इसके बाद आपसी बहस झड़प में बदल गई।

पुलिस ने बताया कि इस दौरान गुरुराज कुलकर्णी के सिर पर पत्थर से हमला हुआ। वहीं बाकी कार्यकर्ता भी पीटे गए जिससे उन्हें भी चोटें आई। घटना की जानकारी होने पर पुलिस भी वहाँ पर पहुँची और उन्होंने घायल आरएसएस कार्यकर्ताओं को इलाज के लिए अस्पताल भेजा।

वीडियो में देख सकते हैं कि एक व्यक्ति अपना माथा पकड़कर खड़ा है। वहीं उसके साथी उसे कट्टरपंथी मुस्लिम भीड़ से बचाने का प्रयास कर रहे हैं। इसके अलावा मौके पर पुलिस भी है जो भीड़ को धकेलकर दूर कर रही है।

घटना के बाद गुरुराज की शिकायत पर पुलिस ने कार्रवाई की है। हावेरी के एसपी ने बताया कि इस घटना में अब तक 20 लोग पकड़े गए हैं। इनमें एक अंजुमन-ए-इस्लाम का नेता भी है। हर अपराधी को अपने किए की सजा भुगतनी होगी।

उल्लेखनीय है कि इससे पहले कर्नाटक के चिक्कमगलुरु जिले से आरएसएस कार्यकर्ता को धमकी देने का मामला सामने आया था। धर्म जागरण के जिला समन्वयक डॉ शशिधर की कार पर लिखा गया था, “किल यू जिहादी।” इसके अलावा याद दिला दें कि बीते दिनों पीएफआई के तमाम नेताओं की गिरफ्तारी के बाद कर्नाटक में आरएसएस कार्यकर्ताओं के घरों पर पेट्रोल बम फेंकने की घटना सामने आई है। कर्नाटक के साथ ऐसा केरल और तमिलनाडु में भी होता देखा गया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

IAS बेटी ऑडी पर बत्ती लगाकर बनाती थी भौकाल, माँ-बाप FIR के बाद फरार: पूजा खेडकर को जाँच के बाद डॉक्टरों ने नहीं माना...

पूजा खेडकर का मामला मीडिया में उठने के बाद उनके माता-पिता से जुड़ी कई वीडियो सामने आई है। ऐसे में पुलिस ने उनकी माँ के खिलाफ एफआईआर की है।

शूटिंग क्लब का सदस्य था डोनाल्ड ट्रम्प पर गोली चलाने वाला, शिकारी वाली वेशभूषा थी पसंद: रिपब्लिकन पार्टी ने बुलाया राष्ट्रीय सम्मेलन, पूर्व राष्ट्रपति...

वो लगभग 1 साल से पास में ही स्थित 'क्लेयरटन स्पोर्ट्समेन क्लब' का सदस्य भी था। इसमें कई शूटिंग रेंज हैं। पहले से कोई भी आपराधिक या ट्रैफिक चालान का मामला दर्ज नहीं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -