Sunday, October 17, 2021
Homeदेश-समाजCAA समर्थक जुलूस पर पथराव: धू-धू कर जला लोहरदगा, पथराव-आगजनी के बाद कर्फ्यू

CAA समर्थक जुलूस पर पथराव: धू-धू कर जला लोहरदगा, पथराव-आगजनी के बाद कर्फ्यू

सीएए के समर्थन में जुलूस निकाल रहे लोगों पर अमलाटोली चौक के पास पथराव किया गया। आसपास खड़ी कई मोटरसाइकिलों को आग के हवाले कर उपद्रवियों ने तोड़फोड़ की। स्थिति जल्द ही बेकाबू हो गई और इलाके की दुकानों में तोड़फोड़ की गई। पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित करने के लिए हवा में कई राउंड गोलियाँ चलाईं।

झारखंड के लोहरदगा में गुरुवार को नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन में निकाले गए जुलूस पर पथराव किया गया। उपद्रवियों ने दो दर्जन से अधिक गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया। कई दुकानों में आगजनी और तोड़फोड़ भी की। शहर में कर्फ्यू लगा दिया गया है। हालत तनावपूर्ण, लेकिन नियंत्रण में हैं।

दैनिक जागरण ने पुलिस के एक जवान के हवाले से बताया है कि जुलूस पर मस्जिद की तरफ से पथराव किया गया। पुलिस के कई वाहनों को भी उपद्रवियों ने क्षतिग्रस्त किया। दुकानों में तोड़फोड़ की। कई दुकानों में आग भी लगा दी। इससे पूरे शहर में अफरातफरी का माहौल पैदा हो गया। उपद्रवियों ने एसपी प्रियदर्शी आलोक को भी निशाना बनाया। प्रभात खबर के अनुसार हालात बेकाबू होता देख पुलिस को हवाई फायरिंग करनी पड़ी।

विहिप ने ट्वीट कर कहा है कि CAA के समर्थन में निकली रैली पर इस्लामिक जिहादियों ने ईंट-पत्थर से हमला किया। पेट्रोल बम फेंके। हिंदुओ के घरों और वाहनों के साथ महिलाओं को निशाना बनाया गया। विहिप ने पुलिस पर मूकदर्शक बनने का आरोप लगाते हुए कहा कि राज्य में कॉन्ग्रेस के समर्थन से सरकार बनने के बाद से हिंदुओं पर हमले हो रहे हैं।

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार सीएए के समर्थन में जुलूस निकाल रहे लोगों पर अमलाटोली चौक के पास पथराव किया गया। आसपास खड़ी कई मोटरसाइकिलों को आग के हवाले कर उपद्रवियों ने तोड़फोड़ की। स्थिति जल्द ही बेकाबू हो गई और इलाके की दुकानों में तोड़फोड़ की गई। इसके बाद पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित करने के लिए हवा में कई राउंड गोलियाँ चलाईं। स्थिति तनावपूर्ण होने की खबर पाकर जिले की उपायुक्त आकांक्षा रंजन और पुलिस कप्तान प्रियदर्शी आलोक पूरे दलबल के साथ मौके पर पहुॅंचे और स्थिति को नियंत्रित करने का प्रयास किया।

इससे पहले 14 जनवरी को राज्य के गिरिडीह में निकाली गई तिरंगा यात्रा पर पथराव किया गया था। उस दौरान भी पत्थर और लाठी-डंडे चले थे जिसमें कई लोग जख्मी हो गए थे।

जामिया के दंगों की तैयारी बहुत पहले हो चुकी थी, हर शुक्रवार को लगता है डर: जामिया के छात्र ने खोले कई राज़

JNU हिंसा: ABVP नहीं, कॉन्ग्रेस का इकोसिस्टम आया सामने, चैट वायरल होने के बाद सबसे बड़ा खुलासा

15 मौतें, 705 गिरफ्तारियाँ, 57 पुलिसकर्मियों को लगी गोली: यूपी में CAA पर हिंसा का हर डिटेल

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘काबा में पैगंबर मुहम्मद ने तोड़ डाली थी 360 मूर्तियाँ, उनके ही रास्ते पर चल रहे उन्हें मानने वाले’: बांग्लादेश के हालात पर लेखिका...

"पैगम्बर मुहम्मद ने काबा (मक्का) में पेगन समुदाय की 360 मूर्तियों को खंडित कर दिया था। उनका अनुसरण करने वाले उनके ही नक्शेकदम पर चल रहे हैं।"

काटेंगे-मारेंगे और दिखाएँगे भी… फिर करेंगे जिम्मेदारी की घोषणा: आखिर क्यों पाकिस्तानी कानून को दिल में बसा लिया निहंग सिखों ने?

क्या यह महज संयोग है कि पाकिस्तान की तरह 'किसान' आंदोलन की जगह पर भी हुई हत्या का कारण तथाकथित तौर पर ईशनिंदा है?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,261FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe