Sunday, September 19, 2021
Homeदेश-समाजपत्नी पर गलत नजर रख रहे मोहम्मद आलम ने की रामू संतराम की चाकू...

पत्नी पर गलत नजर रख रहे मोहम्मद आलम ने की रामू संतराम की चाकू से हत्या: 3 गिरफ्तार

कुछ दिन पहले मृतक रामू संतराम की पत्नी के मोबाइल फोन पर किसी अज्ञात व्यक्ति का कॉल आया। वो बार-बार पूजा से बात कराने की जिद पर अड़ा हुआ था। पत्नी ने रॉन्ग नंबर बता कर कॉल काट दिया, लेकिन वो बार-बार परेशान करता रहा।

गुजरात के सूरत में एक व्यक्ति ने अपने दो साथियों के साथ मिल कर एक कारखाना मालिक की हत्या कर दी। सूरत में आरोपित मोहम्मद आलम ने कारखाना मालिक रामू संतराम गोस्वामी की पत्नी और 3 साल की बच्ची के सामने ही नृशंस तरीके से उनकी हत्या कर डाली। आरोपित मोहम्मद आलम का दावा है कि वो मृतक रामू संतराम की पत्नी से प्यार करता था। पुलिस ने तीनों आरोपितों को गिरफ्तार कर के आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।

‘दैनिक भास्कर’ की खबर के अनुसार, अमरोली के रहने वाले रामू संतराम गोस्वामी कतारगाम क्षेत्र में कपड़ा पॉलिस करने का कारखाना चलाते थे। कुछ दिन पहले उनकी पत्नी के मोबाइल फोन पर किसी अज्ञात व्यक्ति का कॉल आया। वो बार-बार पूजा से बात कराने की जिद पर अड़ा हुआ था। पत्नी ने रॉन्ग नंबर बता कर कॉल काट दिया, लेकिन वो बार-बार परेशान करता रहा। 3-4 कॉल्स के बाद आरोपित ने बताया कि वो उनसे ही बात करना चाहता है।

इसकी शिकायत उन्होंने अपने पति से की। जब छानबीन की गई तो पता चला कि ये संतराम के ही परिचित आलम का फोन नंबर है। आलम की इस करतूत के बाद संतराम उसके घर पहुँचे हुए उसे समझाया। साथ ही उन्होंने पुलिस में जाने की भी चेतावनी दी। उन्होंने कहा था कि अगर आलम ने उनकी पत्नी को परेशान करना नहीं छोड़ा तो वो थाने में शिकायत करेंगे। इसके बाद अगले 2-3 दिन तक आलम शांत रहा और उसने फोन कर के परेशान नहीं किया।

अचानक रविवार (अक्टूबर 25, 2020) की रात 11 बजे आलम अपने दो साथियों अली और सातला के साथ संतराम के घर पर आ धमका। दरवाजा खुलते ही तीनों अपराधी घर में घुसे और उन्होंने गेट को अंदर से लगा दिया। इसके बाद पत्नी व 3 साल की बेटी के सामने ही संतराम के पेट व सीने में कई बार चाकू से वार किया। फिर वो तीनों फरार हो गए। अस्पताल में इलाज के दौरान पीड़ित की मौत हो गई। इस घटना के अगले ही दिन लड़के पुलिस ने तीनों को धर-दबोचा।

अभी पूरा देश हरियाणा के फरीदाबाद स्थित बल्लभगढ़ में ‘लव जिहाद’ के मामले में तौफीक द्वारा छात्रा निकिता तोमर की हत्या की वारदात से उबल रहा है। कॉन्ग्रेस के पूर्व विधायक और पूर्व मंत्री खुर्शीद अहमद निकिता के हत्यारे के चचेरे दादा लगते हैं। इसी तरह वर्तमान में मेवात के नूँह से कॉन्ग्रेस विधायक आफताब अहमद आरोपित तौसीफ के चाचा हैं। दिनदहाड़े हुई इस घटना का सीसीटीवी फुटेज सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘आई एम सॉरी अमरिंदर’: इस्तीफे से पहले सोनिया गाँधी ने कैप्टेन से किया किनारा, जानिए क्या हुई फोन पर आखिरी बातचीत

"बिना मुझसे पूछे विधायक दल की मीटिंग बुला ली गई, जिसके बाद सुबह सवा दस के करीब मैंने कॉन्ग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गाँधी को फोन किया था और मैंने उन्हें कहा कि..."

सिख नरसंहार के बाद छोड़ दी थी कॉन्ग्रेस, ‘अकाली दल’ में भी रहे: भारत-पाक युद्ध की खबर सुन दोबारा सेना में गए थे ‘कैप्टेन’

11 मार्च, 2017 को जन्मदिन के दिन ही कैप्टेन अमरिंदर सिंह को पंजाब में बहुमत प्राप्त हुआ और राज्य में कॉन्ग्रेस के लिए सत्ता का सूखा ख़त्म हुआ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,096FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe