Thursday, January 20, 2022
Homeदेश-समाज'मैं गौरी, गणपति और हिंदू भगवानों में विश्वास नहीं करता': तेलंगाना में IPS अधिकारी...

‘मैं गौरी, गणपति और हिंदू भगवानों में विश्वास नहीं करता’: तेलंगाना में IPS अधिकारी का हिंदू विरोधी प्रोपेगेंडा

“मैं गौरी, गणपति और अन्य हिंदू भगवानों में विश्वास नहीं करता। मैं कभी उनकी पूजा नहीं करूँगा। मैं उन्हें भगवान का अवतार नहीं मानता। मैं श्राद्ध कर्म नहीं करूँगा और न ही पिंड दान करूँगा। मैं कोई भी ऐसी चीज नहीं करूँगा जो बुद्ध के दिखाए रास्ते व सिद्धांतों से अलग होगी। मैं कभी शराब नहीं पिऊँगा। मैं राम-कृष्ण में भी विश्वास नहीं करूँगा।”

तेलंगाना के वरिष्ठ IPS अधिकारी आरएस प्रवीण कुमार की एक विवादित वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। इस वीडियो में वह छात्र-छात्राओं को हिंदू विरोधी शपथ दिलवाते दिख रहे हैं कि वे भविष्य में कोई हिंदू धर्म व परंपरा का पालन नहीं करेंगे।

वीडियो में नजर आने वाले अधिकारी फिलहाल तेलंगाना सोशल वेल्फेयर रेसीडेंशियल एड्यूकेशनल इंस्टिट्यूशन सोसायटी (TSWREIS) के सचिव भी हैं। उनकी विवादित वीडियो हर जगह वायरल है। इसमें कई लोग हिंदू विरोधी प्रोपगेंडा का भाग बनते दिखाई दे रहे हैं।

जानकारी के अनुसार, आईपीएस अधिकारी ने हिंदुओं के विरुद्ध छात्रों को शपथ दिलाने का काम ‘Swaero Holy Month’ सेरेमनी के दौरान किया, जिसे उन्होंने तेलंगाना के पेद्दापल्ली जिले के धुलीकत्ता इलाके में बने बौद्ध मंदिर में लॉन्च किया।  

इसी आयोजन की एक छोटी सी क्लिप में देख सकते हैं कि प्रवीण कुमार मासूमों को शपथ दिलवाते हुए कहते हैं, “मैं गौरी, गणपति और अन्य हिंदू भगवानों में विश्वास नहीं करता। मैं कभी उनकी पूजा नहीं करूँगा। मैं उन्हें भगवान का अवतार नहीं मानता। मैं श्राद्ध कर्म नहीं करूँगा और न ही पिंड दान करूँगा। मैं कोई भी ऐसी चीज नहीं करूँगा जो बुद्ध के दिखाए रास्ते व सिद्धांतों से अलग होगी। मैं कभी शराब नहीं पिऊँगा। मैं राम-कृष्ण में भी विश्वास नहीं करूँगा।”

कथित तौर पर, तेलंगाना सरकार ने 2014 में जरूरतमंद और वंचित बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने और तेलंगाना राज्य सरकार द्वारा संचालित विभिन्न स्कूलों, कॉलेजों और छात्रावासों को संचालित करने के लिए TSWREIS स्थापित किया था, जिसके सचिव पद पर आज प्रवीण कुमार बैठे हुए हैं।

हिंदू विरोधी प्रोपगेंडा चलाने वाले प्रवीण कुमार कर रहे बच्चों का दिमाग भ्रष्ट

लीगल राइट्स प्रोटेक्शन फोरन नाम के एक्टिविस्ट ग्रुप के अनुसार, आरएस प्रवीण कुमार हिंदू विरोधी विचारधारा को बढ़ावा देकर स्कूल व हॉस्टल में पढ़ने वाले बच्चों के दिमाग को भ्रष्ट कर रहे हैं। केंद्रीय मंत्री जीतेंद्र सिंह को भेजी गई अपनी शिकायत में LRPF ने आरोप लगाया है कि प्रवीण कुमार ने SWAROES नाम का मूवमेंट शुरू किया है,  जो गैर सामाजिक गतिविधियों में लिप्त है और गरीब अनुसूचित जाति के लोगों के भले के नाम पर उनके दिमाग में जहर भर रहा है।

शिकायत में लिखा है कि कल्याण के नाम पर चल रही ऐसी घटिया हरकतों पर लगाम लगना जरूरी हैं। साथ ही ऐसे लोगों को दंड देने के लिए कदम उठाने भी आवश्यक हैं, जो सार्वजनिक शांति और कानून व्यवस्था के हित में काम नहीं कर रहे हैं।

LRPF की शिकायत के अनुसार, एक तय धर्म के देवी देवताओं का नाम लेने वाले प्रवीण कुमार वो आईपीएस अधिकारी हैं, जो तेलंगाना सोशल वेल्फेयर रेसीडेंशियल एड्यूकेशनल इंस्टिट्यूशन सोसायटी के एक जिम्मेदार पद पर हैं। वह अत्यधिक निर्णायक व पब्लिक ब्यूरोक्रेट होने के बावजूद, खुलेआम दूसरे धर्मों के ख़िलाफ़ नफरत फैला रहे हैं।

पत्र में इस बात का भी उल्लेख है कि प्रवीण कुमार एक ही पद पर पिछले सात साल से बने हुए हैं और उनका हाल में एंडिशनल डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस के तौर पर प्रमोशन भी हुआ है जबकि उन्हें फुल टाइम पुलिस अधिकारी के तौर पर काम करने का अनुभव ही नहीं है।

शिकायत में बताया गया है कि SWAEROS को प्रवीण कुमार ने लॉन्च किया है। ‘Swaero Holy Month’ को भीम दीक्षा भी कहा जाता है। इसमें डॉ बीआर अंबेडकर से जुड़े काम और अन्य गतिविधियों के बारे में बताया जाता है।

इसमें लिखा गया है कि SWAEROS ने कथिततौर पर सैकड़ों टैक्सपेयर फंडेड सरकार द्वारा संचालित एड्यूकेशनल इंस्टिट्यूशन पर कब्जा कर लिया है। शिकायत में बताया गया है कि बौद्ध शिक्षा के हिस्से को थोप कर, बच्चों के सिर को नियमित रूप से मुंडवाकर उन्हें घर भेजा जाता है।

SWAEROS का विरोध करने पर हुआ भाजपा नेता पर हमला

गौरतलब है कि SWAEROS और आईपीएस प्रवीण के विरोध में कई हिंदू संगठन व भाजपा नेता प्रदर्शन कर रहे हैं। तेलंगाना के भाजपा नेता व वीएचपी सदस्यों ने प्रवीण कुमार को हिंदुओं की भावना भड़काने का जिम्मेदारा बताया है। इन्हीं आरोपों के बीच भाजपा अध्यक्ष बांदी संजय कुमार पर तेलंगाना के कोआड़ा के नजदीक रॉड और पत्थरों से हमला हुआ। साथ ही उनके वाहन को भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया।

भाजपा नेताओं ने इस हमले के लिए पूरी तरह SWAEROS और आईपीएस प्रवीण कुमार को जिम्मेदार बताया। साथ ही प्रवीण कुमार के ट्रांस्फर की भी माँग उठाई। बीजेपी नेताओं ने कहा कि सुनियोजित ढंग से संजय कुमार पर हमला हुआ, वो भी तब जब वह हुजूरनगर से हैदरबाद के लिए जा रहे थे।

वहीं विवादित पुलिस अधिकारी प्रवीण कुमार ने पूरे मामले पर कहा कि SWAEROS एक समावेशी विचारधारा है, जहाँ सभी धार्मिक धर्मों के लोग गरीबी से मुक्ति के लिए काम कर रहे हैं। उन्होंने अपने बयान में भाजपा नेताओं के खिलाफ किसी भी हिंसा की निंदा नहीं की।

बयान में लिखा गया, “Swaero Network में सभी धार्मिक मान्यताओं वाले लोग हैं, और हम सभी धर्मों से सर्वश्रेष्ठ चीजें लेते हैं। हम अपने घरों और कार्यस्थलों दोनों में किसी भी धर्म के खिलाफ कोई पूर्वाग्रह नहीं सिखाते हैं और सभी त्योहार मनाते हैं। हम देश में न्यायपूर्ण और समान समाज के लिए केवल शिक्षा, स्वास्थ्य जागरूकता, वैज्ञानिक सोच और आर्थिक सशक्तिकरण के माध्यम से काम करते हैं, न कि घृणा के माध्यम से।”

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महाराष्ट्र के नगर पंचायतों में BJP सबसे आगे, शिवसेना चौथे नंबर की पार्टी बनी: जानिए कैसा रहा OBC रिजर्वेशन रद्द होने का असर

नगर पंचायत की 1649 सीटों के लिए मंगलवार को मतदान हुआ था। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद यह चुनाव ओबीसी आरक्षण के बगैर हुआ था।

भगवान विष्णु की पौराणिक कहानी से प्रेरित है अल्लू अर्जुन की नई हिंदी डब फिल्म, रिलीज को तैयार ‘Ala Vaikunthapurramuloo’

मेकर्स ने अल्लू अर्जुन की नई हिंदी डब फिल्म के टाइटल का मतलब बताया है, ताकि 'अला वैकुंठपुरमुलु' से अधिक से अधिक दर्शकों का जुड़ाव हो सके।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
152,298FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe