Tuesday, May 28, 2024
Homeदेश-समाज'द कश्मीर फाइल्स' वाले विवेक अग्निहोत्री को Y कैटेगरी की सिक्योरिटी, न्यूजीलैंड में फिल्म...

‘द कश्मीर फाइल्स’ वाले विवेक अग्निहोत्री को Y कैटेगरी की सिक्योरिटी, न्यूजीलैंड में फिल्म की रिलीज रोकने में लगे कट्टरपंथी

"कुछ सांप्रदायिक समूह #TheKashmirFiles पर प्रतिबंध लगाने के लिए न्यूज़ीलैंड के सेंसर बोर्ड पर दबाव बनाने की कोशिश कर रहे हैं। मैं सभी भारतीयों से एकजुट होने और कट्टरपंथियों द्वारा इस अलोकतांत्रिक रणनीति का अत्यंत विनम्रता के साथ विरोध करने की अपील करता हूँ।"

केंद्र सरकार ने कश्मीर फाइल्स फिल्म निर्देशक और प्रोड्यूसर विवेक अग्निहोत्री को ‘वाई’ कैटेगरी की सुरक्षा प्रदान की है। ‘द कश्मीर फाइल्स’ अपनी कड़वी सच्चाई की वजह से कट्टरपंथियों के लिए मुसीबत बनी हुई है। इस फिल्म को जनता का जबरदस्त रिस्पॉन्स मिल रहा है, वहीं कई दूसरे माध्यमों से कश्मीरी पंडितों का दर्द भी सामने आ रहा है। यही वजह से कई मुस्लिम और कट्टरपंथी समूहों की तरफ से लगातार विवेक अग्निहोत्री को धमकियाँ मिल रहीं थी।

जिसको देखते हुए मोदी सरकार ने निर्देशक को सुरक्षा प्रदान की है। ANI ने सरकार के सूत्रों के हवाले से बताया है, “विवेक अग्निहोत्री को Y कैटेगरी की यह सुरक्षा सीआरपीएफ कवर के साथ दी गई है। यह सुरक्षा पूरे भारत के लिए है।”

बता दें कि हाल ही में आई उनकी फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ की जहाँ तारीफ हो रही है, वहीं वह कट्टरपंथियों के निशाने पर भी आ गए हैं। इंटरनल रिपोर्ट में हमले की आशंका को देखते हुए सरकार ने उन्हें यह सुरक्षा देने का फैसला किया है।

वहीं दूसरी ओर फिल्म को मुस्लिम समूहों द्वारा कई देशों में बैन करने के लिए वहाँ की सरकारों पर दबाव डाला जा रहा है। सिंगापुर, क़तर जैसे कई देशों में पहले से ही फिल्म बैन है।

अब विवेक रंजन अग्निहोत्री में एक स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए ट्वीट किया, “कुछ सांप्रदायिक समूह #TheKashmirFiles पर प्रतिबंध लगाने के लिए न्यूज़ीलैंड के सेंसर बोर्ड पर दबाव बनाने की कोशिश कर रहे हैं। मैं सभी भारतीयों से एकजुट होने और कट्टरपंथियों द्वारा इस अलोकतांत्रिक रणनीति का अत्यंत विनम्रता के साथ विरोध करने और मानवता और मानवाधिकारों की रक्षा हेतु इस फिल्म को रिलीज करने का अनुरोध करता हूँ।”

इसके साथ ही उन्होंने उन्होंने #एफओई अर्थात फ्रीडम ऑफ़ एक्सप्रेशन का हैस टैग भी लगाया।

गौरतलब है कि कश्मीरी पंडितों की कहानी पर आधारित फिल्म ‘The Kashmir Files’ में साल 1990 में हुए कश्मीरी पंडितों के नरसंहार के एक छोटे हिस्से को दिखाया गया है। देश-विदेश के ज्यादातर शहरों के सिनेमाघरों में शो हाउसफुल चल रहे हैं। फिल्म के माध्यम से विवेक अग्निहोत्री ने कश्मीरी पंडितों पर हुए हिंसा की दास्तान को घर-घर तक पहुँचा दिया है।

इस फिल्म के माध्यम कई दूसरी कहानियाँ भी सामने आई हैं। जिससे आतंकवादी ताकतें बेनकाब हो चुकी हैं। जिसके बाद कश्मीरियत और कश्मीर में शांति की बात करने वाले वामपंथी और एकतरफा नैरेटिव फैलाने वाले लोग इस कदर जल उठे हैं कि निर्देशक विवेक अग्निहोत्री को लगातार गालियाँ और धमकियाँ दे रहे हैं।

आपको बता दें कि इस फिल्म की रिलीज को एक हफ्ते हो चुके हैं। फिल्म थमने के मूड में बिल्कुल नहीं है बल्कि हर दिन के साथ इसकी कमाई में भी उछाल आता जा रहा है। फिल्म अब 100 करोड़ क्लब में शामिल हो गई है। जिसकी बधाई खुद निर्देशक ने ट्वीट करके दी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

2014 – प्रतापगढ़, 2019 – केदारनाथ, 2024 – कन्याकुमारी… जिस शिला पर विवेकानंद ने की थी साधना वहीं ध्यान धरेंगे PM नरेंद्र मोदी, मतगणना...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सातवें चरण के लिए प्रचार-प्रसार का शोर थमने के साथ थी 30 मई को ही कन्याकुमारी पहुँच जाएँगे, 4 जून को होनी है मतगणना।

पंजाब में Zee मीडिया के सभी चैनल ‘बैन’! मीडिया संस्थान ने बताया प्रेस की आज़ादी पर हमला, नेताओं ने याद किया आपातकाल

जदयू के प्रवक्ता KC त्यागी ने इसकी निंदा करते हुए कहा कि AAP का जन्म मीडिया की फेवरिट संस्था के रूप में हुआ था, रामलीला मैदान में संघर्ष के दौरान मीडिया उन्हें खूब कवर करता था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -