Tuesday, July 16, 2024
Homeदेश-समाजट्रैफिक नियमों को तोड़ने पर फाइन या सजा नहीं, मिली मिठाई और टॉफी: मणिपुर...

ट्रैफिक नियमों को तोड़ने पर फाइन या सजा नहीं, मिली मिठाई और टॉफी: मणिपुर में अनोखा अभियान

"जैसे ही इस तरीके को हमने अपनाया, लोगों ने कॉपरेट करना शुरू कर दिया और हमारी बात भी सुनने लगे। लोगों को उनकी सुरक्षा के लिए जागरूक करने के लिए..."

मोटर व्हीकल एक्ट में संशोधन के बाद रविवार आधी रात से नया कानून पूरे देश भर में लागू हो गया। कहा जा रहा है कि अब से ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने वालों को 10 गुना ज्यादा जुर्माना भरना होगा। लेकिन इसी बीच मणिपुर से एक हैरान करने वाली भी खबर आ रही है।

बताया जा रहा है मणिपुर के चुराचंदपुर इलाके में ट्रैफिक पुलिस ने बिना हेलमेट बाइक चलाते लोगों को न केवल हिदायत दी कि सभी सुरक्षा नियम जनता के लिए बनाए गए हैं। इसलिए वो उसका अनुसरण करें बल्कि उनको मिठाई और टॉफियाँ भी बाँटीं और उनसे कोई फाइन भी नहीं लिया

एएनआई के ट्वीट के मुताबिक एसपी अमृता सिन्हा ने बताया कि पहले जब उन्होंने बिना हेलमेट पहने लोगों को सड़क पर रोकना शुरू किया तो लोगों को ये अच्छा नहीं लगा, फिर उन्हें एक आइडिया आया और उन्होंने कुछ दूर पर गाड़ी को रुकवाना शुरू कर दिया। इसके बाद पुलिस ने लोगों से उनकी गाड़ी को खींचकर आगे लाने को कहा और फिर उनको टॉफी और मिठाई दी।

इसके साथ ही पुलिस ने नियमों का उल्लंघन करने वाले लोगों आराम से समझाया कि ये सब उनकी सुरक्षा के लिए ही है इसलिए पुलिस चाहती हैं कि वो हेलमेट पहनें। एसपी अमृता बताती हैं कि उन्होंने जैसे ही इस तरीके को अपनाया लोग उनके साथ कॉपरेट करना शुरू कर दिया और उनकी बात भी सुनने लगे। लोगों को उनकी सुरक्षा के लिए जागरूक करने के लिए मणिपुर में यह मुहिम अभी कुछ दिन पहले से शुरू हुई है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: दौलत के 5 साल...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -