Thursday, July 18, 2024
Homeदेश-समाजपेपर लीक मामले के बाद UGC-NET 2024 परीक्षा की नई तिथि जारी: डार्क वेब...

पेपर लीक मामले के बाद UGC-NET 2024 परीक्षा की नई तिथि जारी: डार्क वेब पर मिले थे प्रश्न पत्र, शिक्षा मंत्रालय ने रद्द कर दी थी परीक्षा

केंद्र सरकार ने साल 2017 में NTA के गठन का ऐलान किया था। दिसंबर 2018 में एनटीए ने पहली यूजीसी-नेट परीक्षा आयोजित कराई थी। यूजीसी-नेट, नीट के अलावा एनटीए इंजीनियरिंग की प्रवेश परीक्षा जॉइंट एंट्रेस एग्जामिनेशन (JEE-Main) भी आयोजित कराती है। इस परीक्षा के आधार पर आईआईटी और एनआईटी में एडमिशन मिलते हैं।

पेपर लीक के बाद राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (NTA) ने UGC-NET 2024 परीक्षा की नई तिथि की घोषणा की है। अब इसे 21 अगस्त से 4 सितंबर 2024 के बीच आयोजित किया जाएगा। इस परीक्षा को 18 जून को आयोजित किया गया था। हालाँकि, पेपर लीक की घटना के बाद इसे रद्द कर दिया गया था। इसके अलावा, अन्य परीक्षाओं की तिथियों की भी घोषणा की गई है।

NTA द्वारा जारी की गई नई तिथि के मुताबिक, यूजीसी नेट की सभी परीक्षाएँ कंप्यूटर आधारित होंगी। वहीं, NCET 2024 परीक्षा 10 जुलाई को होगी। संयुक्त सीएसआईआर यूजीसी नेट की परीक्षा 25 से 27 जुलाई के बीच आयोजित किया जाएगा। वहीं, अखिल भारतीय आयुष स्नातकोत्तर प्रवेश परीक्षा (AIAPGET) 2024 पहले से निर्धारित 6 जुलाई को आयोजित होगी।

गृह मंत्रालय के अधीन भारतीय साइबर अपराध समन्वय केंद्र (I4C) से पेपर लीक के बारे में जानकारी मिलने के बाद शिक्षा मंत्रालय ने परीक्षा रद्द कर दी थी। शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि जैसे ही यह स्पष्ट हो गया कि डार्कनेट पर आया यूजीसी-नेट का पेपर यूजीसी-नेट के मूल पेपर से मेल खाता है तो परीक्षा को रद्द करने का फैसला लिया गया।

सीबीआई जाँच के बाद पता चला कि पेपर 16 जून को डार्कनेट और अन्य एन्क्रिप्टेड सोशल मीडिया चैनलों पर परीक्षा से ठीक दो दिन पहले लीक हो गया था। इसे 5 लाख रुपए से अधिक की कीमत पर बेचा गया था। बता दें कि यूजीसी नेट की परीक्षा के जरिए जूनियर रिसर्च फेलो, असिस्टेंट प्रोफेसर और पीएचडी स्कॉलर्स का चयन होता है।

यूजीसी नेट परीक्षा का आयोजन साल में दो बार- जून और दिसंबर में होता है। इस साल NTA ने UGC की ओर से पेन-पेपर मोड में UGC NET का आयोजन किया था। हालाँकि, वर्ष 2018 में NTA के गठन से पहले UGC-NET का आयोजन केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) करता था। इस साल इस परीक्षा में 9 लाख से ज्यादा परीक्षार्थी शामिल हुए थे। 

बता दें कि राष्ट्रीय स्तर पर इस तरह की परीक्षाओं का आयोजन करने वाली NTA एक स्वायत्त निकाय है। यह देश के उच्च शिक्षण संस्थानों में नामांकन के लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित करती है। प्रश्न पत्र तैयार करने से लेकर इसे परीक्षा केंद्र तय करने और उत्तर पुस्तिका की जाँच तक की जिम्मेदारी NTA ही करती है।

केंद्र सरकार ने साल 2017 में इसके गठन का ऐलान किया था। दिसंबर 2018 में एनटीए ने पहली यूजीसी-नेट परीक्षा आयोजित कराई थी। यूजीसी-नेट, नीट के अलावा एनटीए इंजीनियरिंग की प्रवेश परीक्षा जॉइंट एंट्रेस एग्जामिनेशन (JEE-Main) भी आयोजित कराती है। इस परीक्षा के आधार पर आईआईटी और एनआईटी में एडमिशन मिलते हैं।

हालाँकि जेईई मेन के बाद जेईई एडवांस्ड लेवल की परीक्षा कराई जाती है और इसका आयोजन रोटेशन प्रणाली के आधार पर आईआईटी संस्थानों द्वारा कराई जाती है। इनके अलावा, एनटीए CMAT और GPAT जैसी परीक्षाएँ भी आयोजित कराती है। सीमैट देश के प्रबंधन संस्थानों में एडमिशन के लिए और जीपैट फार्मेसी संस्थानों में मास्टर्स प्रोग्राम में दाखिले के लिए कराए जाते हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुहर्रम जुलूस में बजेगा ढोल, जो मुस्लिम नहीं देख सकते वे घर बैठें: मद्रास हाई कोर्ट ने ‘तौहीद जमात’ के कट्टरपंथ के आगे घुटने...

मद्रास हाई कोर्ट ने कहा कि मुहर्रम के जुलूस को अनुमति देते हुए कहा कि जैसे जगह के साथ भाषा बदलती है वैसे रीति-रिवाज में बदलाव होता है।

साथियों ने हाथ-पाँव पकड़ा, काज़िम अंसारी ने ताबतोड़ घोंपा चाकू… धराया VIP अध्यक्ष मुकेश सहनी के पिता का हत्यारा, रात के डेढ़ बजे घर...

घटना की रात काज़िम अंसारी ने 10-11 बजे के बीच रेकी भी की थी जो CCTV में कैद है। रात के करीब डेढ़ बजे ये लोग पीछे के दरवाजे से घर में घुसे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -