Wednesday, September 28, 2022
Homeदेश-समाजUP: अराजक तत्वों ने प्रियंका वाड्रा की दादी की मूर्ति को पहनाया बुर्का, कॉन्ग्रेसियों...

UP: अराजक तत्वों ने प्रियंका वाड्रा की दादी की मूर्ति को पहनाया बुर्का, कॉन्ग्रेसियों का फूटा गुस्सा

"इस घटना से साफ है कि कुछ शरारती तत्व माहौल खराब करना चाहते थे, लेकिन हम उनकी पहचान कर उन पर निश्चित तौर पर कानूनी कार्रवाई करेंगे।"

उत्तर प्रदेश से एक बेहद निंदनीय घटना सामने आई है। उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खिरी में कुछ लोगों ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी की मूर्ति को बुर्का पहना दिया। यह घटना सोमवार (मई 03, 2019) सुबह की है। मामले की जानकारी जैसे की कॉन्ग्रेस के कार्यकर्ताओं को मिली, उन्होंने हंगामा शुरू कर दिया, जिसके बाद जिला प्रशासन और पुलिस के लोगों ने किसी तरह कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं को समझाया।

दरअसल, गोला इलाके में  कुछ अराजक तत्व मूर्ति को बुर्का पहनाकर वहाँ से चले गए। जब सोमवार सुबह मॉर्निंग वॉक पर निकले लोगों ने इंदिरा पार्क में पूर्व पीएम की मूर्ति पर बुर्का चढ़ा हुआ देखा तो वह दंग रह गए। यह खबर पूरे इलाके में आग की तरह फैल गई।

इसके बाद मूर्ति के पास एकत्रित होकर नाराज कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं ने अराजक तत्वों को न रोके जाने पर पुलिस और स्थानीय प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। मौके पर पहुँची पुलिस ने हालात पर काबू पाने के लिए लोगों को कार्रवाई का आश्वासन दिया। एक पुलिस अधिकारी ने कहा, “इस घटना से साफ है कि कुछ शरारती तत्व माहौल खराब करना चाहते थे, लेकिन हम उनकी पहचान कर उन पर निश्चित तौर पर कानूनी कार्रवाई करेंगे।”

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, मामले पर यूपीसीसी की प्रवक्ता अंशू अवस्थी ने कहा, “हमारे देश की पूर्व प्रधानमंत्री, जिन्होंने देश के लिए इतना कुछ किया यहाँ तक कि अपनी जान भी गवाँ दी, जिन्हें पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने दुर्गा का अवतार कहा था, अब उन्हें गुंडों द्वारा टारगेट किया जा रहा है। यह वास्तव में दुखद है कि चुनावों में जीत के बावजूद भाजपा के लोग हमारे महान नेताओं को बदनाम करने के लिए सस्ते हथकंडे अपना रहे हैं। हम घटना के पीछे जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की माँग करते हैं।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ब्रह्मांड के केंद्र’ में भारत माता की समृद्धि के लिए RSS प्रमुख मोहन भागवत ने की प्रार्थना, मेघालय के इसी जगह पर है ‘स्वर्णिम...

सेंग खासी एक सामाजिक-सांस्कृतिक और धार्मिक संगठन है जिसका गठन 23 नवंबर, 1899 को 16 युवकों ने खासी संस्कृति व परंपरा के संरक्षण हेतु किया था।

अब पलटा लेस्टर हिंसा के लिए हिन्दुओं को जिम्मेदार ठहराने वाला BBC, फिर भी जारी रखी मुस्लिम भीड़ को बचाने की कोशिश: नहीं ला...

बीबीसी ने अपनी पिछली रिपोर्टों के लिए कोई माफी नहीं माँगी है, जिसमें उसने हिंदुओं पर झूठा आरोप लगाया था कि हिंसा के लिए वे जिम्मेदार हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
224,688FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe