Monday, July 22, 2024
Homeदेश-समाज'मुनव्वर राना जाने की तैयारी करो, योगी वापस आ रहे हैं': महंत नरेंद्र गिरि...

‘मुनव्वर राना जाने की तैयारी करो, योगी वापस आ रहे हैं’: महंत नरेंद्र गिरि ने विवादित शायर को दिया दो टूक जवाब

''राना उत्तर प्रदेश के बाहर बसने की तैयारी शुरू कर दें, क्योंकि योगी आदित्यनाथ फिर से मुख्यमंत्री बनकर वापस लौट रहे हैं। अगर वो पश्चिम बंगाल जाकर रहना चाहते हैं तो जा सकते हैं पर याद रखें वो भी भारत का ही अंग है।''

मशहूर उर्दू शायर मुनव्वर राना इन दिनों अपने बयानों को लेकर खासा विवादों में हैं। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने मुनव्वर राना के उत्तर प्रदेश में CM योगी की वापसी पर प्रदेश छोड़ने वाले बयान पर अपनी तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। उन्होंने कहा, ”राना उत्तर प्रदेश के बाहर बसने की तैयारी शुरू कर दें, क्योंकि योगी आदित्यनाथ फिर से मुख्यमंत्री बनकर वापस लौट रहे हैं। अगर वो पश्चिम बंगाल जाकर रहना चाहते हैं तो जा सकते हैं पर याद रखें वो भी भारत का ही अंग है।”

महंत नरेंद्र गिरि ने शायर के विवादित बयान पर कहा, ”ऐसा लगता है कि मुनव्वर राना कट्टरपंथियों के हाथों में खेल रहे हैं। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार के दौरान पिछले साढ़े चार में कोई दंगा नहीं हुआ है। वर्षों से यूपी में जब भी अन्य सरकारें रही हैं, दंगे हुए हैं और मुसलमान भी असुरक्षित रहे हैं।”

महंत यही नहीं रुके उन्होंने आगे कहा कि राना के बयान से ऐसा प्रतीत होता है कि उनकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि कोई भी कहीं जाने के लिए पूरी तरह से स्वतंत्र है। राना भी अगर पश्चिम बंगाल जाना चाहते हैं तो बेशक वह जा सकते हैं, लेकिन उन्हें यह नहीं भूलना चाहिए कि पश्चिम बंगाल भी भारत का ही अंग है।

महंत नरेंद्र गिरि ने कहा है कि यूपी में अगली सरकार भी सीएम योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में भाजपा की ही बनेगी। सीएम योगी ही प्रदेश के अगले मुख्यमंत्री होंगे। इसलिए आप अपना मकान और जमीन बेचकर कभी भी जा सकते हैं।

उन्होंने कहा कि एक शायर के रूप में मुनव्वर राना की पूरे देश में अच्छी पहचान थी। हिंदू और मुसलमान दोनों ही उनका सम्मान करते हैं, लेकिन पिछले कुछ दिनों से वह जिस तरह के विवादित बयान दे रहे हैं, उससे उनकी छवि धूमिल हुई है। महंत नरेंद्र गिरी ने कहा कि अगर एक बार फिर से मुनव्वर अपने विवादित बयानों को छोड़कर राष्ट्रवाद की मुख्यधारा में लौट आते हैं, तो निश्चित ही उन्हें लोगों का वही प्यार और सम्मान मिलेगा।

बता दें कि शनिवार (17 जुलाई 2021) को राना ने कहा था, “अगर औवेसी की मदद से यूपी में योगी आदित्यनाथ दोबारा मुख्यमंत्री बने तो मैं प्रदेश छोड़कर चला जाऊँगा। ये भी मान लूँगा कि ये राज्य मुसलमानों के रहने लायक नहीं है।” उनका यह बयान सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ था, जिसके बाद वह यूजर्स के निशाने पर आ गए थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

‘कागज़ पर नहीं, UCC को जमीन पर उतारिए’: हाईकोर्ट ने ‘तीन तलाक’ को बताया अंधविश्वास, कहा – ऐसी रूढ़िवादी प्रथाओं पर लगे लगाम

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने कहा है कि समान नागरिक संहिता (UCC) को कागजों की जगह अब जमीन पर उतारने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -